आर्टिफिशियल जनरल इंटेलिजेंस की राह को आसान करेगी कार्यशाला : जैन

कुरुक्षेत्र राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान (एनआइटी) की संकाय विकास कार्यक्रम समन्वयक डा. सारिका जैन ने कहा कि सिमेंटिक इंटेलिजेंस द वे फारवर्ड विद आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस विषय पर शुरू हुई कार्यशाला आर्टिफिशियल जनरल इंटेलिजेंस की राह को आसान करेगी।

JagranFri, 02 Jul 2021 07:44 AM (IST)
आर्टिफिशियल जनरल इंटेलिजेंस की राह को आसान करेगी कार्यशाला : जैन

जागरण संवाददाता, कुरुक्षेत्र : राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान (एनआइटी) की संकाय विकास कार्यक्रम समन्वयक डा. सारिका जैन ने कहा कि सिमेंटिक इंटेलिजेंस, द वे फारवर्ड विद आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस विषय पर शुरू हुई कार्यशाला आर्टिफिशियल जनरल इंटेलिजेंस की राह को आसान करेगी। वह वीरवार को संस्थान कंप्यूटर एप्लीकेशन विभाग की ओर से शुरू की गई कार्यशाला के शुभारंभ अवसर पर बोल रही थी। उन्होंने कहा कि पांच दिनों तक चलने वाली यह कार्यशाला एआइसीटीइ ट्रेनिग एंड लर्निंग (एटीएएल) अकादमी की ओर से प्रायोजित है। एनआइटी की ओर से संचालित सिमेंटिक इंटेलिजेंस को प्रचारित करने वाली श्रृंखला में यह तीसरा संकाय विकास कार्यक्रम है। उन्होंने कहा कि आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस आज के युग में चमत्कार कर रहा है। आज हमारे पास आईबीएम के वाटसन जैसे चैटबाट हैं जो टीवी गेम शो जोपार्डी जैसे मानव चैंपियन पर विजयी हुए हैं।

कंप्यूटर एप्लीकेशन विभाग के विभागाध्यक्ष प्रो. आशुतोष कुमार सिंह ने बताया कि पांच दिनों तक चलने वाले इस संकाय विकास कार्यक्रम में देश के प्रमुख शैक्षणिक संस्थानों व अनुसंधान एवं विकास एवं उद्योग जगत से विशेषज्ञ जुड़ेंगे। उन्होंने बताया कि इस कार्यशाला से कुल मिलाकर 200 प्रतिभागी लाभान्वित होंगे। इसके अंतिम दिन एक आनलाइन परीक्षा भी आयोजित की जाएगी। इस परीक्षा में सफल प्रतिभागियों को प्रमाण पत्र पत्र जारी किया जाएगा।

इंटरनेट मीडिया पर महिला को भेजा मैसेज, मामला दर्ज

संवाद सहयोगी, पिहोवा : इंटरनेट मीडिया पर एक महिला के मोबाइल पर गलत मैसेज भेजने का मामला सामने आया है। पिहोवा पुलिस ने शिकायत मिलने पर आरोपित के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच साइबर सेल को भेज दी है।

पिहोवा थाने में दी शिकायत में एक व्यक्ति ने बताया कि उसकी पत्नी को इंटरनेट मीडिया पर एक अकाउंट है। उनकी पत्नी के इसी अकाउंट पर आरोपित पिछले करीब एक सप्ताह से गलत मैसेज भेज रहा है। अनजान व्यक्ति के मैसेज देखकर उसकी पत्नी ने जब आरोपित के अकाउंट को ब्लाक कर दिया तो उसने किसी दूसरे नाम से अपना अकाउंट बना लिया और दोबारा मैसेज भेजने लगा। उन्होंने जब संबंधित अकाउंट के आधार पर बातचीत करने का प्रयास किया तो आरोपित उन्हें गुमराह करने लगा। उन्होंने पुलिस को शिकायत सौंपकर उचित कार्रवाई की मांग की है। पुलिस ने शिकायत पर मामला दर्ज करके जांच साइबर सेल के सौंप दी है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.