महाराणा प्रताप किसी एक बिरादरी के नहीं भारत के लाल थे: मूलचंद शर्मा

हरियाणा के परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा ने कहा कि महाराणा प्रताप किसी एक बिरादरी के नहीं थे। वे भारत के लाल थे। उनका नाम पूरी दुनिया में सम्मान के साथ लिया जाता है।

JagranFri, 12 Nov 2021 05:30 PM (IST)
महाराणा प्रताप किसी एक बिरादरी के नहीं भारत के लाल थे: मूलचंद शर्मा

संवाद सहयोगी, महेंद्रगढ़ :

हरियाणा के परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा ने कहा कि महाराणा प्रताप किसी एक बिरादरी के नहीं थे। वे भारत के लाल थे। उनका नाम पूरी दुनिया में सम्मान के साथ लिया जाता है। जिन्होंने लंबे समय तक मुगलों के साथ लड़ाई लड़कर इस देश को बचाया है। शर्मा शुक्रवार को वीर शिरोमणि महाराणा प्रताप स्मृति दिवस पर महाराणा प्रताप सामुदायिक भवन सतनाली में आयोजित कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। इस मौके पर परिवहन मंत्री ने सामुदायिक केंद्र के लिए 21 लाख रुपये देने की घोषणा की। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए शर्मा ने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल के नेतृत्व में प्रदेश की यह पहली सरकार है जिसने ईमानदारी से अपना फर्ज निभाया है। सरकार ने महाराणा प्रताप के सपने को साकार करने का काम किया है जिसमें सभी बिरादरी को एक समान अवसर दिया है। उन्होंने कहा कि जो लोग किसानों के नाम पर राजनीति कर रहे हैं उन्होंने अपने शासनकाल में मुआवजा के नाम पर किसानों के साथ मजाक किया था। हरियाणा व केंद्र सरकार किसानों की सच्ची हितेषी है। परिवहन मंत्री ने कहा कि पहले की सरकारों में सरपंच व नंबरदार के बेटे लगते थे। पर्ची और खर्ची का जमाना था। मनोहर लाल के नेतृत्व में हरियाणा सरकार ने मेरिट के आधार पर नौकरी देने का काम किया है। अब गरीब से गरीब घर के बच्चे अच्छे पदों पर भर्ती हो रहे हैं। हरियाणा प्रदेश के युवाओं में शिक्षा के प्रति भरोसा जगा है। इस मौके पर नागरिकों की ओर से सतनाली कालेज के लिए स्पेशल बस चलाने की मांग रखी गई जिस पर परिवहन मंत्री ने कल से ही बस चलाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ के नारे के अनुसार कार्य कर रही है। प्रदेश में 150 बसें बेटियों के लिए चलाई गई है जिनके माध्यम से वे अपने शैक्षणिक संस्थाओं तक आसानी से पहुंच रही हैं। इस मौके पर पूर्व शिक्षा मंत्री रामबिलास शर्मा ने महाराणा प्रताप को नमन करते हुए कहा कि दुनिया के सबसे वीर योद्धा थे। उन्हें गुलामी स्वीकार नहीं थी। उनकी याद में बन रहा यह सामुदायिक भवन इस इलाके के लिए एक बहुत बड़ा तोहफा होगा। शर्मा ने कहा कि कहा कि महेंद्रगढ़ हलके के विकास में कोई कमी नहीं आने देंगे। अभी भी वे इस इलाके के चौकीदार हैं। मुख्यमंत्री की इस इलाके पर विशेष मेहरबानी है। उनके साथ मिलकर सभी अधूरे कार्यो को पूरा करवाएंगे। उन्होंने विपक्षियों पर तंज कसते हुए कहा कि पर्यटक आते हैं और उड़ान भर जाते हैं। उन्हें इलाके के विकास से कोई लेना देना नहीं होता। उन्होंने कहा कि मनोहर लाल के नेतृत्व में प्रदेश का चहुंमुखी विकास हुआ है। सतनाली एक ऐसा गांव है जहां सबसे पहले सीवर लाइन बिछाने का काम किया है। आगे भी इसी प्रकार पूरी ईमानदारी व निष्ठा के साथ कार्य करेंगे। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए भिवानी-महेंद्रगढ़ के सांसद चौधरी धर्मवीर सिंह ने कहा कि हर भारतीय अपने आप को महाराणा प्रताप से जोड़ने की बात करता है। राजा तो बहुत हुए लेकिन महाराणा जैसा कोई नहीं हुआ। उन्हीं की बदौलत आज देश सुरक्षित है। उन्होंने हलके के लोगों से आह्वान किया कि वे भविष्य में एकजुट होकर ऐसे नेता का साथ दें। उन्होंने कहा कि इलाका व प्रदेश में बड़ी मुश्किल से कोई नेता पैदा होता है। हमारी आपसी नाराजगी में उस नेता का नहीं बल्कि अपना नुकसान कर बैठते हैं। भविष्य में अपने नेतृत्व को कभी भी कमजोर न पड़ने दें। इस मौके पर करणी सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष सुखदेव सिंह, डा. राजेंद्र सिंह, भाजपा जिला अध्यक्ष राकेश शर्मा एडवोकेट, पूर्व विधायक राधेश्याम शर्मा, शिव कुमार मेहता, दयाराम यादव, रमेश तवर, सरला यादव, भागीरथ सिंह, बलबीर सिंह शेखावत, ललित एडवोकेट, लीला साहब, चंद्रकला यादव एडवोकेट, मोनिका नागर, पवन शेखावत एडवोकेट, दीवान सिंह शेखावत तथा मनवीर सहित अनेकों लोग मौजूद थे।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.