प्रतिबंधित पशु का मांस बेचने जा रहे तस्करों ने पुलिस टीम पर किया हमला

बहीन थाना क्षेत्र के गांव खाइका में गोकशी की सूचना पर पहुंची बहीन पुलिस पर तस्करों ने हमला कर दिया। आरोप है कि तस्करों ने पुलिस टीम पर पत्थरबाजी व फायर करके तीन पुलिस कर्मियों को घायल कर दिया। कई अन्य पुलिसकर्मियों को भी मामूली चोटें आई हैं।

JagranThu, 02 Dec 2021 07:46 PM (IST)
प्रतिबंधित पशु का मांस बेचने जा रहे तस्करों ने पुलिस टीम पर किया हमला

संवाद सहयोगी, हथीन: बहीन थाना क्षेत्र के गांव खाइका में गोकशी की सूचना पर पहुंची बहीन पुलिस पर तस्करों ने हमला कर दिया। आरोप है कि तस्करों ने पुलिस टीम पर पत्थरबाजी व फायर करके तीन पुलिस कर्मियों को घायल कर दिया। कई अन्य पुलिसकर्मियों को भी मामूली चोटें आई हैं। पुलिस मौके से प्रतिबंधित पशु के मांस को अपने साथ ले आई। पुलिस ने पीएसआइ संजय की शिकायत पर 21 नामजद लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है, इनमें कई महिलाएं भी शामिल हैं।

बृहस्पतिवार सुबह करीब पांच बजे बहीन पुलिस को सूचना मिली कि खाइका गांव के जंगल में दो प्रतिबंधित पशुओं को काटकर रफीक व उसके साथी बाइकों पर मांस लादकरगांव में बेचने के लिए ला रहे हैं। सूचना के आधार पर बहीन पुलिस खाइका गांव में मौके पर पहुंची। थाना प्रभारी धर्म चंद ने बताया कि पुलिस जैसे की प्रतिबंधित पशु के मांस को अपने कब्जे में लेकर चली तो वहां रफीक, साकिर, जाहिद, अफसाना, ताहिर, नयामत, जाकिर, रफीक, हफसीना, इरफाना, अफसाना, जाकिर, रुकमुद्दीन, तौफिक संजीदा, नजराना व दर्जनों अन्य लोगों ने पत्थरबाजी करके पुलिस पर हमला कर दिया। इतना ही नहीं कुछ आरोपितों की तरफ से पुलिस पर फायर भी किए गए। पुलिस पर किए गए हमले में एसपीओ राजकुमार, महेश, कल्लन को चोटें आई हैं। इसके अलावा खुद थाना प्रभारी धर्मचंद व अन्य स्टाफ को भी मामूली चोटें आई हैं। पुलिस ने उपरोक्त लोगों के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया है। 21 नामजद सहित दर्जन भर अन्य लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। आरोपितों को पकड़ने के लिए दबिश दी जा रही है। किसी भी कीमत पर आरोपितों को बक्सा नहीं जाएगा।

-धर्म चंद , थाना प्रभारी बहीन

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.