विश्वविद्यालय की प्रगति का आइना है न्यूजलेटर: प्रो. टंकेश्वर कुमार

हरियाणा केंद्रीय विश्वविद्यालय महेंद्रगढ़ के कुलपति प्रो. टंकेश्वर कुमार ने बृहस्पतिवार को त्रैमासिक जुलाई-सितंबर 2021 न्यूजलेटर का विमोचन किया।

JagranPublish:Thu, 02 Dec 2021 07:49 PM (IST) Updated:Thu, 02 Dec 2021 07:49 PM (IST)
विश्वविद्यालय की प्रगति का आइना है न्यूजलेटर: प्रो. टंकेश्वर कुमार
विश्वविद्यालय की प्रगति का आइना है न्यूजलेटर: प्रो. टंकेश्वर कुमार

संवाद सहयोगी, महेंद्रगढ़ :

हरियाणा केंद्रीय विश्वविद्यालय महेंद्रगढ़ के कुलपति प्रो. टंकेश्वर कुमार ने बृहस्पतिवार को त्रैमासिक जुलाई-सितंबर 2021 न्यूजलेटर का विमोचन किया। इस अवसर पर कुलपति ने कहा कि न्यूजलेटर विश्वविद्यालय से जुड़ी विभिन्न गतिविधियों व इसकी प्रगति का आइना है। उन्होंने इस न्यूजलेटर को तैयार करने वाले संपादकीय मंडल को बधाई दी और कहा कि अवश्य ही इसके माध्यम से संवाद की एक परम्परा स्थापित होगी, जिससे विश्वविद्यालय के सभी सहभागी लाभान्वित होंगे। प्रो. टंकेश्वर ने विश्वविद्यालय के त्रैमासिक न्यूजलेटर के विमोचन के अवसर पर कहा कि इस प्रयास से आनलाइन व आफलाइन माध्यम से विश्वविद्यालय की विभिन्न गतिविधियों की जानकारी पाठकों तक पहुँचेगी। उन्होंने कहा कि इस दस्तावेज के माध्यम से विश्वविद्यालय में जारी विभिन्न अकादमिक गतिविधियों के साथ-साथ शोध नवाचार व विश्वविद्यालय के सामाजिक सरोकारों से भी जन-जन अवगत होगा। विमोचन के अवसर पर उपस्थित विश्वविद्यालय की कुलसचिव प्रो. सारिका शर्मा व परीक्षा नियंत्रक डा. विपुल यादव ने भी सम्पादकीय टीम को शुभकामनाएं दी और उनके प्रयासों की सराहना करते हुए इसे एक उपयोगी दस्तावेज बताया।

इस न्यूजलेटर की संपादकीय टीम में बतौर मुख्य संपादक प्रो. टंकेश्वर के साथ सदस्य के रूप में अंग्रेजी एवं विदेशी भाषा विभाग के सहायक आचार्य डा. मनोज कुमार, पत्रकारिता एवं जनसंचार विभाग की सहायक आचार्य डा. भारती बतरा एवं प्रिटिग व पैकेजिग टेक्नोलाजी विभाग के सहायक आचार्य डा. अनिल कुंडु शामिल हैं। संपादकीय टीम ने बताया कि जुलाई से सितंबर 2021 के इस त्रैमासिक संस्करण में विश्वविद्यालय में संपन्न विभिन्न गतिविधियों का संकलन प्रस्तुत किया गया है। इस अंक में आजादी का अमृत महोत्सव, स्वच्छता पखवाड़ा, हिन्दी पखवाड़ा, राष्ट्रीय शिक्षा नीति, ट्रेनिग एवं प्लेसमेंट, विश्वविद्यालय द्वारा अन्य शैक्षणिक संस्थानों के साथ संपन्न समझौता ज्ञापन, शोध एवं प्रकाशन व शोध प्रमोशन बोर्ड के सुझाव आदि गतिविधियों को समाहित किया गया है।