-एक ही रूट नंबर से चल रही दो प्राइवेट बसें

-एक ही रूट नंबर से चल रही दो प्राइवेट बसें
Publish Date:Tue, 27 Oct 2020 06:35 AM (IST) Author: Jagran

-जींद से पानीपत का रूट नंबर 127 ही पानीपत की तरफ से कर दिया जारी फोटो- 3 जागरण संवाददाता, जींद : जींद-पानीपत रूट पर परिवहन विभाग का नया कारनामा सामने आया है। जींद-पानीपत मार्ग पर एक ही रूट नंबर से दो बसें चल रही हैं, जबकि नियमों के अनुसार एक रूट नंबर एक ही समिति की बस को जारी किया जा सकता है। रूट नंबर 127 ही जींद से पानीपत जाने वाली बस के लिए जींद आरटीए की तरफ से जारी किया गया है तो रूट नंबर 127 ही पानीपत आरटीए कार्यालय की तरफ से समिति की दूसरी बस के लिए जारी कर दिया गया है। जींद-पानीपत, जींद-हांसी, जींद-बरवाला, जींद-असंध, जींद-सोनीपत, जींद-कैथल, नरवाना-कैथल, नरवाना-टोहाना रूटों पर अंतर जिला प्राइवेट बसें चल रही हैं। इन रूटों पर दोनों ही जिलों की तरफ से अलग रूट नंबर और अलग ही समयसारिणी जारी की जाती है। उदाहरण के लिए जींद-पानीपत रूट पर प्राइवेट बसें चल रही हैं तो पानीपत की प्राइवेट बसों का रूट नंबर और टाइम टेबल पानीपत आरटीए कार्यालय की तरफ से जारी किया जाएगा और जींद की बसों का रूट नंबर जींद आरटीए कार्यालय जारी करेगा। एक मार्ग पर एक समिति की बसों के लिए एक रूट नंबर ही जारी किया जा सकता है। रूट नंबर 127 जींद आरटीए कार्यालय द्वारा पहले ही जारी किया हुआ है लेकिन अगस्त महीने में यही रूट नंबर पानीपत की बस के लिए भी वहां के आरटीए कार्यालय द्वारा जारी कर दिया गया, जो नियमों के अनुसार जारी नहीं किया जा सकता। जींद डिपो महाप्रबंधक ने लगाया था आब्जेकशन

अनलॉक-3 के दौरान अगस्त महीने में पानीपत आरटीए की तरफ से रूट नंबर 127 जारी कर इसकी समयसारिणी जींद डिपो प्रबंधन के पास भेजी थी। इस पर जींद डिपो के महाप्रबंधक ने आब्जेक्शन लगा दिया था। इसके बाद पानीपत आरटीए कार्यालय की तरफ लिखित में दिया गया, जिसे जींद डिपो प्रबंधन ने जींद आरटीए कार्यालय को फारवर्ड कर दिया। रोडवेज को लग रहा चूना

रूट नंबर 127 से चल रही पानीपत की यह बस जींद से पानीपत के लिए सुबह 11 बजे बूथ पर लगती है और 11 बजकर 10 मिनट पर निकलती है। इसके बाद लगातार रोडवेज की तीन बसें बूथ पर लगती हैं। ऐसे में अगर यह बस बिना परमिट की हुई तो रोडवेज को भारी चूना लग रहा है, जो जांच का विषय है। मामले की जांच हो, तभी पता चल सकता है कि बस का परमिट है या नहीं। एक रूट नंबर से नहीं चल सकती दो बसें : डीटीओ

(डीटीओ) जिला परिवहन अधिकारी सत्येंद्र दूहन ने बताया कि एक रूट नंबर से दो बसें नहीं चल सकती। जींद से पानीपत की तरफ जाने वाली जींद की परिवहन समिति की बसों के का रूट नंबर 127 पहले से ही उनके कार्यालय द्वारा जारी किया गया है। अगर पानीपत की तरफ से जींद आने वाली प्राइवेट बस का भी यही रूट नंबर है तो इस बारे पानीपत आरटीए कार्यालय से ही पता करना पड़ेगा।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.