नारनौल महिला कॉलेज में कथित घोटाले की जांच शुरू, प्रोफेसर ने की थी सीएम से शिकायत

नारनौल महिला कॉलेज में कथित घोटाले की जांच शुरू, प्रोफेसर ने की थी सीएम से शिकायत

आरोप है कि कॉलेज खेल मैदान में मिट्टी डालने के लिए पूर्व प्राचार्य ने ट्रैक्टर का जो नंबर दर्शाया है वह असल में एक मोटरसाइकिल का है।

Mangal YadavWed, 02 Sep 2020 04:31 PM (IST)

नारनौल [बलवान शर्मा]। स्थानीय महिला कॉलेज के खेल सामान में 52 लाख रुपये के कथित घोटाले की जांच के लिए उच्चतर शिक्षा विभाग के निदेशालय की टीम बुधवार को नारनौल पहुंची। इस टीम में डीएचई (उच्चतर शिक्षा निदेशालय) के लेखा अधिकारी हरजीत सिंह हंस व जसबीर सिंह पहुंचे। दोनों अधिकारियों ने कॉलेज प्रशासन से खेल से संबंधित सामान का रिकार्ड लेकर फिजिकल वेरीफिकेशन भी की। यह टीम द्वितीय चरण की जांच के लिए पहुंची है।

इस संबंध में प्रो. डॉ. पवन शर्मा ने उच्चतर शिक्षा निदेशालय व मुख्यमंत्री को शिकायत की थी और आरोप लगाया था कि कॉलेज  में 52 लाख रुपये खेल सामान व अन्य गतिविधियों में बड़ा घोटाला किया गया है। हालांकि कॉलेज  जुड़े कुछ प्रोफेसर ने दावा किया कि जितने बड़े आरोप लगाए जा रहे हैं, वास्तव में ऐसा नहीं है। उन्होंने यह भी दावा किया कि जानबूझ कर कॉलेज को बदनाम करने के लिए कुछ लोग इस तरह के आरोप लगा रहे हैं।

मिट्टी डालने के लिए मोटरसाइकिल का नंबर ट्रैक्टर की जगह दर्शाया

आरोप है कि कॉलेज खेल मैदान में मिट्टी डालने के लिए पूर्व प्राचार्य ने ट्रैक्टर का जो नंबर दर्शाया है, वह असल में एक मोटरसाइकिल का है। यह जांच में भी पकड़ में आ चुका है। डॉ. पवन शर्मा ने दावा किया कि बड़े स्तर पर घोटाला किया गया है।

मीडिया से रूबरू नहीं हुए जांच अधिकारी

डीएचई की तरफ से आए अधिकारियों ने मीडिया से रूबरू होने से इनकार कर दिया। उन्होंने कहा कि अभी जांच चल रही है और इस बारे में कुछ भी नहीं कहा जा सकता है। वहीं, राजकीय महिला कॉलेज की प्राचार्या सुषमा यादव ने कहा कि मैने अभी कार्यभार संभाला है। मामले की जांच चल रही है। फिलहाल इस मामले में मैं कुछ भी नहीं बता सकती हूं। फिलहाल कथित घोटाले की जांच के बाद ही हकीकत सामने आ सकेगी। जिसका अभी इंतजार करना पड़ेगा। 

Coronavirus: निश्चिंत रहें पूरी तरह सुरक्षित है आपका अखबार, पढ़ें- विशेषज्ञों की राय व देखें- वीडियो

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.