जानें कैसे होगा Covid Vaccination के लिए रजिस्ट्रेशन, हरियाणा में अब हर दिन मेगा वैक्सीनेशन डे

हरियाणा में अब हर दिन होगा कोविड वैक्सीनेशन। सांकेतिक फोटो

Covid Vaccination हरियाणा में अब हर दिन कोरोना वैक्सीनेशन होगी। इसके लिए रजिस्ट्रेशन कैसेे कराएं इसको लेकर कई लोगों को जानकारी नहीं है। जानकारी के अभाव में भी कई लोग वैक्सीनेशन के लिए आगे नहीं आ पा रहे हैं ।

Kamlesh BhattSat, 03 Apr 2021 02:23 PM (IST)

जेएनएन, चंडीगढ़। Covid Vaccination: हरियाणा में अब हर दिन मेगा वैक्सीनेशन-डे होगा। कोरोना वैक्सीनेशन के साथ ही सैंपल लेने की रफ्तार बढ़ाई जाएगी। हरियाणा मेंं करीब 60 लाख लोगों को कोरोना वैक्सीन दी जानी है, जबकि अभी तक करीब 18 लाख लोगों का ही टीकाकरण हो पाया है। इसके चलते रोजाना 45 साल से अधिक उम्र वाले एक लाख से अधिक लोगों को वैक्सीन देने का लक्ष्य रखा गया है।

टीकाकरण के लिए रजिस्ट्रेशन कैसे कराएं इसकी भी अभी कई लोगोंं को जानकारी नहीं है। इसके कारण भी कई जगह वैक्सीनेशन के लिए लोग कम पहुंच रहे हैं। आइए इस बारे में हम आपको जानकारी दे रहे हैं।  

कैसे कराएं रजिस्ट्रेशन

पहला तरीका : कोरोना वैक्सीनेशन के लिए सबसे पहले cowin.gov.in पोर्टल पर जाकर अपना रजिस्ट्रेशन कराना होगा। 45 साल से ज्यादा उम्र के लोग अपना रजिस्ट्रेशन करकर अपाइंटमेंट बुक कर सकते हैं। रजिस्ट्रेशन होने पर आपको वैक्सीन लगने की तारीख, समय और स्थान की जानकारी मिल जाएगी।

दूसरा तरीका : आनलाइन रजिस्ट्रेशन के बिना भी आप टीका लगवा सकते हैं। पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन नहीं कराने वाले व्यक्ति नजदीकी कोविड वैक्सीनेशन सेंटर पर जाकर शाम 3 बजे के बाद अपना रजिस्ट्रेशन करा कर टीका लगवा सकते हैं। कोविड वैक्सीनेशन सेंटर पर रजिस्ट्रेशन के लिए पहचान पत्र जैसे आधार कार्ड या वोटर कार्ड साथ ले जाना होगा। इसके अलावा पासपोर्ट, राशनकार्ड या फिर बैंक की पासबुक को भी पहचान पत्र के तौर पर पेश कर सकते हैं। इसके बाद आपका रजिस्ट्रेशन हो जाएगा।

ऐसे करें आनलाइन रजिस्ट्रेशन

सबसे पहले Cowin.gov.in वेबसाइट खोलें। अपना मोबाइल नंबर डालें और ओटीपी पर क्लिक करें। मोबाइल नंबर पर प्राप्त ओटीपी दर्ज करें और सत्यापित बटन पर क्लिक करें। अब, एक पंजीकरण पृष्ठ दिखाई देगा, जहां आपको फोटो आइडी का प्रकार, संख्या और अपना पूरा नाम दर्ज करना होगा। आपको लिंग और आयु भी दर्ज करना होगा। फोटो आइडी प्रूफ के रूप में ड्राइविंग लाइसेंस अथवा आधार कार्ड का उपयोग कर सकते हैं। इसके बाद रजिस्टर बटन पर क्लिक करें। एक बार रजिस्ट्रेशन होने के बाद एक पुष्टि संदेश पंजीकृत मोबाइल नंबर पर भेजा जाएगा। टीका लगवाने के लिए जाते समय आपको मेडिकल सर्टिफिकेट लेकर जाना होगा। रजिस्ट्रेशन के बाद अकाउंट विवरण प्रदर्शित होगा। एक व्यक्ति पहले दर्ज किए गए मोबाइल नंबर से जुड़े चार और लोगों को जोड़ सकता है। पंजीकृत नामों के विवरण के सामने आपको एक्शन नामक एक कालम दिखाई देगा। इसके नीचे आपको एक कैलेंडर आइकन दिखाई देगा। शेड्यूल करने के लिए उस पर क्लिक करें। आपके स्थान के आधार पर टीकाकरण केंद्रों की एक सूची दिखाई देगी। आप उनमें से किसी एक को चुन सकते हैं और फिर इन केंद्रों पर उपलब्ध टीकाकरण तिथियों को देख सकते हैं। यदि स्लाट और तारीखों के विकल्प उपलब्ध हैं तो आप अपनी सुविधानुसार एक का चयन कर सकते हैं। इसके बाद बुक विकल्प पर क्लिक करें। अब एक पेज बुकिंग का विवरण दिखेगा। यदि जानकारी सही है तो आप पुष्टि करें पर क्लिक कर सकते हैं या कुछ परिवर्तन करना हो तो बैक बटन पर क्लिक कर सकते हैं। अंत में एक अपाइंटमेंट सक्सेसफुल पेज सभी विवरण दिखाएगा। आप टीकाकरण विवरण की पुष्टि को डाउनलोड भी कर सकते हैं।

विज ने रोजाना की स्टेटस रिपोर्ट भेजने को कहा 

कोरोना के बढ़ते संक्रमण को रोकने के लिए एसओपी को भी प्रदेश सरकार सख्ती से लागू करेगी। गृह और स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने सभी उपायुक्तों और पुलिस अधीक्षकों को रोजाना स्टेटस रिपोर्ट भेजने के निर्देश दिए हैं। सभी डीसी-एसपी को अपने जिलों में लोगों को मास्क पहनने और दो गज की शारीरिक दूरी के नियम का पालन कराने के लिए जागरूकता अभियान चलाने को कहा गया है। समझाने के बावजूद जो लोग नहीं मानते, उनके धड़ाधड़ चालान किए जाएंगे।

यह भी पढ़ें: डीबीटी योजना पर केंद्र व पंजाब में ठनी, कैप्टन अमरिंदर सिंह ने योजना लागू करने से किया इन्कार, पीएम से मिलेंगे

गृह और स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने बताया कि सार्वजनिक स्थलों पर भीड़ के जमा होने पर प्रतिबंध लगाने पर विचार किया जा रहा है। सीमित संख्या में लोगों को एक जगह जमा होने की छूट दी जाएगी। उन्होंने लोगों का आह्वान किया कि बगैर पुलिस की सख्ती के ही मास्क का इस्तेमाल करें। कोविड से बचने का इलाज वैक्सीनेशन और मास्क है। सामाजिक संस्थाओं की मदद से लोगों को टीकाकरण के प्रति जागरूक किया जाएगा।

यह भी पढ़ें: पंजाब में शर्मनाक घटना, नाबालिग लड़की से आठ युवकों ने किया सामूहिक दुष्कर्म, तीन गिरफ्तार 

हरियाणा में एक्टिव केसों की संख्या करीब 11 हजार हो गई है। लगातार कोरोना संक्रमितों के मिलने से जहां रिकवरी रेट घटकर 95.37 फीसद पर पहुंच गया है, वहीं पाजिटिव रेट बढ़कर 4.67 फीसद पर पहुंच गया है। मृत्युदर 1.08 फीसद है। राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र गुरुग्राम में एक्टिव मरीजों की संख्या 2200 के पार पहुंच गई है, जबकि जीटी रोड पर पड़ते करनाल में 1500 एक्टिव केस हैं। इसी तरह अंबाला और पंचकूला में एक हजार से अधिक मरीज हैं। स्वास्थ्य मंत्री ने हाट स्पाट क्षेत्रों में विशेष चौकसी बरतने को कहा है ताकि संक्रमण की रफ्तार पर अंकुश लगाया जा सके।

यह भी पढ़ें: Weekend lockdown: पंजाब में तेजी से बढ़ रहे कोरोना के मामले, सीएम ने दिए वीकेंड लॉकडाउन के संकेत

 

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.