लोहा गर्म है, चोट मारने की जरूरत : अभय चौटाला

बदोवाला प्लाजा पर 23वें दिन धरने पर इनेलो के राष्ट्रीय महासचिव व ऐलनाबाद से विधायक अभय चौटाला किसानों को समर्थन देने पहुंचे।

JagranSun, 17 Jan 2021 08:12 AM (IST)
लोहा गर्म है, चोट मारने की जरूरत : अभय चौटाला

संवाद सूत्र, नरवाना : बदोवाला प्लाजा पर 23वें दिन धरने पर इनेलो के राष्ट्रीय महासचिव व ऐलनाबाद से विधायक अभय चौटाला किसानों को समर्थन देने पहुंचे। अपने संबोधन में अभय चौटाला ने कहा हर घर से एक व्यक्ति को दिल्ली बार्डर पर बड़ी संख्या में जाना चाहिए। जिसके बाद सरकार को 100 फीसदी तीनों कृषि कानूनों पर विचार करना होगा। उन्होंने कहा कि हैरानी की बात है कि जब कोई व्यक्ति छोटी-सी गलती करता है, तो सरकार में बैठे लोग कानूनी कारवाई करते हैं, लेकिन जब सरकार का मुखिया गलत काम कर बैठें, उसके विरुद्ध कौन कानूनी कारवाई करेगा। उन्होंने कहा कि तीनों कृषि कानून लागू करना प्रधानमंत्री की सोच नहीं हैं। बल्कि ये अंबानी, अडानी के लिए कानून बनाये गये हैं। कोरोना काल में बड़ी-बड़ी फैक्ट्रियां बंद हो गई थी और करोड़ों रुपये कमाये हुए खत्म हो गये थे। जिसके बाद अंबानी, अडानी ने फैसला लिया कि फैक्ट्रियां बंद हो सकती हैं, लेकिन खेतीबाड़ी कभी बंद नहीं हो सकती। जिससे तीन कृषि कानून बनाने का काम किया। इसलिए सभी किसान मिलकर निर्णय लेकर इकट्ठा होकर लड़ाई लड़ने का काम करें। उन्होंने सत्ता में हो या विपक्ष में हमेशा किसान के हित में आवाज उठाई है। उन्होंने कहा कि विधायक का पद उनके लिए कोई मायना नहीं रखता। अब लोहा गर्म है जिसे चोट मारने की जरूरत है। अब नहीं तो कभी नहीं होगा। इसके लिए अधिक से अधिक महिला व पुरुष 26 जनवरी से पहले-पहले दिल्ली पहुंचे। इस अवसर पर मा रिसालसिंह, डॉ बलवंत, धर्मपाल चहल, मनजीत, सतबीर खरल आदि ने भी अपने विचार व्यक्त किए। धरने में विशेष बात यह रही कि धरना स्थल पर डॉ योगेश जाखड़ व परवाज गोरा की टीम द्वारा निश्शुल्क मेडिकल जांच कैंप लगाया गया, जिसमें लोगों ने अपना स्वास्थ्य संबंधी चेकअप करवाया।

मजदूरों को साथ जोड़ना समय की मांग

धरने की अध्यक्षता पूर्व सरपंच पिरथी सिंह ने की, तो मंच संचालन होशियार सिंह व रामचन्द्र दनौदा ने किया। धरने में गांव फरैण कलां, फरैण खुर्द, भिखेवाला, हमीरगढ़, खरल, रसीदां, हथो, बिधराना, नरवाना तथा आसपास के गांवों से महिलाएं व पुरुष काफी मात्रा में पहुंचे। अखिल भारतीय किसान सभा के जिला सचिव चांद बहादुर ने आए हुए लोगों का हौंसला बढ़ाते हुए कहा कि इस बेमिसाल आंदोलन में हरियाणा की जनता दिल खोलकर हर संभव मदद कर रही है। यह किसानों का एक ऐतिहासिक आंदोलन है। आए दिन आंदोलन में संख्या बढ़ रही है, जिससे किसानों की जीत निश्चित है। हम भी अपनी संख्या बढ़ाते हुए मजदूरों को भी आंदोलन में साथ जोड़ें, जो समय की मांग है। कार्यक्रम में मुख्य रूप से रणधीर मोर, विजय खरल, सतबीर गुलाडी, बलराज दबलेन, सुनील बद्दोवाल, अशोक, प्यारेलाल, जगबीर, मनफूल आदि उपस्थित रहे।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.