बंदरों के आतंक से परेशान हैं महेंद्रगढ़ शहरवासी

बंदरों के आतंक से परेशान हैं महेंद्रगढ़ शहरवासी
Publish Date:Fri, 23 Oct 2020 03:12 PM (IST) Author: Jagran

संवाद सूत्र, महेंद्रगढ़: शहर में पिछले कुछ दिनों से बंदरों ने आतंक मचाया हुआ है। इसकी वजह से शहर का आम आदमी परेशान है। इस संबंध में शहर के लोगों ने प्रशासन को भी अपनी शिकायत दर्ज करवाई हुई है। साथ ही नगरपालिका प्रशासन से भी गुहार लगा चुके हैं। लेकिन प्रशासन का ध्यान इस ओर नहीं गया है। इसकी वजह से शहर में बंदरों के आतंक की वजह से लोगों में भय व्याप्त है। शहर का ऐसा कोई भी वार्ड नहीं बचा है, जिसमें बंदरों ने आतंक ना मचा रखा हो। एक अनुमान के मुताबिक वर्तमान में शहर में लगभग 1 हजार से 1500 के करीब बंदरों ने अपना ठिकाना बनाया हुआ है। मोदाश्रम मंदिर में जाने वाले भक्तों को बंदरों ने कई बार परेशान किया है। प्रधान बचन सिंह यादव ने बताया कि उनकी संस्था ने निजी कोष से मोदाश्रम मंदिर में कुछ बंदरों को पकड़वाने का काम किया है, कितु शहर के अन्य मोहल्लों जैसे करेलिया बाजार, मोहल्ला सैनीपुरा, सब्जी मंडी,चौक मोहल्ला ,बालूना, नीमड़ी नीचे, पड़ाव,गोशाला रोड, एवं अन्य मोहल्लों एवं शहर की पाश कॉलोनियों में भी बंदरों ने आतंक मचाया हुआ है। एक पार्षद ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि किन लोगों एवं सभी पार्षदों व प्रशासन में एक वहम एवं अवधारणा है कि अगर किसी ने भी इन बंदरों को पकड़वाने का काम किया है, वह अगली बार न तो पार्षद बना और ना ही पालिका का प्रधान बना। इस वहम की वजह से कोई भी अधिकारी एवं पार्षद इसके लिए कोई ठोस कदम नहीं उठा पा रहा है। लोगों की प्रशासन से अपील है कि शहर को बंदरों के आतंक से मुक्ति दिलाई जाए एवं प्रशासन निसंकोच इस पर तुरंत कार्रवाई करें। वर्जन -------

बंदरों को पकड़वाने के लिए प्रयासरत हैं, कितु नगर पालिका में एमई का पद खाली है, जिसकी वजह से टेंडर नहीं लग पा रहे हैं। शीघ्र ही टेंडर लगवा कर इन बंदरों को पकड़वा कर किसी उचित स्थान पर छुड़वा देंगे और शहर को बंदरों से मुक्त करवाएंगे।

-- रीना बंटी, नगरपालिका की चेयरपर्सन।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.