बिजली रेट घटे तो हुड्डा ने किया नया वादा, कर्मचारियों को देंगे पंजाब से अधिक वेतन-भत्ते

जेएनएन, चंडीगढ़। हरियाणा की मनोहरलाल सरकार द्वारा बिजली की दरें घटाने के बाद अब पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कर्मचारियों की ओर रुख किया है। उन्‍होंने अगलेे साल चुनाव में कांग्रेस की जीत होने पर अपनी सरकार बनने के बाद राज्‍य के कर्मचारियों को पंजाब से अधिक वेतन व भत्‍ता देने का वादा किया है। इसके साथ ही उन्‍होंने बिजली दरों में कमी को अपर्याप्‍त बताते हुए अपनी सरकार बनने पर इसमें और कमी करने की बात कही है। इस तरह उन्‍होंने कर्मचारियों व बिजली उपभोक्ताओं पर दांव खेला है।

कहा- बिजली के दाम आधे करेंगे, एक माह का आएगा कांग्रेस की सरकार में बिल

उन्होंने कहा कि कांग्रेस की सरकार बनने पर कर्मचारियों को पंजाब के अधिक वेतनमान एवं भत्ते दिए जाएंगे। मनोहर सरकार द्वारा बिजली के रेट कम करने पर सवाल उठाते हुए हुड्डा ने कहा कि कांग्रेस की सरकार बनने पर बिजली के रेट आधे किए जाएंगे तथा मासिक आधार पर बिल सिस्टम लागू किया जाएगा।

विधानसभा के मानसून सत्र के बाद चंडीगढ़ में अपने आवास पर पत्रकारों से बातचीत करते हुए हुड्डा ने कहा कि भाजपा सरकार ने बिजली के रेट में जो कटौती की है, उससे उपभोक्ताओं को कोई राहत नहीं मिलेगी। 2014 से अब तक 35 प्रतिशत बिजली के रेट बढ़ाए गए, लेकिन अब दर केवल 26 प्रतिशत घटाए गए हैं।

हुड्डा ने कहा कि सरकार अगर आम लोगों को राहत देना चाहती है तो 2014 के टैरिफ वाली दरों को लागू करे। उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस की सरकार बनने पर बिजली खपत के सभी स्लैब के रेट आधे किए जाएं। हमारी सरकार ने किसानों के बिजली के रेट घटाकर 10 पैसे प्रति यूनिट किए थे।

उन्‍होंने प्रदर्शन कर रहे कर्मचारियों और विद्यार्थियों पर लाठीचार्ज की निंदा की।  हुड्डा ने कहा कि लाठी व गोली के दम पर किसी की आवाज नहीं दबाई जा सकती। भाजपा ने अपने चुनाव घोषणा पत्र में कर्मचारियों से कई वादे किए थे। कर्मचारी उन वादों को पूरा करने की मांग कर रहे हैैं। उन्होंने विपक्षी दल इनेलो की भूमिका पर सवाल उठाते हुए कहा कि जनता की आवाज उठाने की बजाय इनेलो अब भाजपा का मुख्य सहयोगी दल बना हुआ है।

चौटाला ने विपक्ष के नेता का पद कलंकित किया

हुड्डा ने कहा कि विधानसभा में गरीबों एवं दलितों का साथ देने की बजाय अभय चौटाला ने साफ कर दिया है कि इनेलो, भाजपा की 'दूसरी' टीम है। विपक्ष के नेता ने सदन में जूता लहरा कर और भद्दी गालियां देकर विपक्ष के नेता पद को कलंकित किया है। उन्होंने बताया कि जनक्रांति रथयात्रा का छठा चरण अब 17 सितंबर से फिर शुरू होगा। इस दिन शाहबाद, 18 को लाडवा और 19 सितंबर को थानेसर में रथयात्रा निकलेगी।

जींद में भाजपा की हार होनी तय

इनेलो विधायक डॉ. हरिचंद मिढ्ढा के निधन के बाद जींद में बने उपचुनाव के हालात पर हुड्डा ने कहा कि यहां भाजपा की हार तय है। हुड्डा ने कहा कि डॉ. हरिचंद मिढ्ढा चार साल तक मांग उठाते रहे, लेकिन भाजपा सरकार ने उनके जीते जी एक भी मांग को पूरा नहीं किया। अब उनके देहावसान के बाद उनकी मांगों काे पूरा करने की बात कर लोगों को गुमराह करने की कोशिश की जा रही है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.