ट्रैक्टर एजेंसी संचालक से दुखी किसान चढ़ा मोबाइल टावर पर, नौ घंटे तक चला हाई वोल्टेज ड्रामा

ट्रैक्टर एजेंसी संचालक से दुखी किसान चढ़ा मोबाइल टावर पर, नौ घंटे तक चला हाई वोल्टेज ड्रामा

लोन को लेकर हुए विवाद के बाद किसान सुबह करीब छह बजे गांव स्थित मोबाइल टावर पर चढ़ गया। नौ घंटे के बाद किसी तरह उसे समझा बुझा कर नीचे उतरा गया।

Prateek KumarMon, 17 Aug 2020 07:34 PM (IST)

नांगल चौधरी [बलवान शर्मा]। गांव धौलेड़ा का एक किसान एक ट्रैक्टर एजेंसी संचालक की मनमानी से दुखी होकर सुबह करीब छह बजे गांव स्थित मोबाइल टावर पर चढ़ गया। सूचना पाकर नांगल चौधरी थाना इंचार्ज राजकरण मौके पर पहुंचे। किसान को टावर से नीचे उतरने के लिए काफी समझाया, लेकिन पीड़ित ने समस्या समाधान नहीं होने तक टावर से उतरने पर इंकार कर दिया। इसके बाद थाना इंचार्ज ने मामले से एसपी को अवगत करवाया। जिस पर दोपहर करीब एक बजे सीटीएम लक्ष्मीनारायण व डीएसपी राजसिंह मौके पर पहुंचे। उन्होंने किसान को मोबाइल पर काफी समझाया, लेकिन किसान ने समस्या समाधान का मोबाइल पर मैसेज भेजने पर ही टावर से उतरने की बात कही। बाद में अधिकारियों द्वारा बार-बार समस्या समाधान के लिए आश्वस्त करने पर पीड़ित किसान शाम सवा तीन बजे टावर से नीचे उतर गया।

टैक्टर के लोन पर विवाद

पीड़ित किसान हरिचंद ने बताया कि उसने नारनौल स्थित एक एजेंसी से ट्रैक्टर लिया था। जिस पर लोन था। उसने करीब छह से सात किस्त भर दी। इसके बाद वह किस्त भरने में असमर्थ होने पर ट्रैक्टर को एजेंसी में खड़ा कर आया। उसका दावा है कि शेष किस्त एजेंसी द्वारा भरने की सहमति बनी थी। पीड़ित ने बताया कि एजेंसी संचालकों ने ट्रैक्टर दूसरी पार्टी को बेच दिया। इसके बाद तीसरी पार्टी के पास चला गया, लेकिन ट्रैक्टर का लोन ज्यों का त्यों खड़ा रहा।

किसान क्रेडिट कार्ड बनवाने के लिए दौरान हुआ खुलासा

जब वह किसान क्रेडिट कार्ड बनवाने के लिए बैंक पहुंचा तो उसे लोन क्लियर नहीं होने की जानकारी मिली। इस के बाद वह एजेंसी संचालकों के पास गया, लेकिन उन्होंने उससे सीधे मुंह बात तक नहीं की। गत सप्ताह बैंक से नोटिस आने शुरू हो गए। इससे मजबूर होकर उसे टावर पर चढ़ना पड़ा। बाद में मौके पर पहुंचे सीटीएम लक्ष्मीनारायण व डीएसपी राजसिंह पीड़ित को समस्या समाधान का भरोसा दिलाया।

नौ घंटे बाद टावर उतरा किसान

किसान नौ घंटे बाद टावर से उतर गया। इस संबंध थाना इंचार्ज राजकरण ने बताया कि नारनौल एक एजेंसी में ट्रैक्टर खड़ा करने के बाद भी लोन निरस्त नहीं होने व किसान क्रेडिट कार्ड नहीं बनने से दुखी होकर किसान मोबाइल टावर पर चढ़ गया था। पीड़ित की समस्या का जल्द ही समाधान करवाया दिया जाएगा।

Coronavirus: निश्चिंत रहें पूरी तरह सुरक्षित है आपका अखबार, पढ़ें- विशेषज्ञों की राय व देखें- वीडियो

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.