Coroanvirus: नूंह में बढ़ी कोरोना मरीजों की सख्या, एक और मरीज आया सामने

Coroanvirus: नूंह में बढ़ी कोरोना मरीजों की सख्या, एक और मरीज आया सामने

Coroanvirus हरियाणा के नूंह जिले में कोरोना संक्रमण का एक और मरीज रविवार को सामने आया। इसके साथ जिले में मरीजों की संख्या बढ़कर 45 हो गई है।

Publish Date:Sun, 12 Apr 2020 05:05 PM (IST) Author: Mangal Yadav

नूंह, जागरण संवाददाता। हरियाणा के नूंह जिले में कोरोना संक्रमण का रविवार को एक और मामला सामने आया। इसके साथ ही जिले में कोरोना मरीजों की संख्या बढ़कर 45 हो गई है। जिले में 1579 लोग निगरानी में थे जिनमें 275 मरीजों ने अपना निगरानी पीरियड पूरा कर लिया है। अभी भी क्वारंटाइन केंद्रों पर 1304 लोग हैं। जिले से 690 लोगों को सैंपल जांच के लिए भेजे गए, जिनमें 506 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आई है।

अब तक जिले में कुल 45 मरीज कोरोना पाजिटिव पाए गये हैं। जिनका इलाज आइसोलेशन वार्ड में जारी है। 139 लोगों के रिपोर्ट अभी आनी बाकी है।

नूंह में मिले 6 और कोरोना संक्रमित मरीज

इससे पहले जिले में शनिवार को और छह कोरोना संक्रमित मरीज पाए गए थे। उप सिविल सर्जन एवं नोडल अधिकारी कोरोना डॉ. अरविंद ने बताया कि जिले में अब तक 1507 लोगों को क्वारंटाइन में रखा गया था, जिसमें से 254 लोगों की मियाद पूरी हो चुकी है। 1253 लोग क्वारंटाइन में हैं। अधिकारी की मानें तो अबतक 618 लोगों के रक्त के नमूने रोहतक पीजीआइ में जांच के लिए भेजे हैं, इसमें 451 की रिपोर्ट निगेटिव और 44 पॉजिटिव आ चुके हैं। वहीं, कोरोना संक्रमित को फैलने से रोकने के लिए जिले के 36 गांव (2 शहर सहित) कंटेनमेंट जोन घोषित किए जा चुके हैं।

नूंह में योद्धाओं को सीएम मनोहरलाल ने सराहा

प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रहे जिले के योद्धाओं की जमकर सराहना की। साथ ही कोरोना के योद्धाओं के साथ खड़े रहने की बात कही। इसकी जानकारी उपायुक्त पंकज कुमार ने दी। शनिवार को वह जिला सचिवालय में आयोजित पत्रकार वार्ता में बोल रहे थे। उपायुक्त ने कहा कि मुख्यमंत्री व सरकार इस मुश्किल घड़ी में नूंह की जनता के साथ खड़े हैं। उन्होंने जिले में डॉक्टर, नर्स, पैरामेडिकल स्टाफ, सफाई कर्मचारी, राजस्व विभाग के अधिकारी व कर्मचारी, पुलिस व होम डिलीवरी के कार्य में जुटे लोगों के

कोरोना के खिलाफ लड़ रहे सभी लोगों की काफी प्रशंसा की। कहा सभी के प्रयास और एकजुटता से ही कोरोना से निपटा जा सकता है। एकजुट होकर काम करने से ही संक्रमण को फैलने से कुछ हद तक रोकने में सफलता मिली है। लेकिन संकट खत्म नहीं हुआ है। अभी और कड़े संघर्ष, मेहनत की जरुरत है। तभी इस बीमारी को खत्म किया जा सकता है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.