वायुमंडल को स्वच्छ रखने के लिए यज्ञ ही एकमात्र विकल्प : आर्य

वायुमंडल को स्वच्छ रखने के लिए यज्ञ ही एकमात्र विकल्प : आर्य

आर्य समाज के महामंत्री अनिल आर्य ने कहा है कि कोरोना महामारी के दौर में हमारा वायुमंडल भी दूषित हो रहा है। दूषित हो रहे वायुमंडल को स्वच्छ रखने के लिए यज्ञ ही एकमात्र विकल्प है।

JagranWed, 12 May 2021 06:47 AM (IST)

संवाद सहयोगी, पूंडरी : आर्य समाज के महामंत्री अनिल आर्य ने कहा है कि कोरोना महामारी के दौर में हमारा वायुमंडल भी दूषित हो रहा है। दूषित हो रहे वायुमंडल को स्वच्छ रखने के लिए यज्ञ ही एकमात्र विकल्प है। वे मंगलवार को हुडा वेलफेयर एसोसिएशन के तत्वावधान में आयोजित हवन के मौके पर पहुंचे हुए थे। उन्होंने कहा कि दूषित वायुमंडल की हवा हमारे फेफड़ों को खराब करती है। कोरोना के केस में रोगी का सांस लेना भी मुश्किल हो जाता है। हमारे आयुर्वेद और वैदिक परंपरा में यज्ञ को वायुमंडल शुद्ध करने का माध्यम बताया है। यज्ञ की अग्नि में डाली गई कई प्रकार की औषधियों से कीटाणुनाशक गैस पैदा होती है और इससे अनेक बीमारियों का खात्मा होता है। यज्ञ से भगवान में भी विश्वास पैदा होता है, जिससे दिमाग पर पड़ने वाले दबाव और चिता से मुक्ति मिलती है। एसोसिएशन के पदाधिकारियों की तरफ से अगले कई दिनों तक लगातार सामूहिक यज्ञ का आयोजन किया जाएगा ताकि वातावरण को शुद्ध किया जा सके। इस मौके पर प्राध्यापक रोशनलाल, सोहनलाल, अशोक सैनी, नवीन टाया, रुलदूराम, मोहनलाल गुप्ता, प्रणव आर्य मौजूद थे।

आसमानी बिजली गिरने से ट्रांसफार्मर जला

संवाद सहयोगी, ढांड: आसमानी बिजली गिरने से जनस्वास्थ्य विभाग के टयूबवेल नंबर चार में रखा ट्रांसफार्मर जल गया। इसके साथ ही टयूबवेल का स्टार्टर व मोटर भी जल कर राख हो गए। टयूबवेल ऑपरेटर सोहन ने बताया कि शाम के समय जब वह पानी की सप्लाई के लिए मोटर चलाने के लिए पहुंचा तो उसे स्टार्टर व मोटर जली हुई मिली। जब बाहर कमरे से बाहर निकलकर देखा तो वहां रखा हुआ बिजली का ट्रांसफार्मर जला हुआ था। जो दोपहर के समय ट्रांसफार्मर पर आसमानी बिजली गिरने से मोटर भी जल गए। जिससे विभाग को लाखों रुपये का नुकसान हुआ है। ऑपरेटर ने बताया कि इसकी सूचना विभाग के उच्चाधिकारियों को दे दी है। इसके अलावा अनेकों घरों में भी आसमानी बिजली से उपकरण जल गए है। आसमानी बिजली से ट्रांसफार्मर व मोटर के जलने से सायं के समय घरों में पानी की सप्लाई नही पहुंच सकी है। जिससे लोगों को घरों में पीने के पानी की भारी किल्लत हो गई है। लोगों ने दूर दराज से पीने के पानी का प्रबंध करना पड़ा। संजीव कुमार, रामकला, बलबीर, इशमी,ताना, नफे सिंह, सुरजन, रामपाल, सुनहेरा प्रजापत ने संबंधित विभाग से इसे ठीक करके पानी की सप्लाई बहाल करने की मांग की है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.