पहले दिन 217 कर्मचारियों को लगाया कोरोना वैक्सीन का टीका

पहले दिन 217 कर्मचारियों को लगाया कोरोना वैक्सीन का टीका

जिला उपायुक्त अजय कुमार ने शनिवार को नारनौल के नागरिक अस्पताल में टीका का शुभारंभ किया।

JagranSat, 16 Jan 2021 07:53 PM (IST)

जागरण संवाददाता, नारनौल:

जिला उपायुक्त अजय कुमार ने शनिवार को नारनौल के नागरिक अस्पताल पहुंच कर टीकाकरण अभियान की शुरुआत की। महेंद्रगढ़ जिले में पहले दिन के 300 के लक्ष्य की तुलना में 217 कर्मचारियों को वैक्सीन का टीका लगाया गया है। कोरोना काल में लगातार कार्य करने वाले स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों से टीकाकरण की शुरुआत की गई। जिले के नागरिक अस्पताल नारनौल में सफाई कर्मचारी के पद पर कार्यरत पटीकरा निवासी बिमला देवी को वैक्सीन का पहला टीका लगाया गया। वहीं वैक्सीन लगाने के बाद आधे घंटे तक निगरानी कक्ष में कर्मचारियों को बैठाया गया, ताकि यह पता चल सके कि कर्मचारी के शरीर में किसी प्रकार की बैचेनी व घबराहट तो नहीं हो रही हैं। सिविल सर्जन अशोक कुमार ने बताया कि प्रधानमंत्री के अभिभाषण के बाद टीकाकरण अभियान शुरू कर दिया गया हैं। जिसमें पहले फेज में स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों को टीके लगाए जाएंगे। उसके बाद में आंगनबाड़ी कर्मचारी, पैरा मिल्ट्री फोर्स व अन्य सरकारी विभाग के कर्मचारियों को आगे के चरणों में टीका लगाया जाएगा। शनिवार को नारनौल में 75, महेंद्रगढ़ 87 व कनीना में 55 कर्मचारियों को टीका लगाया गया है।

बाक्स--------

पहला टीका लगवाना मेरी खुशकिस्मती: बिमला देवी

जिले में पहला टीका लगवाने वाली बिमला देवी ने बातचीत के दौरान बताया कि मुझे खुशी हैं कि जिले में पहला टीका मुझे लगाया गया। हालांकि वैक्सीन को लेकर थोड़ी घबराहट जरूर थी। वहीं कुछ लोग वैक्सीन को लेकर डरे हुए हैं कि कुछ हो न जाए। वैक्सीन लगाने के बाद हल्का सा दर्द हुआ, जो सामान्य इंजेक्शन में होता हैं। भगवान का शुक्रिया अदा करती हूं कि मैं एकदम स्वस्थ हूं।

बाक्स-----

एनएनएम चम्पा ने लगाया पहला टीका

एमपीएचडब्लू के पद पर कार्यरत एएनएम चम्पा यादव को वैक्सीन लगाने का कार्यभार सौंपा गया हैं। चम्पा यादव ने बताया कि कोरोना काल में मार्च से लेकर अभी तक दो-तीन दिन की छुट्टी ही मिल पाई है। लेकिन मैने अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखा और एक बार भी कोरोना पॉजिटिव नहीं हुई। मुझे स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों में से टीका लगाने के लिए चुना गया। इसलिए मुझे खुशी है कि जिस महामारी से एक साल आमजन से स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी परेशान थे। उसका टीका लगाने का अवसर मुझे मिला हैं।

बाक्स ------

सीएमओ ने कोरोना वैक्सीन का टीका भी लगवाया और दिनभर कार्य भी किया

एक ओर जहां कुछ लोग कोरोना वैक्सीन को लेकर भ्रम फैला रहे हैं, वहीं सीएमओ डा. अशोक कुमार ने शनिवार को कोरोना वैक्सीन का खुद टीका लगवाया और इसके बाद आफिस में बैठकर कार्य भी किया। उन्होंने साफ कहा कि वैक्सीन कोरोना को समाप्त करने के लिए है, न कि लोगों के स्वास्थ्य को खराब करने के लिए। हमें अपने वैज्ञानिकों पर पूरा भरोसा है।

बाक्स -----

सीएमओ डा. रामनिवास ने भी टीका लगवाया

वैक्सीन अभियान के सीएमओ डा. रामनिवास ने भी टीका लगवाया और दिन भर कार्य किया। अभियान के सीएमओ होने की वजह से जिले भर में टीकाकरण कार्य की निगरानी भी उनके जिम्मे थी। इसलिए वे अपने कार्यालय में बैठकर शाम तक कार्य करते रहे। बाक्स-------

महेंद्रगढ़ में 87 स्वास्थ्य कर्मियों को लगाया कोरोना वैक्सीन का टीका

फोटो संख्या 11 से 14

संवाद सहयोगी, महेंद्रगढ़: नागरिक अस्पताल महेंद्रगढ़ से कोविड-19 के टीकाकरण अभियान का आरंभ किया गया। सबसे पहला टीका फॉर्मासिस्ट जसंवत यादव को लगाया गया। स्वास्थ्य विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार उन्हे नौ बजे ही कोविड-19 के टीकों की 650 डोज मिल गई थी। पहले दिन 100 स्वास्थ्यकर्मियों को टीका लगाने का लक्ष्य रखा गया था। शाम तक 87 स्वास्थ्यकर्मियों को टीका लगा दिया गया था। इस टीकाकरण में अस्पताल के सभी तृतीय एवं चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों को टीका लगा दिया गया। ड्यूटी पर होने के कारण कुछ चिकित्सकों को टीका नहीं लग पाया था। स्वास्थ्य विभाग ने टीकाकरण के लिए आशा वर्करों को बुला रखा था। किसी अफवाह की वजह से अस्पताल परिसर में टीका लगवाने के लिए कोई भी आशा वर्कर नहीं पहुंची। महिला चिकित्सक अन्नू ने बताया कि वह ड्यूटी के दौरान ही टीका लगवाने के लिए आई है, ताकि लोगों को किसी तरह की भ्रांति ना रहे।

बाक्स------

अफवाहों पर न दें ध्यान, टीके से नहीं हुई परेशानी: जसवंत

टीकाकरण अभियान में पहला टीका लगवाने वाले सीनियर फार्मेसी ऑफिसर जसवंत यादव ने बताया कि उन्हें टीका लगवाए हुए चार घंटे

से भी अधिक समय हो गया। किसी तरह की कोई परेशानी उन्हें नहीं है। वे खुशी महसूस कर रहे हैं कि उन्होंने टीकाकरण का पहला टीका लगवाया है। उन्होंने लोगों से भी आह्वान किया है कि वे किसी भी तहर की अफवाहों में ध्यान न देकर के टीकाकरण अभियान में भाग लें। उन्होंने बताया कि उनके पास आई डोज में 325 लोगों को ही टीका लग पाएगा। दूसरी डोज 28 दिन बाद दी जाएगी। कनीना में 55 स्वास्थ्य कर्मियों को लगाए टीके

फोटो संख्या 24 व 25

संवाद सहयोगी, कनीना: उप नागरिक अस्पताल में लंबे इंतजार के बाद कोरोना की 500 वैक्सीन पहुंच चुकी हैं। एसएमओ डा धर्मेंद्र यादव ने बताया कि अस्पताल में शनिवार से डोज लगाना शुरू कर दिया है। हेल्थ वर्कर को सबसे पहले डोज दिए जाना हैं। 100 कर्मियों का लक्ष्य डोज लगाने का रखा था। समाचार लिखे जाने तक 55 को वैक्सीन लगा दी गई हैं। एसएमओ ने बताया कि इन्हीं व्यक्तियों को दूसरी डोज 28 दिन बाद दी जाएगी। उन्होंने कहा सरकारी दायित्वों का पालन करते हुए जो भी आगामी निर्देश मिलेंगे उनका पालन किया जाएगा।

बाक्स-----

सबसे पहले एएनएम बिमला ने लिया डोज

सबसे पहले लगवाई एएनएम ने-

कोरोना की पहली डोज एएनएम बिमला ने लगवाई। तत्पश्चात एसएमओ डा. धर्मेंद्र यादव ने यह वैक्सीन लगवाई। चूंकि पहली डोज एएनएम बिमला ने लगवाई ऐसे में उन्हें एक पौधा एसएमओ डा धर्मंद्र ने भेंट किया। एसएमओ डा धर्मेंद्र ने बताया कि सबसे पहले वैक्सीन लगवाने के कारण उन्हें यह सम्मान दिया गया है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.