शहर में प्रबंधकीय बदलाव के बाद भी प्रभावी क्षेत्रों में हो रही सफाई

जागरण संवाददाता, नारनौल : नगर परिषद ने बेशक सफाई क्षेत्र में प्रबंधकीय बदलाव करते हुए नगरवासियों को भले ही बेहतरीन स्वच्छ वातावरण प्रदान करने का अवसर दिया हो, मगर इसका बड़ा लाभ अब भी सभी शहरवासियों को नहीं मिल पा रहा है। शहर में अब भी प्रभावशाली लोगों की तरफ अधिक ध्यान दिया जा रहा है, जबकि आम नागरिकों को वह तवज्जो नहीं मिल पा रही, जिसकी अपेक्षा की जा रही थी। यही कारण है कि शहर के कई हिस्सों में अब भी गंदगी की भरमार रहती है और इसे कई दिनों बाद ही उठाया जाता है।

नारनौल शहर में इस समय 25 वार्ड बने हुए हैं तथा इस शहर को सफाई के लिहाज से छह जोन में बांटा हुआ है। शहर में कुछ दिनों पहले तक सुबह छह बजे पूरे शहर में एकसाथ सफाई कार्य किया जाता था, लेकिन इसमें आमूल-चूल परिवर्तन कर नया शेड्यूल तैयार किया गया और जो सफाई सुबह होती थी, उसी कार्य को उन्हीं सफाई कर्मचारियों एवं वाहन चालकों के भरोसे पूरे दिन में तब्दील कर दिया गया। इसमें प्रबंधकीय गणित लगाते हुए सफाई कर्मचारियों एवं वाहन चालकों को अलग-अलग शेड्यूल के अनुसार ड्यूटी बांट दी गई। इसके साथ ही नगरवासियों की सुविधा के लिए एक टोल फ्री नंबर 8307113197 भी जारी कर दिया, जिससे नगरवासियों को जहां भी गंदगी लगे, इस नंबर पर कॉल करके सफाई करा सकें। इस नंबर पर ही नगरवासियों को स्ट्रीट लाइटें ठीक कराने एवं अतिक्रमण हटवाने की भी सुविधा प्रदान की गई। अब सफाई के साथ-साथ स्ट्रीट लाइटें ठीक कराने की शिकायतें इस नंबर पर आती हैं और उन्हें ठीक कराया जा रहा है। अतिक्रमण के लिए अभी नप ने कोई टीम गठित नहीं की है, जिस कारण करीब चारों शिकायतें अभी लंबित ही हैं।

-------------

- शहर में सफाई कार्य में अब भी कोई बड़ा बदलाव नहीं आ पाया है। नगर में अनेक स्थानों पर गंदगी रहती है। केवल पॉश कॉलोनियों एवं प्रभावी लोगों के यहां ही सफाई पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। आम नागरिक की अब भी पहले जैसी हालत है। इसे पूरे शहर में सबके लिए एकसमान रूप से लागू करने की आवश्यकता है।

- नेमीचंद, मोहल्ला जमालपुर।

----------

शहर के पुल बाजार, सरदार की चक्की के पास, ओरियंटल बैंक के सामने, पुल के पीछे छलक नाला गुरुद्वारा के पास कई स्थानों पर गंदगी रहती है। कई-कई दिनों तक सफाई कर्मचारी उसे उठाने नहीं आते हैं। गंदगी लगातार कई दिनों तक पड़ी रहने के कारण उसमें सुअर व अन्य पशु मुंह मारते रहते हैं। गंदगी के साथ-साथ इन जानवरों पर भी काबू पाने की आवश्यकता है।

- ओमप्रकाश, पुल बाजार, नारनौल।

--------------

नगर परिषद ने गत 21 नवंबर को टोल फ्री नंबर जारी किया था, जिस पर सुबह 9 बजे से शाम 5 बजे तक फोन सुने जाते हैं। तबसे लेकर अब तक 111 शिकायतें सफाई को लेकर आई हैं। आज आई केवल चार शिकायतों को छोड़कर शेष सभी पर काम हो चुका है। अब सफाई कर्मचारी दिनभर तैनात रहते हैं। 68 लाइटों की शिकायतें थी, जिन्हें भी नगर पार्षदों की मदद से हल कर दिया गया है। अतिक्रमण हटाओ अभियान के लिए टीमें गठित की जा रही हैं।

- मुकेश शर्मा, सफाई निरीक्षक, नगर परिषद, नारनौल।

1952 से 2020 तक इन राज्यों के विधानसभा चुनाव की हर जानकारी के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.