जीरकपुर में अवैध कब्जों की सीएम से की शिकायत

जीरकपुर में अवैध कब्जों की सीएम से की शिकायत

डेराबस्सी सबडिवीजन के अधीन आते जीरकपुर शहर के लोगों ने सड़कों पर कब्जों की शिकायत पंजाब के मुख्यमंत्री से की है।

JagranSun, 17 Jan 2021 06:52 AM (IST)

जागरण संवाददाता, मोहाली (जीरकपुर) : डेराबस्सी सबडिवीजन के अधीन आते जीरकपुर शहर के लोगों ने सड़कों पर कब्जों की शिकायत पंजाब के मुख्यमंत्री से की है। लोगों का जिला प्रशासन के अधिकारियों से भरोसा उठ गया है, इसलिए मामला मुख्यमंत्री के दरबार में पहुंचा है। मुख्यमंत्री कार्यालय से 15 दिन में कार्रवाई कर रिपोर्ट सौंपने के निर्देश नगर परिषद अधिकारियों को दिए गए हैं। वीआइपी रोड पर सड़क तक स्टाल लगाने का लालच देकर दोगुने किराए पर शोरूम दिए जाते हैं। सड़क तक स्टाल लगे होने की वजह से आवाजाही करने वालों को परेशान होना पड़ता है। ज्यादा परेशानी निर्मल छाया सोसायटी से डामिनोज चौक और देवा जी प्लाजा मार्केट में होती है, क्योंकि मार्ग के दोनों ओर स्टाल लगाने वालों ने कब्जा जमा रखा है। इन स्टाल्स की वजह से लोग अपने वाहन सड़क पर ही खड़े कर देते हैं। वहीं, बलटाना फर्नीचर मार्केट में दुकानदार अपना सामान मार्ग तक फैलाकर रखते हैं। ऐसी स्थिति में 60 फुट चौड़ी सड़क 15 से 20 फुट में तब्दील हो जाती है। वहीं, दुकानदार अपने वाहन सड़क तक फैले सामान के आगे खड़े कर देते हैं, जो ट्रैफिक जाम का कारण बनते हैं। अधिकतर दुकानदार वाहनों को सड़क किनारे ही पार्क करके रखते हैं, जिससे ग्राहकों को वाहन खड़ा करने के लिए सडक़ के अलावा कोई जगह नहीं बचती है। यह समस्या कलगीधर मार्केट से लेकर फर्नीचर मार्केट के अंत पर स्थित तक एक साइकिल स्टोर तक है। ज्यादा भयावह स्थिति ढकोली की गुरु नानक एनक्लेव कालोनी की है। यहां दुकानदार लोगों से पैसे लेकर पार्किंग एरिया में रेहडि़यां खड़ी करवा रहे हैं। गुरु नानक एंक्लेव कालोनी के चार नंबर गेट से पाइन होम सोसाइटी तक दुकानदारों ने दुकानों के आगे रेहड़ियां लगवा रखी हैं।

कोट्स

मुख्यमंत्री कार्यालय से प्राप्त निर्देशों के बाद अतिक्रमण विग के अधिकारियों को कार्रवाई करने के आदेश दिए गए हैं। जल्द ही कब्जे हटा दिए जाएंगे, ताकि लोगों को परेशानी न हो।

संदीप तिवारी, कार्यकारी अधिकारी, नगर परिषद।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.