दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

रोटेशन के हिसाब से आज से ड्यूटी करेंगे रोडवेज कर्मचारी

रोटेशन के हिसाब से आज से ड्यूटी करेंगे रोडवेज कर्मचारी

रोडवेज विभाग के सभी चालक व परिचालक रोटेशन के हिसाब से आज से ड्यूटी करेंगे। रोडवेज के जीएम ने डीआइ को पत्र लिखकर रोटेशन बनाकर ड्यूटी लगाने के आदेश दिए हैं।

JagranSat, 08 May 2021 07:01 AM (IST)

जागरण संवाददाता, कैथल : रोडवेज विभाग के सभी चालक व परिचालक रोटेशन के हिसाब से आज से ड्यूटी करेंगे। रोडवेज के जीएम ने डीआइ को पत्र लिखकर रोटेशन बनाकर ड्यूटी लगाने के आदेश दिए हैं। बता दें कि लॉकडाउन के समय से यात्रियों की संख्या कम होने के कारण 30 के करीब ही बसें रूटों पर जा रही है, लेकिन कर्मचारी सभी आ रहे थे। कोरोना बीमारी के संक्रमण व दो गज की दूरी को ध्यान में रखकर 50 फीसदी कर्मचारी बुलाने का फैसला लिया है।

बॉक्स- ऐसा बनाया है रोटेशन-

डिपो की तरफ से एक रेस्ट व एक दिन की ड्यूटी लगाई गई है। एक दिन काम करने वाला चालक व परिचालक को दूसरे दिन छूट्टी दे दी जाएगी। वहीं एमरजेंसी के समय सभी चालक व परिचालकों को फोन पर सूचना देकर ड्यूटी पर बुलाया जा सकता है। इसके लिए कर्मचारियों को कार्यालय से जुड़े रहना होगा।

बॉक्स- डिपो का सराहनीय फैसला- चालक व परिचालक

चालक व परिचालक सुशील, कृष्ण, ओमप्रकाश, सुरेंद्र, राजेश ने बताया कि विभाग ने यह एक अच्छा फैसला लिया है। जीएम से मांग की थी एक समय में रोटेशन के हिसाब से कर्मचारियों को बुलाया जाए। इससे चालक व परिचालक को रेस्ट मिल जाएंगा। वहीं कोरोना जैसी बीमारी से बचा जाएगा।

रोटेशन के हिसाब से कर्मचारियों की ड्यूटी लगा दी गई है। 50 फीसदी चालक व परिचालक कार्यालय में उपस्थित रहेंगे। मास्क व सैनिटाइजर के बिना बस स्टैंड में प्रवेश की कोई अनुमति नहीं है। वहीं रोजाना सभी कर्मचारियों के तापमान की जांच करवाई जाएगी। बस स्टैंड को रोजाना सैनिटाइजर करवाया जा रहा है। बसें भी बिना सैनिटाइजर के रूट पर नहीं जा रही है। सफाई का विशेष ध्यान रखा जा रहा है। ताकि लोगों को संक्रमति होने से बचाया जा सकें।

अजय गर्ग, रोडवेज जीएम कैथल

होम आइसोलेशन में रह रहे व्यक्तियों के लिए होगी ऑक्सीजन रिफीलिग की व्यवस्था: अमित अग्रवाल

जागरण संवाददाता, कैथल: कोरोना काल में जो व्यक्ति संक्रमित होकर होम आइसोलेशन में हैं, ऐसे व्यक्तियों के लिए ऑक्सीजन घर पर पहुंचाने की व्यवस्था करने के लिए रेडक्रॉस सोसायटी के माध्यम से इंतजाम किए जा रहे हैं। इस कार्य में जो भी स्वयंसेवी संस्थाएं काम करना चाहती हैं, वे सभी पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करवाएं। आगामी दिनों संबंधित व्यक्ति जो होम आइसोलेशन में हैं और उन्हें ऑक्सीजन की जरूरत पड़ती हैं तो वे भी ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। यह जानकारी मुख्यमंत्री मनोहर लाल के अतिरिक्त प्रधान सचिव अमित कुमार अग्रवाल ने वीडियो कान्फ्रेंस के माध्यम से जिला के ऑक्सीजन नोडल अधिकारियों की बैठक लेकर दी।

उन्होंने कहा कि सभी जिलों में एक निर्धारित स्थान चयनित कर लें। सभी अधिकारी इस समय समाज के प्रति अपने नैतिक कर्तव्यों का पालन करते हुए पूरी जिम्मेदारी से कार्य करें। लोगों की सेवा करने का मौका मिला है। इसे और अधिक तत्परता से पूरा करें। मिशन मोड में आकर कार्य करें। जिस व्यक्ति को यह सुविधा देनी है, मौके पर जाकर भी स्वयंसेवी संस्थाओं के प्रतिनिधि और अधिकारियों की टीम जाकर देख सकते हैं कि संबंधित व्यक्ति को ऑक्सीजन की जरूरत है, उसी के अनुरूप कार्य करें।

इस मौके पर जिला के नोडल अधिकारी समवर्तक सिंह, सीटीएम अमित कुमार, डीडीपीओ जसविद्र सिंह, ईओ बलबीर रोहिला, बीडीपीओ फूल कुमार, रेडक्रॉस प्रवक्ता बीरबल दलाल मौजूद रहे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.