राहत: कल्पना चावला मेडिकल कालेज को मिले आठ असिस्टेंट प्रोफेसर और दो सीनियर रेजीडेंट

- कल्पना चावला मेडिकल कालेज को मिले आठ असिस्टेंट प्रोफेसर और दो सीनियर रेजीडेंट काउंसलिग में नौ सीनियर रेजीडेंट रोहतक व दो खानपुर मेडिकल कालेज को मिले

JagranPublish:Tue, 07 Dec 2021 09:58 PM (IST) Updated:Tue, 07 Dec 2021 09:58 PM (IST)
राहत: कल्पना चावला मेडिकल कालेज को मिले आठ असिस्टेंट प्रोफेसर और दो सीनियर रेजीडेंट
राहत: कल्पना चावला मेडिकल कालेज को मिले आठ असिस्टेंट प्रोफेसर और दो सीनियर रेजीडेंट

- काउंसलिग में नौ सीनियर रेजीडेंट रोहतक व दो खानपुर मेडिकल कालेज को मिले

- आसान होगी मरीजों की राह, उपचार के लिए नहीं करना पड़ेगा ज्यादा लंबा इंतजार

जागरण संवाददाता, करनाल: करीब दो माह से चिकित्सकों की नियुक्ति को लेकर चल रही प्रक्रिया आखिरकार मंगलवार को पूरी हो गई। इस समयावधि के दौरान कल्पना चावला राजकीय मेडिकल कालेज एवं अस्पताल को आठ असिस्टेंट प्रोफसर व दो सीनियर रेजीडेंट मिले हैं। वहीं रोहतक व खानपुर राजकीय मेडिकल कालेज को दो-दो सीनियर रेजीडेंट मिले हैं।

चिकित्सकों की कमी झेल रहे कल्पना चावला राजकीय मेडिकल कालेज के लिए यह नियुक्ति प्रक्रिया संजीवनी का काम करेगी। चिकित्सकों की आमद के साथ ही अब ओपीडी से लेकर आपरेशन थिएटर तक के कार्य में गति आएगी। नई नियुक्तियों से मेडिकल कालेज की राह आसान होगी, साथ ही लोगों को इलाज के लिए लंबा इंतजार नहीं करना पड़ेगा। हालांकि नियुक्ति की इस प्रक्रिया के दौरान 15 चिकित्सकों का चयन हुआ था, लेकिन आठ ने ही ज्वाइन किया। गौरतलब है कि खाली पड़े पदों पर नियुक्ति के लिए काफी समय से प्रक्रिया चल रही थी, जो अब जाकर पूरी हुई है। इससे न केवल स्टाफ बल्कि मरीजों को भी राहत मिलेगी।

-----------------

किस विभाग में कितने चिकित्सक

विभाग चयन नियुक्ति

जनरल सर्जरी 02 03

माइक्रोबायोलाजी 02 04

फार्माकालाजी 01 01

पैथालाजी 01 01

फोरेंसिक मेडिसन 01 02

कम्यूनिटी मेडिसन 01 04

नोट : ये आंकड़े कल्पना चावला राजकीय मेडिकल कालेज की ओर से जारी किए गए हैं।

----------

साइकेटरी व ब्लड बैंक को मिले सीनियर रेजीडेंट

काउंसलिग के दौरान एक सीनियर रेजीडेंट साइकेटरी विभाग तथा दूसरा ब्लड बैंक को मिला है। ब्लड बैंक में स्टाफ की कमी को लेकर काफी दिक्कतें सामने आ रही थी। एक सीनियर रेजीडेंट मिलने के बाद कुछ हद तक राहत जरूरी मिलेगी। डेंगू के सीजन में स्टाफ को 24 घंटे काम करना पड़ रहा है।

---------------------------

अहम भूमिका निभाएगा नया स्टाफ

चिकित्सकों की कमी झेल रहे कल्पना चावला राजकीय मेडिकल कालेज एवं अस्पताल के लिए नई नियुक्तियां ओमिक्रोन की आहट को देखते हुए वरदान साबित हो सकती हैं। ओमिक्रोन को देखते हुए मेडिकल कालेज प्रबंधन पहले से तैयारियों में जुटा हुआ है। नई नियुक्तियों में दो माइक्रोबायोलाजिस्ट व एक पैथालाजिस्ट की भी नियुक्ति हुई है। जो कोविड-19 जैसी महामारी में अहम भूमिका अदा करेंगे।

------------

हमारे पास मैन पावर की कमी काफी समय से चल रही है। चिकित्सकों की कमी जरूर है लेकिन हाल ही में अलग-अलग विभागों में आठ असिस्टेंट प्रोफसर व मंगलवार को दो सीनियर रेजीडेंट की नियुक्ति हुई है। संभव है कि राहत जरूर मिलेगी। सुपर स्पेशिलिटी के लिए भी मुख्यालय को लिखा हुआ है। धीरे-धीरे सुविधाएं बढ़ाई जा रही हैं।

डा. जगदीश चंद्र दुरेजा, निदेशक, कल्पना चावला राजकीय मेडिकल कालेज, करनाल।