कोरोना के नए वैरिएंट से विभाग अलर्ट, विदेश से आने वाले 126 यात्री होम आइसोलेट

कोरोना संक्रमण को लेकर लापरवाही बरतने वाले लोगों को सतर्क रहने की जरूरत है। हालांकि अभी ओमिक्रोन का जिले में कोई मामला सामने नहीं आया है लेकिन लापरवाही चिताजनक हो सकती है। कोरोना के नए वैरिएंट को लेकर स्वास्थ्य विभाग ने अलर्ट जारी कर विदेश से आने वाले जिले के 126 यात्रियों को सात दिन के लिए होम आइसोलेट कर दिया है। सभी के स्वजनों के सैंपल लिए हैं।

JagranWed, 01 Dec 2021 08:39 PM (IST)
कोरोना के नए वैरिएंट से विभाग अलर्ट, विदेश से आने वाले 126 यात्री होम आइसोलेट

जागरण संवाददाता, करनाल : कोरोना संक्रमण को लेकर लापरवाही बरतने वाले लोगों को सतर्क रहने की जरूरत है। हालांकि, अभी ओमिक्रोन का जिले में कोई मामला सामने नहीं आया है लेकिन लापरवाही चिताजनक हो सकती है। कोरोना के नए वैरिएंट को लेकर स्वास्थ्य विभाग ने अलर्ट जारी कर विदेश से आने वाले जिले के 126 यात्रियों को सात दिन के लिए होम आइसोलेट कर दिया है। सभी के स्वजनों के सैंपल लिए हैं। कोविड वार्डों की व्यवस्था दुरुस्त करने के साथ सैंपलिग बढ़ाने के आदेश भी दिए गए हैं।

सिविल सर्जन ने बताया कि एट-रिस्क वाले देशों यूनाइटेड किगडम, दक्षिण अफ्रीका, ब्राजील, बांग्लादेश, बोत्सवाना, चीन, मारीशस, न्यूजीलैड, जिम्बाम्बे, सिगापुर, हांगकाग और इजराइल सहित यूरोप से आने वाले यात्रियों पर सतर्कता से नजरें बनी हैं। राज्य मुख्यालय से विदेशों से आए यात्रियों की सूची प्राप्त होने के उपरान्त सबको ट्रेस किया जा रहा है। जिले में अब तक कुल 126 यात्रियों की सूची में विदेश से आये यात्रियों व परिवार के सभी सदस्यों के कोविड आरटीपीसीआरआर टेस्ट घर जाकर किए जा रहे हैं। स्वास्थ्य टीम सभी को हिदायतें दे रही हैं कि वे सात दिनों तक होम आइसोलेशन में रहें, मास्क का उपयोग करें। शारीरिक दूरी बनाए रखें।

इनफ्लुएंजा इलनैस वाले मरीजों के कोविड टेस्ट जरूरी

अधिकारियों के अनुसार पहले से चल रहे फ्लू कोर्नर में आए सभी मरीजों का कोविड टेस्ट जरूरी है। इनफ्लुएंजा इलनेस वाले मरीजों की कोविड टेस्टिग के लिए सभी प्राइवेट व सरकारी संस्थानों को निर्देश दिए गए हैं। किसी को खांसी, बुखार, जुकाम इत्यादि लक्षण आते हैं तो स्वास्थ्य विभाग की टीम को सूचित करें। सिविल सर्जन ने विदेशों से आने वालों कोविड प्रोटोकाल के पालन की अपील की। जिन यात्रियों को दूसरी डोज नहीं लगी, वे अवश्य लगवाएं।

कोविड प्रोटोकाल के पालन के आदेश

शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में दोबारा कोविड प्रोटोकाल का पालन करना होगा। सिविल सर्जन डा. योगेश शर्मा ने बताया कि कोरोना संकट में बार-बार हाथ धोना, मास्क का इस्तेमाल, शारीरिक दूरी का पालन फायदेमंद रहा। इन्हीं नियमों का पालन करना है। दक्षिण अफ्रीका में मिले कोरोना वायरस के नए वैरिएंट स्ट्रेन का ओमिक्रोन नाम रखा गया है। यह सबसे अलग है। आइएमए सदस्यों, सभी निजी व सरकारी फिजिशियनों ने भी कोविड प्रोटोकाल के पालन के सुझाव दिए।

नहीं मिला नया संक्रमित

उपायुक्त निशांत कुमार यादव ने सिविल सर्जन की रिपोर्ट के अनुसार बताया कि जिले में 593498 व्यक्तियों के सैंपल लिए गए, जिनमें 550267 व्यक्तियों की रिपोर्ट नेगेटिव आई। 24 घंटे में 1590 सैंपल लिए गए। जिले में अब तक 40039 केस सामने आए थे, जिनमें 39485 मरीज ठीक होकर घर चले गए। जिले में बुधवार को नया कोरोना केस नहीं मिला।

कम नहीं हो रहा डेंगू का डंक, जिले में चार नए मरीज

सर्दी बढ़ने के बावजूद डेंगू के मरीजों की संख्या में कमी नहीं आ रही है। अब तक जिले में 298 मरीज डेंगू की चपेट में आ चुके हैं। स्वास्थ्य सुविधाओं के मजबूत दावे भी डेंगू कम नहीं कर पा रहे। जिले में बुधवार को चार नए डेंगू के मरीज मिले। साफ है लचर व्यवस्थाओं के बीच आमजन को खुद जागरूक होने की जरूरत है, जिसके चलते बाजारों में भीड़ कम करने, शारीरिक दूरी और मास्क जरूरी की पालना सबसे आवश्यक है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.