विद्यार्थियों और शिक्षकों के फायदेमंद साबित हो वेबिनार : सचदेवा

विद्यार्थियों और शिक्षकों के फायदेमंद साबित हो वेबिनार : सचदेवा

कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. सोमनाथ सचदेवा ने कहा कि वर्तमान परिस्थितियों में कुवि के विभिन्न विभागों की ओर से करवाए जा रहे वेबिनार विद्यार्थियों के साथ-साथ शिक्षकों के लिए भी फायदेमंद साबित हो रहे हैं।

JagranWed, 03 Mar 2021 06:53 AM (IST)

जागरण संवाददाता, कुरुक्षेत्र : कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. सोमनाथ सचदेवा ने कहा कि वर्तमान परिस्थितियों में कुवि के विभिन्न विभागों की ओर से करवाए जा रहे वेबिनार विद्यार्थियों के साथ-साथ शिक्षकों के लिए भी फायदेमंद साबित हो रहे हैं। वह मंगलवार को कुवि के बाटनी विभाग में फिडिग एंड फ्यूलिग द फ्यूचर विषय पर आयोजित वेबिनार में संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि अलग-अलग विषयों के विशेषज्ञ इन वेबिनारों में हिस्सा ले रहे हैं। उन्होंने जीरो बजट कार्यक्रम की सराहना की। मुख्य वक्ता यूएसए की मेसाच्युसेट्स यूनिवर्सिटी के प्रो. ओम प्रकाश धनखड ने कहा कि मात्र एक डिग्री तापमान के बढ़ने से भी फसलों की पैदावार में करीब 10 फीसद की गिरावट आ सकती है। विश्व भर में 10 फीसद शुद्ध जल खेती के लिए प्रयोग किया जा रहा है। इसके कारण धरती के अंदर शुद्ध पानी की मात्रा निरंतर घटती जा रही है। उन्होंने कहा कि

अगले 10 से 15 वर्षों में पानी की कमी के रहते गेहूं व धान की फसलें खत्म हो जाएंगी। इस समस्या से राहत के लिए हमें खेती के पारंपरिक तरीकों को बदलना होगा। अगर समय रहते इन समस्याओं से हमें राहत मिल जाए तो यह आने वाली पीढि़यों के लिए भी लाभदायक होगा। विभागाध्यक्ष प्रो. नीलू सूद ने बताया कि इस वेबिनार के लिए 250 से अधिक शिक्षकों एवं विद्यार्थियों ने पंजीकरण किया था। इस वेबिनार में विभाग के सेवानिवृत्त प्रो. माटा, प्रो. शारदा रानी, प्रो. भूदेव वशिष्ट, प्रो. नरेंद्र सिंह, डा. चंद्रभूषण, डा. सोमवीर जाखड़ व ज्योति चौहान मौजूद रहे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.