हरियाणा सीएम मनोहरलाल ने मानी हुड्डा की सलाह, कोरोना की तीसरी लहर से निपटने को उठाए अहम कदम

हरियाणा के मुख्‍यमंत्री मनोहरलाल ने कांग्रेस नेता और पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा के महत्‍वपूर्ण सलाह को मान लिया है। उन्‍होंने कोराेना से लड़ने के लिए राज्‍य में टास्‍कफोर्स बना दिया है। इसके साथ ही सरकार कोराेना की तीसरी लहर से निपटने को व्‍यापक व्‍यवस्‍था कर रही है।

Sunil Kumar JhaMon, 14 Jun 2021 09:03 AM (IST)
हरियाणा के पूर्व मुख्‍यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा और मुख्‍यमंत्री मनोहरलाल की फाइल फोटो।

चंडीगढ़, [अनुराग अग्रवाल]। हरियाणा के मुख्‍यमंत्री मनोहरलाल ने विपक्ष के नेता और पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा के बड़ी बात मान ली है। हरियाणा सरकार ने काेरोना की तीसरी लहर से निपटने को टास्‍कफोर्स गठित कर दी है। इसके साथ ही हरियाणा सरकार ने कोरोना महामारी की पहली और दूसरी लहर से निपटने के बाद अब तीसरी लहर की चुनौती का सामना करने की पूरी तैयारी कर ली है। सरकार ने राज्य के हर अस्पताल में प्रत्येक बेड तक आक्सीजन सिलेंडर की उपलब्धता का खाका तैयार किया है।

मनोहरलाल सरकार ने स्वास्थ्य विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव राजीव अरोड़ा के नेतृत्व में एक टास्क फोर्स का गठन कर दिया, जो महामारी से निपटने के लिए पूरे इंतजाम और उपकरणों व दवाइयों की उपलब्धता पर अपनी पूरी निगाह रखेगी।

सीएम ने हुड्डा की मांग पर कोरोना की तीसरी लहर से निपटने को टास्क फोर्स बनाई

पूर्व मुख्यमंत्री एवं विपक्ष के नेता भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल को पत्र लिखकर राज्य स्तरीय टास्कफोर्स गठित करने का सुझाव दिया था। टास्कफोर्स में अधिकतर अमला वही है, जो स्वास्थ्य सुविधाओं से लगातार जुड़ा हुआ है। लेकिन, मनोहर लाल ने टास्क फोर्स का गठन कर विपक्ष से अंगुली उठाने का मौका छीन लिया है। टास्कफोर्स में मेडिकल कालेजों के प्रोफेसर, प्राइवेट सीनियर डाक्टर, इंडियन मेडिकल एसोसिएशन हरियाणा के प्रतिनिधि, स्वास्थ्य विभाग के डाक्टर और राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन हरियाणा के डाक्टर व पैरा मेडिकल स्टाफ के लोग शामिल हैं। इसका संचालन अतिरिक्त मुख्य सचिव राजीव अरोड़ा स्वयं करेंगे।

केंद्र से ही मिलेंगे इंजेक्शन, ग्लोबल टेंडर वापस, हर बेड तक पहुंचेगी आक्सीजन

केंद्र सरकार ने जब से कोरोना से बचाव के लिए वैक्सीन उपलब्ध कराने की बात कही है,  हरियाणा सरकार ने वैक्सीन खरीद के लिए दिया गया ग्लोबल टेंडर भी ड्राप कर दिया है। अब राज्य सरकार ग्लोबल स्तर पर दुनिया के किसी देश से अपने लिए वैक्सीन नहीं खरीदेगी, बल्कि केंद्र की ओर से मिलने वाली वैक्सीन से काम चलाएगी।

यह भी पढ़ें: हरियाणा में भीषण जलसंकट का खतरा, यही हाल रहा तो पानी के लिए तरसेंगे लोग

केंद्र सरकार की ओर से वैक्सीन की उपलब्धता बढ़ा दी गई है। पहले जहां 40 से 50 हजार लोगों को प्रतिदिन इंजेक्शन लगाए जा रहे थे, अब यह संख्या बढ़कर एक लाख लोगों की हो गई है। अगले कुछ दिनों में वैक्सीन सप्लाई की मात्रा बढ़ने के साथ ही इसे लगाने के काम में भी तेजी लाने की रूपरेखा तैयार की जा चुकी है।

अब रोज एक लाख लोगों का टीकाकरण, ब्लैक फंगस के इंजेक्शन राज्यों की बजाय सीधे केंद्र को देंगी कंपनियां

प्रदेश सरकार ने ब्लैक फंगस के इंजेक्शन खरीदने का विचार भी त्याग दिया है। पहले सीरम कंपनी को 15 हजार इंजेक्शन का आर्डर दिया गया था, मगर बाद में इसे इस तरह प्रचारित किया गया कि कंपनी ने इंजेक्शन देने से मना कर दिया है। वास्तविकता इसके उलट है। प्रदेश के गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज के अनुसार कोरोना और ब्लैक फंगस से बचाव के इंजेक्शन की आपूर्ति अब केंद्र आधारित है। इसलिए राज्य स्तर पर इनकी खरीद का कोई औचित्य नहीं है।

राज्य सरकार डाक्टरों व पैरामेडिकल स्टाफ के खाली पदों पर करेगी भर्तियां

सीरम कंपनी द्वारा कहा गया है कि ब्लैक फंगस के इलाज में इस्तेमाल होने वाले एंफोटेरेसिन इंजेक्शन की सप्लाई का वितरण केंद्र सरकार ने अपने हाथों में ले रखा है, इसलिए इसे राज्य विशेष को सप्लाई नहीं किया जा सकता। स्वास्थ्य सचिव राजीव अरोड़ा ने भी इसी तरह की बात कही है। इस दौरान डाक्टरों के रिक्त पदों पर नई भर्ती की प्रक्रिया भी तेज होने की संभावना है। स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने बताया कि पहली लहर के दौरान 750 डाक्टरों की भर्ती की गई थी। अब खाली पदों का ब्योरा जुटाकर इन पर भर्ती की प्रक्रिया शुरू करेंगे।

21 जून के बाद गांवों में बढ़ेगी टीकाकरण की रफ्तार

हरियाणा में 15 जून से सीरो-सर्वे आरंभ हो रहा है। स्वास्थ्य सचिव राजीव अरोड़ा के अनुसार इस बार सीरो-सर्वे में छह साल से ऊपर के बच्चों को भी शामिल किया जाएगा, ताकि यह पता लगाया जा सके कि कोरोना किस तरह से किस आयु वर्ग में वार कर रहा है। इस दौरान एंटी बाडी टेस्ट भी होंगे।

यह भी पढ़ें: हुआ खुलासा; हरियाणा में युवा क्‍याें हो रहे कोरोना के शिकार, जानें क्‍या है हैप्पी हाईपोक्सिया व साइटोकाइन स्टार्म

उन्होंने बताया कि केंद्र सरकार की ओर से 21 जून के बाद हरियाणा समेत विभिन्न राज्यों को वैक्सीन की अधिक सप्लाई मिलने की संभावना है। अभी तक 64 लाख लोगों का टीकाकरण हो चुका है। इसमें 10 लाख दूसरी डोज लेने वाले लोग शामिल हैं। 21 जून के बाद सरकार टीकाकरण अभियान को गांव दर गांव तक लेकर जाएगी।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.