पुलिस भर्ती की रफ्तार धीमी, हरियाणा में एक पुलिसकर्मी के जिम्मे 14765 लोगों की सुरक्षा

हरियाणा में पुलिस कर्मचारियों की कमी। फाइल फोटो

हरियाणा में पौने तीन करोड़ आबादी की सुरक्षा 71 हजार 152 पुलिस अधिकारियों व कर्मचारियों पर टिकी है। यानी प्रति पुलिसकर्मी पर 14 हजार 765 लोगों की सुरक्षा का जिम्मा है। हर साल रिटायर 800 पुलिसकर्मी रिटायर हो रहे हैं।

Kamlesh BhattSun, 04 Apr 2021 05:22 PM (IST)

जेएनएन, चंडीगढ़। हरियाणा की पौने तीन करोड़ आबादी की सुरक्षा 71 हजार 152 पुलिस अधिकारियों व कर्मचारियों पर टिकी है। यह पुलिसकर्मी वीआइपी ड्यूटी भी देते हैं, अदालतों में पेशी पर भी जाते हैं, सड़क दुर्घटनाएं होने की स्थिति में घायलों को लेकर अस्पताल पहुंचते हैं। सार्वजनिक चौक-चौराहों पर व्यवस्था संभालते हैं और यातायात प्रबंधन भी इन्हीं के हवाले है। इस तरह एक पुलिसकर्मी पर 14 हजार 765 लोगों की सुरक्षा का जिम्मा है।

हरियाणा में जिस अनुपात में पुलिसकर्मी रिटायर हो रहे हैं और उन पर काम का बोझ बढ़ रहा है, उस अनुपात में पुलिस महकमे में भर्तियों की गति नहीं बढ़ पा रही है। हालांकि छह साल पहले तक पुलिस बल 60 हजार के आसपास ही था, लेकिन मौजूदा सरकार ने पुलिस की भर्तियां कर नफरी 71 हजार से अधिक पर पहुंचा दी है। पुलिस विभाग में हर साल 800 अधिकारी व कर्मचारी रिटायर होते हैं, जबकि 200 पुलिस कर्मियों की अलग-अलग कारणों से मृत्यु हो जाती है। ऐसे में पुलिस भर्ती की रफ्तार काफी धीमी है।

हरियाणा सरकार ने हाल ही में साढ़े सात हजार पुलिस कर्मियों की भर्ती करने का निर्णय लिया है। यह भर्ती हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग के माध्यम से नए नियमों के आधार पर होगी। मुख्यमंत्री मनोहर लाल इस भर्ती को लेकर काफी सजग हैं। गृह मंत्री अनिल विज ने भी तीन दिन पहले पुलिस विभाग की समीक्षा बैठक में डीजीपी व गृह सचिव को भर्ती प्रक्रिया जल्द पूरी कराने के निर्देश दिए। इसके लिए अधिकारियों को आयोग के साथ संपर्क बनाने को कहा गया है।

हरियाणा सरकार पुलिस में महिला बल की संख्या भी बढ़ाने जा रही है। अभी तक 10 फीसद महिला पुलिसकर्मी कार्यरत हैं, जिसे बढ़ाकर 15 फीसद तक ले जाने का लक्ष्य सरकार ने निर्धारित किया है। गृह मंत्री विज ने कहा कि भर्ती प्रक्रिया को शीघ्र कराने के लिए वह संबंधित अधिकारियों से बात करेंगे।

विज ने अफसरों से कहा कि जन शिकायतों का निपटान टाइम बाउंड किया जाए। हरियाणा में जल्द ही इमरजेंसी रिस्पांस एंड सपोर्ट सिस्टम 112 शुरू होने जा रहा है, जिससे लोगों को आपातकालीन पुलिस व अन्य सेवाएं उपलब्ध होंगी। इसके लिए 630 नई इनोवा गाडियां खरीदी जा चुकी हैं, जिन्हें जल्द ही प्रभावी सेवाएं उपलब्ध करवाने के लिए समर्पित किया जाएगा।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.