दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

नागरिक अस्पताल को मिले 10 इंटर्न डाक्टर, मरीजों को मिलेगा बेहतर उपचार

नागरिक अस्पताल को मिले 10 इंटर्न डाक्टर, मरीजों को मिलेगा बेहतर उपचार

कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर काफी खतरनाक साबित हो रही है। इसमें संक्रमितों की संख्या पहली लहर के बजाय बहुत ज्यादा बढ़ रही है।

JagranSat, 15 May 2021 06:54 AM (IST)

जागरण संवाददाता, जींद : कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर काफी खतरनाक साबित हो रही है। इसमें संक्रमितों की संख्या पहली लहर के बजाय बहुत ज्यादा बढ़ रही है। इस कारण अस्पतालों में चिकित्सकों पर दबाव इतना ज्यादा बढ़ गया है कि वह दिन-रात ड्यूटी कर उपचार में जुटे हैं। मरीजों को और ज्यादा बेहतर उपचार की सुविधा देने और वर्तमान में काम कर रहे चिकित्सकों पर से थोड़ा काम का दबाव कम करने के लिए जींद के नागरिक अस्पताल को 10 इंटर्न चिकित्सक मिले हैं। रोहतक पीजीआइ से एमबीबीएस करने के बाद अंडर ट्रेनिग 10 चिकित्सकों ने शुक्रवार को अपनी ड्यूटी ज्वाइन कर ली। इससे मरीजों को इलाज की बेहतर सुविधा मिलेगी। एमबीबीएस फाइनल ईयर में पढ़ने वाले 20 स्टूडेंट्स भी अगले सप्ताह नागरिक अस्पताल में ज्वाइन करेंगे, जिसके बाद यहां चिकित्सकों की कोई कमी नहीं रहेगी।

शुक्रवार को 10 इंटर्न चिकित्सकों ने नागरिक अस्पताल में अपनी ड्यूटी ज्वाइन की। डिप्टी एमएस डा. राजेश भोला ने सभी इंटर्न चिकित्सकों को उनकी ड्यूटी समझाते हुए फ्लू कॉर्नर, इमरजेंसी वार्ड, कोविड वार्ड, सीटी स्कैन कक्ष का दौरा करवाया और वहां की व्यवस्थाओं को लेकर जानकारी दी। रविवार से यह सभी चिकित्सक अपनी-अपनी जगह पर ड्यूटी शुरू कर देंगे। 10 इंटर्न चिकित्सकों के आने से नागरिक अस्पताल की व्यवस्था सुधरेगी और मरीजों को और ज्यादा बेहतर सर्विस मिलेगी।

----------------

सालों से नहीं भर पा रहे अस्पताल के खाली पद

जींद जिले के नागरिक अस्पतालों में सालों से कई पद खाली पड़े हैं, जो कभी भी पूरे नहीं भर पाए। एक चिकित्सक आता है तो दूसरे की ट्रांसफर हो जाती है। इससे हमेशा यहां कोई न कोई चिकित्सक का पद खाली ही रहता है। इस समय भी 20 फीसद से ज्यादा चिकित्सकों के पद खाली पड़े हैं। जींद की धरती से राजनीतिक सफर कर कई नेता मंत्री और विधायक बने लेकिन मंत्री बनने के बाद उन्होंने जींद की स्वास्थ्य सेवाओं को दुरुस्त करने को लेकर कोई प्रयास नहीं किए।

------------------

जाट धर्मशाला में किया रहने का इंतजाम : डा. राजेश भोला

डिप्टी एमएस डा. राजेश भोला ने बताया कि इंटर्न चिकित्सकों के रहने के लिए जाट धर्मशाला में व्यवस्था की गई है। प्रशासन की तरफ से ही इन इंटर्न चिकित्सकों को रहने और खाने-पीने की सुविधा उपलब्ध करवाई जा रही है। सभी को ड्यूटी के बारे में समझा दिया गया है।

------------------

20 और चिकित्सकों की डिमांड भेजी : डा. पूनिया

नागरिक अस्पताल के डिप्टी सिविल सर्जन डा. रघुबीर पूनिया ने बताया कि अस्पताल में मरीजों की संख्या बहुत ज्यादा होने और कुछ चिकित्सकों के होम आइसोलेट होने के बाद चिकित्सकों पर दबाव काफी बढ़ गया था। सरकार से चिकित्सकों की डिमांड भेजी गई थी। एमबीबीएस की पढ़ाई पूरी कर चुके 10 इंटर्न चिकित्सकों ने ज्वाइन कर लिया है। 20 और मेडिकल स्टूडेंट सोमवार या मंगलवार तक ज्वाइन कर लेंगे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.