20 मामलों में वांछित कृष्ण दादुपुर व सन्नी उर्फ मास को फिर प्रोडक्शन वारंट पर लिया

20 मामलों में वांछित कृष्ण दादुपुर व सन्नी उर्फ मास को फिर प्रोडक्शन वारंट पर लिया

सीआइए-2 ने 20 मामलों में वांछित व इनामी बदमाश कृष्ण दादुपुर व सन्नी उर्फ मास को करनाल जेल से प्रोडक्शन वारंट पर ले कर कार छीनने की जगह की निशानदेही कराई। आरोपितों ने राष्ट्रीय राजमार्ग से एक कार छीनी थी।

JagranFri, 23 Apr 2021 07:38 AM (IST)

जागरण संवाददाता, कुरुक्षेत्र : सीआइए-2 ने 20 मामलों में वांछित व इनामी बदमाश कृष्ण दादुपुर व सन्नी उर्फ मास को करनाल जेल से प्रोडक्शन वारंट पर ले कर कार छीनने की जगह की निशानदेही कराई। आरोपितों ने राष्ट्रीय राजमार्ग से एक कार छीनी थी। जिले में आरोपितों ने पांच वारदातें की थी। आरोपितों को अदालत में पेश किया। अदालत ने उन्हें न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है।

डीएसपी मुख्यालय सुभाष चंद्र ने बताया कि शाहाबाद थाना पुलिस के 12 जनवरी 2019 को सूचना मिली थी कि राष्ट्रीय राजमार्ग पर गांव चढूनी जाटान के पास अज्ञात लोगों ने एक व्यक्ति की गाड़ी छीन ली है। सूचना पर एएसआइ रामेश्वर की टीम मौके पर पहुंची। गांव चढूनी जाटान निवासी कृष्ण कुमार ने पुलिस को शिकायत दी कि वह और उसका लड़का राजेंद्र अपनी कार में शाम करीब सात बजे शरीफगढ पुल के नीचे अपनी मिट्टी की गाड़ियों का इंतजार कर रहे थे। उसी समय एक बिना नंबर की करेटा कार आई, जिसमें तीन लोग सवार थे। उन्होंने गांव दौलतपुर का रास्ता पूछा। जिनमें से एक युवक ने उसके लड़के की कनपटी पर पिस्टल रखकर कहा कि वे कार से नीचे उतरें, नहीं तो गोली मार देगा। वह और उसका लड़का कार से नीचे उतर गए। उनमें से दो व्यक्ति उनकी कार में बैठ गए और कार को लेकर शाहाबाद की तरफ चले गए। एक युवक अपनी करेटा कार को लेकर शाहाबाद की तरफ चला गया। शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज करके जांच शुरू कर दी थी। बाद में यह कार इनामी बदमाश लाडवा निवासी जबरा के एनकाउंटर के बाद करनाल पुलिस ने बरामद की थी। इस वारदात में कृष्ण दादुपुर, जबरा व सन्नी उर्फ मास शामिल थे। जिस करेटा कार से इन बदमाशों ने शरीफगढ़ से कार छीनी थी वह कार आरोपियों ने लाडवा से छीनी थी। जिसको पिटू करनाल की हत्या के बाद जीटी रोड पर छोड़ कर फरार हो गए थे। आरोपित जगह-जगह पुलिस को चकमा देकर फरार हो जाते थे। आरोपित कृष्ण दादुपुर व सन्नी उर्फ मास को करनाल पुलिस मार्च 2021 में गिरफ्तार कर लिया गया था। आरोपित करनाल जेल में बंद थे। रिमांड के दौरान आरोपितों ने करनाल पुलिस को बताया था कि उन्होंने कुरुक्षेत्र में पांच वारदातों को अंजाम दिया हुआ है। सीआइए-2 प्रभारी निरीक्षक मलकीत सिंह के नेतृत्व में एसआइ सतनाम सिंह, एएसआइ सतविद्र सिंह, मुख्य सिपाही लखन, ललित, प्रवेश कुमार व सिपाही संदीप की टीम ने आरोपितों को करनाल जेल से प्रोडक्शन वारंट पर लेकर वारदात किए स्थान की निशानदेही कराई।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.