top menutop menutop menu

जय श्रीराम के जयकारों से क्षेत्र हुआ गुंजायमान

जय श्रीराम के जयकारों से क्षेत्र हुआ गुंजायमान
Publish Date:Wed, 05 Aug 2020 06:32 PM (IST) Author: Jagran

संवाद सहयोगी, कनीना:

अयोध्या में श्रीराम जन्मभूमि शिलान्यास एवं भूमि पूजन की खुशी में बजरंग दल, विश्व हिदू परिषद और आमजन के सहयोग से सुबह से देर शाम तक कार्यक्रम आयोजित हुए। विश्व हिदू परिषद के कनीना ब्लॉक अध्यक्ष महेश बोहरा और कार्यकर्ताओं द्वारा घरों में दीपक वितरित करते हुए मंदिरों में रामलला के नारे लगाते हुए पहुंचे। पूरे मंदिर को भगवा ध्वज पटाका लहरा कर और ओम की झंडियां एवं लड़ियों से सजाया गया। गांव के प्राचीन मंदिर बाबा ठाकुरद्वारा में जोड़े बिठाकर गांव के पं. बबली जोशी से हवन करवाया। हवन के बाद महिलाओं ने सत्संग किया फिर कार्यकर्ताओं द्वारा पूरे शहर को सजाया गया। बस स्टैंड के मुख्य मार्ग पर सड़क के दोनों ओर बंदरवाल व ओम के झंडे एवं लड़ियों और विहिप के झंडे लगाते हुए बस स्टैंड टी प्वांइट से आंबेडकर चौक तक साज सज्जा की गई। महेश बोहरा ने कहा कि आज पूरे हिदू समाज का सपना पूरा हो गया है अब पूरा भारत का सपना है। रामराज्य में जहां सब एक समान हो अमीर और गरीब के बीच में कोई अंतर ना हो, सबको दवाई शिक्षा रोटी रोजगार और गर्व के साथ सीना तान कर सम्मान के साथ जीने का अधिकार मिले। इस मौके पर कार्यकर्ताओं द्वारा पूरे शहर में दीपावली की तरह पटाखे चलाते हुए प्रसाद वितरित किया गया। शाम होते ही लोगों के हाथों में दीपक ही दीपक दिखाई दे रहे थे। किसी ने थाली में सजाए हुए थे तो किसी ने हाथों में रखकर जलाए। पालिका पार्षद मोहन सिंह, देशराज यादव, गोविद यादव, सोनू सिगला, डॉ. विनोद जितेंद्र जॉनी, आशीष यादव, विकास यादव, सुरेंद्र, बजरंग दल संयोजक राजपाल यादव, मोहित दीपक, चंद्र मोहन यादव, यशराज, मोनू प्रवक्ता, अश्वनी कुमार, सूबेदार वेद प्रकाश सहित सभी कार्यकर्ताओं ने खुशियां मनाई।

हवन में डाली आहुति:

इसी प्रकार खाटू श्याम मंदिर में हवन आयोजित किया गया। पुजारी प्रदीप शास्त्री ने कहा कि भगवान राम का एक बार नाम लेने से सहस्त्र वार नाम लेने का फल मिलता है। परमपिता परमात्मा कलियुग में जीवन के मोक्ष के लिए राम नाम का आधार ही भव से पार करता है। कलियुग में राम भगवान का नाम लेने से ही हमें मोक्ष की प्राप्ति होती है और उसी परमपिता परमात्मा के मंदिर के निर्माण की खुशी में पूजा थी। इसमें आज भक्त जनों की खुशी का कोई ठिकाना नहीं रहा और सभी भक्तों गणों ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया। आज जैसे अयोध्या में दीपावली की तरह उत्सव मनाया जा रहा है चारों तरफ दीप जले हुए हैं इसी तरह आज हम सभी को अपने घर में दीपक जलाकर भगवान आराधना की और परमपिता परमात्मा से प्रार्थना कर रहे हैं। इसी प्रकार श्रीश्याम मंदिर में सुबह हवन किया गया जिसमें श्रद्धालुओं ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया। इसमें सम्मिलित सेवक श्री श्याम मंडल के प्रधान संदीप राठी, दुलीचंद साहब, महेंद्र साहब भक्तगण सम्मिलित हुए और भगवान रामचंद्र जी का पूजन अर्चन किया गया।

कीर्तन में झूमे श्रद्धालु:

वार्ड 11 स्थित ठाकुरजी मंदिर में कंवर सैन वशिष्ठ की देखरेख में हवन कीर्तन का आयोजन किया गया। हवन में जोशी बबली कनीना में हवन की महिमा का गुणगान करते हुए मंदिर बनाने में ब्रह्मा, विष्णु, महेश की लीला का बखान करते हुए वेद मंत्रों द्वारा सभी देवताओं का आभार प्रकट किया। कैलाश चंद्र शर्मा ने ऋषियों की वाणी द्वारा गायन करके सभी को मंत्रमुग्ध कर दिया। मंदिर को भगवा रंग की झंडियों से सजाया गया और सभी गायकों ने राम जन्म भूमि पूजन की खुशी जाहिर करते जय श्री राम का गुणगान किया। हवन व कीर्तन में पूर्व प्रधान मास्टर दलीप सिंह, यादराम, सुरेंद्र यादव, रतन शर्मा, प्रमोद शर्मा, मदन लाल शर्मा, रवि शर्मा, अरुण शर्मा, राजेंद्र पार्षद, महेश बोहरा, शिवकुमार अग्रवाल, ओमप्रकाश निशानियां मंडी,ओम प्रकाश शर्मा, परमानंद शर्मा, मनीष शर्मा, मिठ्ठू शर्मा मौजूद रहे।

---

आरती में वानर रूप में पहुंचे हनुमान जी और लहराया श्रीराम का झंडा

संस, महेंद्रगढ़ : कटला गली स्थित गोपाल मंदिर में भगवान श्रीराम की भव्य आरती एवं दीपोत्सव मनाया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि बुद्धि प्रकाश एडवोकेट एवं शील देवी सपरिवार उपस्थित रहे। कार्यक्रम के दौरान एक छोटे से वानर ने आकर रामलला के झूले से प्रसाद लिया और मंदिर के कलश पर चढ़कर रामनाम के झंडे को फहराया। सभी भक्तों ने हनुमानजी मानकर उस वानर को केले खिलाए। कटला मोहल्ले की महिला मंडल द्वारा दीपोत्सव मनाकर भजन संकीर्तन का आयोजन किया गया। भजन गायक अमरसिंह सोनी के द्वारा भी भगवान राम के भजनों का गुणगान किया गया। इस अवसर पर योगेश वशिष्ठ, केशव वशिष्ठ, मोती वशिष्ठ, मोहन वशिष्ठ, मधुसूदन वशिष्ठ एवं हर्षित वशिष्ठ आदि श्रद्धालु उपस्थित थे।

मालड़ा में किया हवन :

बाबा सदाराम मंदिर मालड़ा में हवन का आयोजन कर श्रृद्धालुओं को प्रसाद वितरित किया गया। सुजान मालड़ा ने बताया कि कार्यक्रम में आचार्य गजराज विशिष्ट अतिथि के रूप में पहुंचे। यज्ञमान के रूप में सुजान मालड़ा पत्नी पंकज बाला व सोनू उर्फ सुनील पत्नी सरोज उपस्थित रहे। हवन घीसाराम आर्य व रूपचंद आर्य ने संयुक्त रूप से करवाया। स्वामी पवित्रानंद ने कहा कि अंग्रेजों से हमें आजादी मिली उसके बाद से ही अयोध्या में श्रीराम मंदिर के पुनर्निर्माण की प्रक्रिया शुरू हुई। आज वो ऐतिहासिक दिन आया है जिसके लिए हम काफी वर्षों से इंतजार में थे। इस अवसर पूर्व थानेदार राव बहादुर सिंह, संदीप मालड़ा सहित अनेक श्रद्धालु मौजूद थे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.