जींद में किसानों ने बनाया धरने पर पक्का मोर्चा

किसानों का धरना खटकड़ टोल पर लगातार जारी है। किसानों द्वारा यहां पर लोहे की टिन की चादर के साथ पक्का मोर्चा बना लिया है।

JagranTue, 22 Jun 2021 09:45 AM (IST)
जींद में किसानों ने बनाया धरने पर पक्का मोर्चा

उचाना : किसानों का धरना खटकड़ टोल पर लगातार जारी है। किसानों द्वारा यहां पर लोहे की टिन की चादर के साथ पक्का मोर्चा बना लिया है। इस बार जमीन में कई-कई फुट गहरे पाइप दबाए गए हैं, ताकि तूफान आने पर शेड न टूटे। धरने की अध्यक्षता रामचंद्र बरसोला ने की। सांकेतिक भूख हड़ताल पर मुकेश देवी खटकड़, बोबली खटकड़, अनीता देवी खटकड़, राजबाला, राजबाला बड़ौदा रहे। सतबीर बरसोला ने कहा कि किसानों के धरने पर जो शेड था, वह कई बार तूफान के चलते क्षतिग्रस्त हो चुका है। इस बार धरना स्थल पर पक्का मोर्चा लोहे की टिन के साथ बनाया गया है। तूफान, आंधी, बारिश, गर्मी, सर्दी किसानों के हौसलों को नहीं तोड़ सकती। किसानों के धरने पर भीड़ निरंतर बढ़ रही है।

किसानों को बदनाम करने को सरकार अपना रही ओछे हथकंडे : मास्टर सतबीर

संवाद सूत्र, नरवाना : कृषि सुधार कानूनों के विरोध में 179वें दिन भी संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर बदोवाल टोल प्लाजा पर किसानों का धरना जारी रहा। सोमवार को धरने की अध्यक्षता जसवंत ने की। अनंतराम, जंगशेर, राजपाल, जसवंत, प्यारेलाल क्रमिक अनशन पर बैठे और अनेक गांव के किसान धरने में शामिल हुए।

मंच संचालन डॉ. रामचंद्र दनोदा ने किया। जयबीर दनोदा ने अपनी रागनी से लोगों का मन मोह लिया। मास्टर सतबीर ने कहा कि सरकार किसानों को बदनाम करने के लिए ओछे हथकंडे अपना रही है। भाजपा और आरएसएस का एजेंडा है कि जनता जितनी गरीब होगी, राज उतना ही लंबा चलेगा।

शीशपाल गुलाडी ने कहा कि हमें भाजपा औऱ आरएसएस के लोग बार्डर पर सरकार के इशारे पर कुटिल चालों व नापाक इरादों के साथ अपनी गतिविधियों को बढ़ाने में लगे हैं। जिन से सावधान रहने की जरूरत है। इस मौके पर पिरथी सिंह, अजमेर, ओमप्रकाश, मेवा सिंह, नरेंद्र, भाली राम, सतबीर, नरसी, संतोष, गुड्डी, नीलम, डिपल, भतेरी, रीना मौजूद रहे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.