अवैध संबंधों में बाधा बनने पर की थी राजमिस्त्री की हत्या

अवैध संबंधों में बाधा बनने पर की थी राजमिस्त्री की हत्या
Publish Date:Mon, 28 Sep 2020 06:50 AM (IST) Author: Jagran

जागरण संवाददाता, जींद : गांव उचाना खुर्द के निकट शनिवार रात को राजमिस्त्री मनोज की हत्या के मामले में स्वजनों ने अवैध संबंधों में बाधा बनने पर उसकी पत्नी पूजा व गांव के ही युवक सुरेश उर्फ काला के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज करवाया है। आरोपित पत्नी व युवक सुरेश को गिरफ्तार करने की मांग को लेकर स्वजनों ने रविवार दोपहर को उचाना में जींद-पटियाला मार्ग पर शव रखकर जाम लगा दिया। स्वजनों का कहना था कि जब तक आरोपित पूजा व सुरेश की गिरफ्तारी नहीं होती वह शव का अंतिम संस्कार नहीं करेंगे। थाना प्रभारी कृष्ण कुमार ने स्वजनों को समझाने का प्रयास किया, लेकिन वह जाम खोलने के लिए तैयार नहीं हुए। बाद में डीएसपी जितेंद्र सिंह स्वजनों के बीच में पहुंचे और जल्द ही आरोपितों को गिरफ्तार करने का आश्वासन देने पर स्वजन जाम खोलने के लिए तैयार हो गए।

गांव सेढ़ा माजरा निवासी बीरमति ने उचाना थाना पुलिस को दी शिकायत में बताया कि उसका 28 वर्षीय बेटा मनोज राजमिस्त्री का काम करता था। पिछले 20 दिनों से वह गांव बुडायन में मकान बनाने के कार्य में लगा हुआ था। उसने आरोप लगाया कि उसकी पुत्रवधू पूजा के गांव के ही युवक सुरेश के साथ अवैध संबंध थे। इसके बारे में मनोज को पता चल गया था। इस पर सुरेश को समझाया भी गया, लेकिन सुरेश फिर भी उनके घर आता-जाता था। इसी बात को लेकर शनिवार सुबह भी उनके बीच में कहासुनी हुई थी। उसके बाद मनोज काम पर चला गया। देर शाम को जब वह घर लौट रहा था तो योजनाबंद तरीके से मनोज को दो गोली मार दी और उसकी मौत हो गई। आरोप है कि संबंधों में बाधा बनने के चलते उसकी पुत्रवधू पूजा ने सुरेश के साथ मिलकर मनोज की हत्या करवाई है। पुलिस ने मृतक की पत्नी पूजा व गांव सेढ़ा माजरा निवासी सुरेश के खिलाफ हत्या, शस्त्र अधिनियम व साजिश रचने का मामला दर्ज किया है।

--------------------

मरते समय मां को बताया मारने वाले का नाम

बीरमति ने बताया कि मनोज उसका इकलौता बेटा था। करीब आठ साल पहले उसकी शादी हिसार जिले के गांव मोठ निवासी पूजा के साथ हुई थी। शादी के बाद दो लड़के हुए। इसी बीच में पूजा के संपर्क में सुरेश आ गया। इसके बाद दोनों के बीच में अनबन शुरू हो गई। इस पर सुरेश को समझाया भी गया, लेकिन फिर भी वह नहीं माना। इसके बाद से सुरेश उसके बेटे मनोज के साथ रंजिश रखने लगा था। शनिवार रात को उन्हें सूचना मिली कि उचाना खुर्द सड़क पर मनोज घायल पड़ा है। इसके बाद वह जेठ के लड़के संजय के साथ मौके पर गए। जहां मनोज घायल अवस्था में पड़ा था। मनोज ने उसे बताया कि उसे सेढ़ा माजरा के ही सुरेश ने गोली मारी है। इसके बाद उसे अस्पताल में लेकर गए तो उसकी मौत हो गई।

-----------------------

सड़क हादसे की मिली थी सूचना

मनोज के ताऊ के लड़के संजय ने बताया कि उनके खेत के पड़ोसी ने गांव में जाकर बताया कि मनोज सड़क हादसे में घायल हो गया है और वह सड़क पर पड़ा है। जब उन्होंने मौके पर जाकर संभाला तो सड़क हादसा नहीं बल्कि मनोज को गोली लगी हुई थी। उस समय तक मनोज बोल रहा था। जब उसे जींद अस्पताल में लेकर आए तो उसकी मौत हो गई। उसके नजदीक ही गोलियों के खोल पड़े हुए थे। जिससे साफ था कि मनोज को गोलियां मारी गई हैं।

-------------------

वर्जन्:

स्वजनों ने अवैध संबंधों के चलते पुत्रवधू पर गांव के ही सुरेश के साथ मिलकर हत्या करने के आरोप लगाए हैं। दोनों आरोपितों को जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा। शव का पोस्टमार्टम करवाकर स्वजनों को सौंप दिया है।

-कृष्ण कुमार, थाना प्रभारी उचाना।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.