डीसी ने किया क्रशर और माइनिग क्षेत्र का निरीक्षण

राष्ट्रीय हरित प्राधिकरण के निर्देश पर गठित की गई टीम को लेकर उपायुक्त अजय कुमार मंगलवार को जिले के विभिन्न क्रशर जोन में पहुंचे। उन्होंने मौके पर पहुंचकर प्रदूषण से संबंधित स्थितियों का जायजा लिया। उन्होंने धोल्हेड़ा बीगोपुर तथा बायल आदि क्रशर तथा माइनिग क्षेत्र का निरीक्षण किया।

JagranTue, 30 Nov 2021 05:52 PM (IST)
डीसी ने किया क्रशर और माइनिग क्षेत्र का निरीक्षण

संवाद सूत्र, निजामपुर: राष्ट्रीय हरित प्राधिकरण के निर्देश पर गठित की गई टीम को लेकर उपायुक्त अजय कुमार मंगलवार को जिले के विभिन्न क्रशर जोन में पहुंचे। उन्होंने मौके पर पहुंचकर प्रदूषण से संबंधित स्थितियों का जायजा लिया।

उन्होंने धोल्हेड़ा, बीगोपुर तथा बायल आदि क्रशर तथा माइनिग क्षेत्र का निरीक्षण किया। दरअसल, राष्ट्रीय हरित प्राधिकरण ने जिला महेंद्रगढ़ में क्रशर जोन प्रदूषण को लेकर सही वस्तुस्थिति जानने के लिए एक कमेटी गठित करने के निर्देश दिए थे। इस कमेटी में केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड आइआइटी दिल्ली स्वास्थ्य व वन विभाग के अधिकारियों को शामिल करने के निर्देश दिए गए थे। अब इस टीम की रिपोर्ट के बाद ही नियम अनुसार यह तय होगा कि भविष्य में कितने क्रशर चालू रहेंगे तथा कितने और को परमिशन दी जाएगी।

राष्ट्रीय हरित प्राधिकरण के निर्देश अनुसार यह भी देखा जाएगा कि क्रशर के कारण आसपास रहने वाले नागरिकों को वायु कण से किसी प्रकार की परेशानी न हो तथा उनके स्वास्थ्य पर कोई विपरीत असर न पड़े। स्वास्थ्य विभाग की ओर से प्रदूषण से होने वाली बीमारियों के संबंध में आंकड़े मांगे गए थे।

इसी प्रकार फारेस्ट विभाग से ग्रीन बेल्ट से संबंधित जानकारियां मांगी गई थीं। साथ ही इन सभी क्रेशर जोन में पेड़-पौधों की स्थिति तथा भविष्य की योजना के बारे में जानकारी मांगी गई थी। एनजीटी ने प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड को निर्देश दिए थे कि वे यह सुनिश्चित करें कि सभी स्थानों पर एयर पाल्यूशन कंट्रोल डिवाइस सही तरीके से काम करें। इस दौरे के दौरान केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड से सुनील दवे, राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के एक्सईएन मोहित मुदगिल, आइआइटी दिल्ली से हर्षा कोटा के अलावा विभिन्न विभागों के अधिकारी भी मौजूद थे।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.