पेगासस मामले में हरियाणा सीएम मनोहर का कांग्रेस पर हमला, कहा- ये लोग तो अपने घर में कराते हैं फोन टेपिंग

Pegasus Spying Case हरियाणा के मुख्‍यमंत्री मनोहरलाल ने पेगासस जासूसी मामले में कांग्रेस और विपक्ष पर हमला किया है। मनोहरलाल ने कहा कि विपक्ष फोन टेपिंग के गलत आरोप लगाकर जनता के मुद्दों पर संसद में चर्चा नहीं होने दे रहा। कांग्रेस तो अपने घर में फोन टेप कराती है।

Sunil Kumar JhaWed, 21 Jul 2021 02:53 PM (IST)
पत्रकारों से बातचीत करते हरियाणा के सीएम मनोहरलाल। (जागरण)

चंडीगढ़, राज्‍य ब्‍यूरो। हरियाणा के मुख्‍यमंत्री मनोहरलाल ने पेगासस जासूसी मामले (Pegasus Spying Case) को लेकर कांग्रेस और विपक्षी दलों पर हमला किया है। मनोहरलाल ने कहा कि कांग्रेस खुद जैसी है वैसा ही दूसरे को समझती है। कांग्रेस ने जासूसी और फोन टे‍पिंग के गलत आरोप लगाकर लोगों का ध्‍यान हटाना चाहती है। संसद में किसानों, युवाओं और महिलाओं के मुद्दे पर चर्चा होनी थी, लेकिन बेवजह की मामले उठाकर उसका समय बर्बाद किया जा रहा है। कांग्रेस तो अपने घर में फोन टेपिंग कराती है।

मुख्‍यमंत्री मनोहरलाल पत्रकारों से बात कर रहे थे। इसके साथ ही सीएम ने दी प्रदेश वासियों को ईद की बधाई दी।  मनोहरलाल ने कहा कि संसद में जो कुछ हो रहा है वह चिंताजनक और ध्यान आकर्षण करने वाली है। इस बार के मानसून सत्र में इस बार किसानों , युवाओं , महिलाओं और अन्य वर्गों के लिए कई तरह की चर्चा होनी थी। उनके अधिकार क्षेत्र को बढ़ाने की चर्चा होनी थी लेकिन विपक्ष खासतौर पर कांग्रेस यही प्रयास करती है कि संसद में इन मुद्दों को उठने ही नहीं दिया जाए और संसद में इन मुद्दों पर चर्चा होने ही नहीं दिया जाए।

मनोहरलाल ने कहा कि पेगासेस के मुद्दे पर जिस तरह से जासूसी और फोन टेपिंग का इल्जाम लगाया जा रहा है वह गलत है। कांग्रेस खुद जैसी है वह दूसरों पर भी ऐसा आरोप लगाती है। यह तो अपने घर मे फोनटेप कराते हैं कांग्रेस सरकार के समय प्रणव मुखर्जी ने भी पी चिदंबरम पर अपनी जासूसी कराने के आरोप लगाए थे। 9000 लोगों की एक सूची जिनकी यूपीए सरकार के समय जासूसी होती रही।

सीएम मनोहरलाल ने कहा कि लोकतंत्र की हत्या कैसे होती है यह एमरजेंसी में हमने देखा है। न्यूक्लियर डील के समय अमर सिंह का फोन टैप कराने की बात सामने आई थी। इनका टाइमिंग बड़ा सेट होता है जब इन्हें कुछ नहीं मिलता तब यह ऐसे मुद्दे ले कर आते हैं। मोदी सरकार के कार्यकाल के आठ साल में जब कुछ नही मिला तो विदेशी सहायता लेकर इस तरह के षड्यंत्र रचते हैं। एक वामपंथी न्यूज एजेंसी के माध्यम से यह खबर लीक कराई जाती है।

उन्‍होंने कहा, हमें इनके फोन टैप करने की क्या जरूरत ज‍ब ये लोग खुले मंच पर ऐसा बोल जाते हैं जो  हास्य का विषय हो जाता है। जिन चीजों से देश की इमेज अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कम होती है उससे इन्हें बचना चाहिए। देश की जनता जानती है कि यह अंतरराष्ट्रीय एजेंसी के साथ मिलकर षड्यंत्र रचा गया है  और हम इसकी निंदा करते हैं।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.