कृषि विधेयक से न्यूनतम समर्थन मूल्य पर नहीं पड़ेगा कोई फर्क : बराला

कृषि विधेयक से न्यूनतम समर्थन मूल्य पर नहीं पड़ेगा कोई फर्क : बराला
Publish Date:Tue, 29 Sep 2020 06:21 AM (IST) Author: Jagran

जागरण संवाददाता, कैथल : भाजपा के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी किसान की आय को दोगुणा करने की दिशा में निरंतर कार्य कर रहे हैं। कृषक उत्पाद, व्यापार और वाणिज्य (संवर्धन और सरलीकरण) विधेयक 2020 को पारित होने से देश के करोड़ों किसानों के जीवन में क्रांतिकारी बदलाव आएंगे। वे पीडब्ल्यूडी रेस्ट हाउस में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे।

बराला ने कहा कि अब किसान अपनी फसलों को मंडी, खेत और देश के किसी भी कोने में लाभकारी मूल्य पर बेच सकेंगे। इस विधेयक के पारित होने से न तो मंडियां खत्म होंगी और न ही एमएसपी यानि न्यूनतम समर्थन मूल्य।

बराला ने कहा कि केंद्र और राज्य सरकार ने हमेशा किसानों और व्यापारियों के हितों की रक्षा करने का काम किया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की दूरगामी सोच के चलते किसानों की आय में जबरदस्त इजाफा होगा, जिससे किसानों की आर्थिक स्थिति मजबूत होगी।

सीएम ने बाजरा, कपास, एमएसपी पर खरीदने का किया काम

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने 2014 के बाद बाजरा, कपास, मक्का, सुरजमुखी आदि फसलों को एमएसपी पर खरीदने का काम किया है। विपक्षी दल किसानों को बरगलाने का कार्य कर रहे हैं, जोकि किसी भी प्रकार से किसानों के हित में नहीं है। किसान क्रेडिट कार्ड से लेकर किसानों को फसलों के भाव देने की बात है तो सरकार द्वारा दूसरी सरकारों से ज्यादा दाम दिए गए हैं।

इस मौके पर विधायक लीला राम, पूर्व विधायक फूल सिंह खेड़ी, अरुण सर्राफ, राजपाल तंवर, राव सुरेंद्र सिंह, सुरेश गर्ग, कैलाश भगत, मनीष कठवाड़, संजय भारद्वाज, रामकुमार नैन, हरपाल शर्मा, भाग सिंह खनौदा, राजरमन दीक्षित मौजूद थे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.