गुरुग्राम और पंचकूला में अब नहीं लगेंगे बिजली कट, 24 घंटे बिजली सप्‍लाई, होंगे इनवर्टर फ्री शहर

हरियाणा के दो प्रमुख शहर गुरुग्राम और पंचकूला इनवर्टर फ्री हो जाए्ंगे। इन दो शहरों मे जुलाई के अंत से बिजली कट नहीं लगेंगे और बिजली की 24 घंटे आपूर्ति होगी। बिजली मंत्री रणजीत सिंह चौटाला ने कहा कि राज्‍य में खपत से ज्‍यादा बिजली उपलब्‍ध है।

Sunil Kumar JhaThu, 24 Jun 2021 08:04 PM (IST)
गुुरुगाम और पंचकूला में जल्द ही 24 घंटे बिजली मिलेगी। (फाइल फोटो)

चंडीगढ,जेएनएन। Power Supply in Gurugram: हरियाणा के दो प्रमुख शहराें गुरुग्राम और पंचकूला इनवर्टर फ्री हो जाएंगे। जुलाई के अंत से यहां 24 घंटे बिजली की आपूर्ति होगी और कोई बिजली कट नहीं लगेगा।  हरियाणा के बिजली मंत्री रंजीत चौटाला ने कहा कि जुलाई माह के अंत तक गुरुग्राम और पंचकूला जिलों को इनवर्टर फ्री कर दिया जाएगा। चौटाला के अनुसार यह दोनों जिले माडल के रूप में तैयार किए जा रहे हैं।

रणजीत सिंह चौटाला ने कहा कि इन जिलों के इनवर्टर फ्री होने के बाद राज्य के बाकी जिलों में 24 घंटे बिजली की आपूर्ति करते हुए उन्हें भी इनवर्टर फ्री किया जाएगा। बिजली मंत्री ने अधिकारियों को पृथला के गांव झांरसेतली में बनने जा रहे 66 केवी के विद्युत ट्रांसफार्मर को करीब दो सो मीटर की दूरी पर स्थानांतरित करने के निर्देश दिए।

राज्य में बिजली की खपत 11 हजार मेगावाट, उपलब्धता 12 हजार मेगावाट की

बिजली मंत्री रणजीत चौटाला ने यह जानकारी हरियाणा वेयर हाउसिंग कारपोरेशन के चेयरमैन नयनपाल रावत द्वारा उठाई गई समस्याओं का समाधान करते हुए कही। बिजली विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव पीके दास और प्रबंध निदेशक बलकार सिंह भी बातचीत में शामिल हुए। पृथला से निर्दलीय विधायक नयनपाल रावत ने अधिकारियों के सामने पलवल और फरीदाबाद जिलों में 24 घंटे बिजली आपूर्ति करने का मुद्दा उठाया। रावत ने खेतों में नीचे तक लटकी तारें बदलवाने, गांवों में बिजली का शेड्यूल किसानों के अनुकूल करने तथा टूटे हुए खंभे व तारें बदलवाने की मांग रखी।

 चेयरमैन नयनपाल रावत ने बिजली मंत्री के समक्ष उठाई किसानों व ग्रामीणों की समस्या

बिजली मंत्री ने क्षेत्रीय समस्याओं के समाधान के बाद कहा कि राज्य के पास बिजली की कोई कमी नहीं है। प्रदेश में 12 हजार मेगावाट बिजली की उपलब्धता है, जबकि खपत आज तक 11 हजार मेगावाट से अधिक कभी नहीं पहुंची। राज्य के 6800 गांवों में से 5300 में 24 घंटे बिजली दी जा रही है।

उन्‍होंने कहा कि कई गांव ऐसे भी हैं, जहां 16-16 घंटे बिजली की आपूर्ति हो रही है। कुछ गांव अभी भी बिजली के बिल नहीं भर रहे। उन्हें प्रेरित करने के लिए हमने बिजली पंचायतें लगाने की परंपरा शुरू की है। लोगों को बिजली के बिल भरने को कहा जा रहा है। प्रदेश सरकार का लक्ष्य राज्य के हर गांव में 24 घंटे बिजली सप्लाई करने का है।

रणजीत चौटाला ने बताया कि प्रदेश का लाइन लास 31 प्रतिशत से घटकर 16 प्रतिशत पर आ चुका है। दो प्रतिशत लाइन लास और कम करने का लक्ष्य है। दो प्रतिशत लाइन लास घटने से हर साल करीब 1500 करोड़ रुपये की बचत होती है। उन्होंने बताया कि गुरुग्राम व फरीदाबाद इंडस्ट्रीयल हब बन रहे हैं। पंचकूला इसकी ओर अग्रसर है।

 उन्‍होंने कहा कि प्रदेश सरकार जुलाई माह के अंत तक गुरुग्राम व पंचकूला को इनवर्टर फ्री जिले बनाते हुए वहां 24 घंटे बिजली की सप्लाई करेगी। नीति आयोग ने भी हरियाणा की बिजली उत्पादन, लाइन लास घटाने तथा समुचित आपूर्ति के लिए तारीफ की है। राज्य की बिजली कंपनियां हर साल करीब 30 हजार करोड़ रुपये की खरीद करती हैं, जिन्हें जनहित में इस्तेमाल किया जाता है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.