पंडित दीनदयाल उपाध्याय का जीवन दूसरे के लिए प्रेरणा स्त्रोत : मोर

भारतीय जनसंघ के संस्थापक रहे पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती पर भाजपा कार्यकर्ताओं ने जिलेभर में कार्यक्रमों का आयोजन किया। पिल्लूखेड़ा में भाजपा पिल्लूखेड़ा मंडल और महिला मोर्चा द्वारा उनकी जयंती पर कार्यक्रम आयोजित किया गया।

JagranSun, 26 Sep 2021 06:38 AM (IST)
पंडित दीनदयाल उपाध्याय का जीवन दूसरे के लिए प्रेरणा स्त्रोत : मोर

जागरण संवाददाता, जींद : भारतीय जनसंघ के संस्थापक रहे पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती पर भाजपा कार्यकर्ताओं ने जिलेभर में कार्यक्रमों का आयोजन किया। पिल्लूखेड़ा में भाजपा पिल्लूखेड़ा मंडल और महिला मोर्चा द्वारा उनकी जयंती पर कार्यक्रम आयोजित किया गया। कार्यक्रम में भाजपा जिला प्रधान राजू मोर मुख्य अतिथि के रूप में शामिल हुए। जयंती के अवसर पर महिला मोर्चा द्वारा स्वच्छता अभियान के तहत पालीथिन से बचाव के लिए थैलों का वितरण भी किया गया ।

राजू मोर ने कहा कि पंडित दीनदयाल उपाध्याय का जीवन चरित्र किसी परिचय का मोहताज नहीं है और न ही उनके जीवन को शब्दों में बयान किया जा सकता है । उनका जीवन दूसरों के लिए प्रेरणा स्त्रोत है। उनका जीवन सदैव गरीबों के लिए समर्पित रहा और समाज की अंतिम पंक्ति में खड़े अंतिम व्यक्ति को लाभ पहुंचाने के लिए उन्होंने अंत्योदय व एकात्म मानववाद का नारा दिया। इस अवसर पर अमरपाल राणा, विजयपाल एडवोकेट, सुंदर देशवाल, सोमदत्त शर्मा, महिला मोर्चा जिला अध्यक्ष कविता शर्मा, मंजू शर्मा, योगिता शर्मा, रामरती वर्मा मौजूद थी। किसान रोशनलाल के परिवार को कांग्रेस ने दो लाख की आर्थिक सहायता

संवाद सहयोगी, अलेवा : टिकरी बार्डर पर किसान आंदोलन में सात माह पहले मरे गांव चुहड़पुर के किसान रोशनलाल के घर पर शुक्रवार देर शाम को गोहाना से कांग्रेसी विधायक कुलबीर सिंह मलिक व सफीदों विधानससभा से विधायक सुभाष गांगोली पहुंचे। जहां पर उसके परिवार के सदस्यों को दो लाख रुपये की आर्थिक सहायता दी गई। उन्होंने कहा कि किसानों की आवाज को दबने नहीं दिया जाएगा। प्रदेश सरकार गिरने से केंद्र सरकार झुकेगी और सरकार गिरते ही कृषि कानून रद होंगे। जिससे निर्दलीय विधायको के साथ-साथ जजपा विधायकों को तुरंत इस्तीफा देना चाहिए। कांग्रेस सरकार शुरू से ही किसानों के साथ थी और आगे भी किसान उनकी प्राथमिकता होगी। किसानों का आंदोलन अंतरराष्ट्रीय स्तर का बन चुका है। केंद्र सरकार को बातचीत के माध्यम से इसका तुरंत हल निकालना चाहिए। किसान संयम एवं धर्य के साथ काम ले। इस अवसर पर जिला पार्षद दिनेश डाहौला, लक्ष्य मिल्क प्लांट कंडेला के निदेशक बलजीत रेढू, विरेंद्र घोघड़ियां उपस्थित थे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.