top menutop menutop menu

एक महिला समेत तीन ने की आत्महत्या, ज्वेलर्स का होटल में मिला शव

एक महिला समेत तीन ने की आत्महत्या, ज्वेलर्स का होटल में मिला शव
Publish Date:Sun, 05 Jul 2020 08:55 AM (IST) Author: Jagran

जागरण संवाददाता, कुरुक्षेत्र : धर्मनगरी पर शनि भारी रहा। एक महिला समेत दो युवकों ने अलग-अलग स्थानों पर फंदा लगाकर अपनी जीवनलीला खत्म कर ली। एक ज्वेलर्स का शव सेक्टर-10 के एक होटल के कमरे में पंखे पर फंदे से लटका मिला। वह तीन दिन पहले अपने घर से आया था और एक दिन पहले दूसरे होटल में ठहरा हुआ था। वहीं एक युवक ने प्लॉट की पेमेंट न आने पर परेशानी के चलते फंदा लगा लिया। सारसा निवासी महिला कोरोना की खबरों को सुनकर मानसिक रूप से परेशान बताई जा रही है। पुलिस ने तीनों मामलों में कार्रवाई शुरू कर दी है।

बाबैन खंड के गांव कसीथल निवासी जोनी (30) ने सेक्टर-10 स्थित एक होटल के कमरे में फंदा लगाकर जान से दे दी। उसका शव पंखे पर फंदे से लटका मिला। सेक्टर-7 चौकी पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराकर परिजनों को सौंप दिया।

परिजनों ने बताया कि जोनी की गांव बरौट में ज्वेलरी की दुकान थी। वह अपनी पत्नी और दो बच्चों के साथ बरौट गांव में ही रह रहा था। वह तीन दिन पहले काम की कहकर घर से चला गया। उसने शुक्रवार को अपने जीजा को फोन कर पैसे पहुंचाने की बात कही। उसका जीजा उसको कुछ पैसे दे गया और उसके कहने पर सेक्टर-10 के एक होटल में छोड़ गया। उसने शाम तक घर आने की बात कही और होटल में चला गया। होटल कर्मियों ने बताया कि युवक ने शुक्रवार रात करीब साढ़े 10 बजे खाना मंगवाया। शनिवार सुबह साढ़े 11 बजे तक भी कमरा नहीं खोला तो उसने पुलिस को सूचना दी। सेक्टर-7 चौकी पुलिस ने एएसआइ रामदिया मौके पर पहुंचे। उन्होंने दरवाजा खुलवाया तो जोनी पंखे पर फंदे के साथ लटका हुआ था। पुलिस ने परिजनों को सूचना दी और शव को एलएनजेपी अस्पताल के शवगृह में रखवा दिया। परिजनों के बयान दर्ज कर पोस्टमार्टम कराया। जांच अधिकारी रामदिया ने बताया कि पुलिस मामले में तथ्य जुटा रही है।

दीदार नगर में 31 वर्षीय युवक ने की आत्महत्या

आदर्श थाना के अंतर्गत पिहोवा रोड दीदार नगर के रिहायशी इलाके गौरव आहुजा (31) घर में फंदा लगाकर अपनी जीवनलीला समाप्त कर ली। मृतक गौरव आहुजा की पत्नी ने आरोप लगाया है कि उसके पति ने कॉलोनी के रहने वाले एक युवक को मकान बेचा था, लेकिन वह युवक मकान की पेमेंट नहीं कर रहा था। जिससे उसका पति परेशान रहने लगा था। इसी परेशानी के चलते उसके पति ने मकान में छत के पंखे से लटक कर जीवनलीला समाप्त कर ली। आदर्श थाना प्रभारी सूरज चावला, थर्ड गेट चौकी प्रभारी धर्मबीर व एएसआइ बीर सिंह मौके पर पहुंची। पुलिस ने परिजनों के बयानों के आधार पर केस दर्ज कर लिया है।

सारसा में महिला ने की आत्महत्या

पिहोवा थाना क्षेत्र के अंतर्गत सारसा गांव में 45 वर्षीय एक महिला ने आत्महत्या कर ली। पुलिस ने इसमें कार्रवाई शुरू कर दी है। बलकार ने बताया कि उसकी पत्नी मुनीष देवी (45) पिछले दिनों से मानसिक रूप से परेशान चल रही थी। वह कोरोना के मामले सुनकर और अधिक परेशान रहने लग गई। उसने शनिवार को कमरे में फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। वह उसको लेकर अस्पताल पहुंचा। जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

ऐसे करें मानसिक दबाव की पहचान

मोहन नगर स्थित नरेंद्र परुथी क्लीनिक के संचालक डा. नरेंद्र परुथी ने बताया कि लोगों में मानसिक दबाव झेलने की क्षमता कम हो गई है। वे किसी भी विषय को दूसरे के साथ सांझा करना भी पसंद नहीं करते। इन परिस्थितियों में भी लोगों पर दबाव पड़ गया है। उसका व्यवहार बदल जाता है और वह बात-बात पर आवेष में आ जाता है। परिजनों को व्यवहार बदलने पर उसको नजरअंदाज करने की बजाय उसकी समस्या को जानकर समाधान करना चाहिए।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.