कोरोना से भी बड़ी बीमारियों को खत्म करता है योग

कोरोना से भी बड़ी बीमारियों को खत्म करता है योग
Publish Date:Tue, 29 Sep 2020 06:48 AM (IST) Author: Jagran

जागरण संवाददाता, जींद: योग आसन करके बड़ी से बड़ी बीमारियों को ठीक किया जा सकता है। कोरोना वायरस से लड़ने के लिए तो सिर्फ मजबूत इम्युनिटी सिस्टम चाहिए। रोज सुबह एक घंटे आसन, प्राणायाम कर लिया जाए तो कोरोना होगा ही नहीं और हो भी जाए वह कुछ नुकसान नहीं कर पाएगा। क्योंकि भस्त्रिका व अनुलोम विलोम प्राणायाम से ही सांस नली व फेफड़े काफी मजबूत बन जाते हैं। योग करके हम माइग्रेन, सर्वाइकल, मोटापा, डायबिटीज, हृदय रोग, जोड़ों के दर्द, साइटिका जैसे रोगों को भी आसानी से ठीक कर सकते हैं। यह कहना है विश्व चैंपियन योगाचार्य जोरा सिंह आर्य का।

दैनिक जागरण से बातचीत में जोरा सिंह आर्य ने कहा कि नियमित योगाभ्यास सभी बीमारियों के खिलाफ सबसे कारगर दवा है। योगाभ्यास ऐसी दवा है, जिसका कोई साइड इफेक्ट भी नहीं है। अब तो विज्ञान भी मान चुका है कि योग करके ही निरोग रह सकते हैं। हाथ-पैर और कमर में दर्द, शुगर जैसी मेटबॉलिज्म में गड़बड़ी की बीमारियां, सांस व रक्तसंचार की बीमारियां, मानसिक बीमारियों में योग करना सबसे अधिक फायदेमंद है। आज के आधुनिक रहन-सहन व खान-पान के के कारण ये बीमारियां आम हो गई हैं। महिलाओं में मासिक धर्म के कष्ट, गर्भधारण होने या नहीं होने की समस्याओं या रजोविराम जैसी अवस्थाओं की शारीरिक व मानसिक परेशानियां कम करने में योगाभ्यास से सहायता मिलती है। खराब खानपान और लाइफस्टाइल के कारण शुगर आम बीमारी हो गई है। कई लोगों को डायबिटीज की समस्या जेनेटिक भी होती है। कुछ योगासन और प्राणायाम करके शुगर को नेचुरल तरीके से खत्म कर सकते हैं। शरीर में शुगर लेवल बढ़ता है तो किडनी, हार्ट, ब्लड प्रेशर या फिर आंखों की रोशनी कम होने की शिकायत हो जाती है। डायबिटीज के कारण पूरा शरीर खोखला हो जाता है। हाथ, कंधे आदि जमने लगते हैं। मंडूकासन, वक्रासन, अ‌र्द्धमत्येंद्रासन, गोमुखासन, उत्तानपादासन करके आसानी से डायबिटीज को खत्म कर सकते हैं। इसी तरह सूर्य नमस्कार का नियमित अभ्यास करने से वजन बढ़ा भी सकते हैं और घटा भी सकते हैं। रोज इसका अभ्यास करने से डायबिटीज सहित कई बीमारियों से कोसों दूर रहेंगे।

वर्जन

योगासन व प्राणायाम करके कई बीमारियों को जड़ से खत्म किया जा सकता है। इनमें नजला, जुकाम, दमा, थायराइड, माइग्रेन, कमर दर्द, सर्वाइकल, साइटिका, जोड़ों के दर्द, गैस संबंधी विकार, शुगर, गठिया बाय, मोटापा, हाई व लो ब्लड प्रेशर, चर्म रोग, स्ट्रेस, डिप्रेशन आदि बीमारियों को योग करके खत्म कर सकते हैं। योगासन व प्राणायाम हमारे शरीर के भीतर के अंगों व सूक्ष्म नाड़ियों को शुद्ध-पुष्ट करता है।

-योगाचार्य जोरा सिंह आर्य, डिवाइन योग सेंटर, अर्बन एस्टेट, जींद

इन तीन प्राणायाम से कोरोना नहीं होगा

कपालभाति: यह प्राणायाम को करने की प्रक्रिया में सांस लेते हैं और छोड़ते हैं। रोजाना करीब पांच मिनट इस प्राणायाम को करने से आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत होगी और कोरोना सहित किसी भी प्रकार के संक्रमण से बचे रहेंगे। अनुलोम-विलोम: इस प्राणायाम से सामान्य रूप से होने वाली सर्दी खांसी और जुकाम तक नहीं होती है। इससे श्वसन क्रिया बेहतर हो जाती है। डॉक्टरी रिसर्च में भी बताया जा चुका है कि इससे शरीर की इम्युनिटी काफी मजबूत होती है। भस्त्रिका: यह बहुत अच्छा प्राणायाम है। इसके करने से कोरोना वायरस से संक्रमित होने से बचे रहेंगे। शरीर की कोशिकाएं स्वस्थ बनी रहती हैं और श्वसन क्रिया से जुड़ी कोई भी बीमारी आपको नहीं होगी। आपकी इम्युनिटी भी मजबूत रहेगी।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.