top menutop menutop menu

जींद की बड़ी छलांग, प्रदेश में दूसरे नंबर पर पहुंचा, 14985 विद्यार्थी हुए पास

जागरण संवाददाता, जींद : हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड के दसवीं के परीक्षा परिणाम में जींद जिले के विद्यार्थियों ने शानदार प्रदर्शन किया। परिणाम में जींद में बड़ी छलांग लगाते हुए पूरे प्रदेश में ओवरऑल दूसरा स्थान हासिल किया। प्रदेश में टॉपर रहे रेवाड़ी से जींद का अंतर बहुत कम रहा। जबकि पिछले साल जींद प्रदेश में नौवें स्थान पर रहा था। जिला शिक्षा अधिकारी मदन चोपड़ा ने शानदार परिणाम के लिए जिले के सभी शिक्षकों, विद्यार्थियों व अभिभावकों को बधाई दी।

कोरोना के खौफ के बीच जिले के 21 हजार 391 विद्यार्थियों ने दसवीं की परीक्षा दी थी। इनमें से 14985 विद्यार्थियों ने परीक्षा पास की, जबकि 4620 विद्यार्थी फेल हो गए। 1786 विद्यार्थियों का कंपार्टमेंट आया है। इस तरह जिले का परीक्षा परिणाम 70.05 प्रतिशत रहा, जबकि पिछले साल 60.08 प्रतिशत था। खास बात यह रही कि जिले के उचाना मंडी के गीता विद्या मंदिर स्कूल के छात्र रोहित ने 498 अंक लेकर प्रदेश में तीसरा व जिले में पहला स्थान हासिल किया। आदर्श बाल हाई स्कूल जींद के छात्र परमीत ने 496 अंकों के साथ जिले में दूसरे नंबर पर रहे। ज्ञान सरोवर विद्या मंदिर स्कूल की छात्रा तान्या, सरस्वती पब्लिक स्कूल के छात्र आशीष व नव दुर्गा सीनियर सेकेंडरी स्कूल की अन्नू दूहन ने 495 अंक लेकर संयुक्त रूप से तीसरा स्थान हासिल किया।

-------------

कलस्टर लेवल पर हुआ काम, जिससे सुधरा परिणाम

जिला शिक्षा अधिकारी मदन चोपड़ा ने बताया कि पिछले साल जिले में दसवीं का परिणाम 60.08 प्रतिशत रहा था। परिणाम सुधारने के लिए डीसी के मार्गदर्शन में कलस्टर लेवल पर काम किया गया। जो विद्यार्थी पढ़ाई में कमजोर थे, उन पर विशेष ध्यान दिया गया। शिक्षकों ने अतिरिक्त कक्षाएं भी ली गई। सभी के संयुक्त प्रयास रंग लाए और दूसरे नंबर पर पहुंच गए। इस साल और ज्यादा मेहनत करके जींद को पहले नंबर पर लाने के प्रयास रहेंगे। उन्होंने सभी विद्यार्थियों और शिक्षकों को बधाई दी।

----------------

हरियाणा में तीसरे नंबर पर रहा गीता विद्या मंदिर स्कूल का रोहित

संवाद सूत्र, उचाना : उचाना मंडी के सबसे पुराने स्कूल गीता विद्या मंदिर के छात्र रोहित ने 498 अंक प्राप्त करके हरियाणा में तीसरा स्थान प्राप्त किया। स्कूल प्राचार्य सविता सिगला व स्टाफ ने रोहित को सम्मानित किया। प्राचार्य सविता सिगला ने बताया कि 12 साल से उनके कार्यकाल में बेहतर परिणाम आ रहा है। रोहित ने तीसरे नंबर पर रहकर स्कूल का नाम चमकाया है। उनके अलावा 69 विद्यार्थियों ने मेरिट सूची में नाम दर्ज करवाया। 40 विद्यार्थियों के 90 प्रतिशत से अधिक अंक हैं। स्कूल प्रबंधन कमेटी के कार्यकारी प्रधान सुरेंद्र जैन, सचिव आरके गोयल, नरेंद्र गोयल, मदन बड़ौदा का पूरा सहयोग रहता है। तीन बार बेहतर परीक्षा परिणाम में सीएम से अवार्ड स्कूल को मिल चुका है। रोहित मूल रूप से हिसार के गैबीपुर गांव का रहने वाला है। फिलहाल वह उचाना मंडी में ताऊ वेदप्रकाश के पास रहता है। पवन के पिता की गांव में खाद, बीज की दुकान है और मां संतोष गृहणी है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.