जिले में ऑक्सीजन प्लांट स्थापित करने की कवायद

डीसी सुजान सिंह ने कहा कि कोरोना संक्रमण की बढ़ोतरी के मद्देनजर जिला में ऑक्सीजन पर्याप्त मात्रा में है। भविष्य की स्थित का आकलन करते हुए यदि ऑक्सीजन की खपत अधिक होती है तो उसकी पूर्ति के लिए जिले में ऑक्सीजन प्लांट स्थापित करने की आवश्यकता है। इस प्लांट को स्थापित करने के लिए लगभग 50 लाख रुपये खर्च होंगे। इस कार्य के लिए जिला की समाजसेवी धार्मिक राजनीतिक संस्थाओं के साथ-साथ आमजन अपनी क्षमता अनुसार आर्थिक रूप से पूर्ण सहयोग करें। डीसी सुजान सिंह ने कहा कि कोरोना संक्रमण की बढ़ोतरी के मद्देनजर जिला में ऑक्सीजन पर्याप्त मात्रा में है। भविष्य की स्थित का आकलन करते हुए यदि ऑक्सीजन की खपत अधिक होती है तो उसकी पूर्ति के लिए जिले में ऑक्सीजन प्लांट स्थापित करने की आवश्यकता है। इस प्लांट को स्थापित करने के लिए लगभग 50 लाख रुपये खर्च होंगे। इस कार्य के लिए जिला की समाजसेवी धार्मिक राजनीतिक संस्थाओं के साथ-साथ आमजन अपनी क्षमता अनुसार आर्थिक रूप से पूर्ण सहयोग करें।

JagranSun, 02 May 2021 06:00 AM (IST)
जिले में ऑक्सीजन प्लांट स्थापित करने की कवायद

जागरण संवाददाता, कैथल: डीसी सुजान सिंह ने कहा कि कोरोना संक्रमण की बढ़ोतरी के मद्देनजर जिला में ऑक्सीजन पर्याप्त मात्रा में है। भविष्य की स्थित का आकलन करते हुए यदि ऑक्सीजन की खपत अधिक होती है तो उसकी पूर्ति के लिए जिले में ऑक्सीजन प्लांट स्थापित करने की आवश्यकता है। इस प्लांट को स्थापित करने के लिए लगभग 50 लाख रुपये खर्च होंगे।

इस कार्य के लिए जिला की समाजसेवी, धार्मिक, राजनीतिक संस्थाओं के साथ-साथ आमजन अपनी क्षमता अनुसार आर्थिक रूप से पूर्ण सहयोग करें।

इस कार्य के लिए कैथल एसडीएम डा. संजय कुमार व हरियाणा राज्य राइस मिलर्स एसोसिएशन के चेयरमैन अमरजीत छाबड़ा को नोडल अधिकारी बनाया गया है।

डीसी सुजान सिंह कोविड-19 को लेकर जिला की एसोसिएशन के प्रतिनिधियों और संबंधित अधिकारियों के साथ बैठक कर रहे थे। उन्होंने कहा कि जिला की स्थिति अभी नियंत्रण में है, लेकिन भविष्य की तैयारियों के लिए हमें अलर्ट होना होगा और सभी तैयारियां समयबद्ध पूरी करनी होगी। जिला में हमें रोजाना होने वाली मृत्यु के आंकड़े को शून्य पर लेकर आना है। कोरोना मरीजों की सुविधाओं में कोई भी कमी नहीं रहनी चाहिए।

इस समय हमें सभी अस्पतालों में ऑक्सीजन पूर्ण रूप से उपलब्ध करवाना है और इसके लिए यदि किसी भी प्राइवेट अस्पतालों व औद्योगिक संस्थानों में ऑक्सीजन के खाली सिलेंडर हैं तो उन्हें जिला प्रशासन को उपलब्ध करवाएं ताकि उन सबको भी भरवाकर रखा जा सके और जरूरत पड़ने पर इस्तेमाल में लाया जा सके। हमें सकारात्मक सोच के साथ इस कोरोना महामारी को हराना है। ऐसे में सामाजिक व अन्य संस्थाओं को निस्वार्थ भावना व मानवता की सेवा के लिए आगे आना चाहिए और जिला प्रशासन को सहयोग दें ताकि पूर्व की भांति जिला की स्थिति नियंत्रण में रहे और आमजन सुरक्षित रहे।

इस मौके पर एसडीएम डा.संजय कुमार, विरेंद्र ढुल, नवीन कुमार, तहसीलदार सुदेश मेहरा, नायब तहसीलदार ईश्वर सिंह, सिविल सर्जन डा.ओमप्रकाश, डीएमईओ अजय श्योराण, डा. आरडी चावला, अमरजीत छाबड़ा, अमन गुप्ता, हरीश सैनी, सतीश बंसल मौजूद रहे।

बॉक्स : यह है जिला का कैथल कोरोना रिलीफ फंड अकाउंट नंबर

डीसी सुजान सिंह ने कहा कि संकट की इस घड़ी में पूर्व की भांति कोई भी सामाजिक, धार्मिक, राजनीतिक व आमजन अपनी क्षमता के अनुसार जिला के कोविड रिलीफ फंड में सहयोग कर सकता है, जिसे स्वास्थ्य सेवाओं में लगाया जाएगा। सभी दानी सज्जन जिला के कैथल कोरोना रिलीफ फंड के स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के अकाउंट नंबर- 39248783207 जिसका आइएफएससी कोड- एसबीआइएन0000663 है।

बॉक्स: स्टेशन नहीं छोड़ेंगे अधिकारी

डीसी सुजान सिंह ने आदेश जारी किए हैं कि बिना किसी पूर्व अनुमति के कोई भी अधिकारी व कर्मचारी अपना जिला मुख्यालय नहीं छोड़ेगा। कोई भी अधिकारी व कर्मचारी अगर कोविड महामारी के चलते बिना पूर्व अनुमति के स्टेशन पर उपलब्ध नही होगा तो इस कोताही को गंभीरता से लिया जाएगा और संबंधित अधिकारी व कर्मचारी के खिलाफ अनुशासनिक कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.