बादली क्षेत्र में स्थापित होगी एंटी नारकोटिक सैल की यूनिट, एडीजीपी ने किया दौरा

- बादली में एंटी नारकोटिक सैल की यूनिट स्थापित करने व अन्य आवश्यक कार्रवाई करने के संबंध में दिए आवश्यक दिशा निर्देश

JagranWed, 01 Dec 2021 07:25 PM (IST)
बादली क्षेत्र में स्थापित होगी एंटी नारकोटिक सैल की यूनिट, एडीजीपी ने किया दौरा

संवाद सूत्र, बादली : क्षेत्र में नशा की समस्या का जड़ मूल से निदान करने को लेकर स्थानीय पुलिस द्वारा नशा तस्करों के खिलाफ गंभीरता से कार्रवाई करने के संबंध में हर संभव कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। वहीं नशा के आदी हो चुके युवाओं का पता लगा करके उन्हें नशा छोड़ने के प्रति जागरूक करने की मुहिम भी चलाई जाएगी। क्षेत्र के युवाओं को विशेष रूप से नशा छोड़ने के प्रति जागरूक करने के लिए खेलकूद प्रतियोगिताओं का भी आयोजन किया जाएगा। बुधवार को विशेष रूप से बादली पहुंचे रोहतक रेंज के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक संदीप खिरवार ने क्षेत्र की व्यवस्थाओं का जायजा लेते हुए अधिकारियों को क्षेत्र में शांति व्यवस्था बनाए रखने तथा नशा की समस्या के समाधान के संबंध में आवश्यक दिशा निर्देश दिए। लघु सचिवालय बादली में आयोजित बैठक में एडीजीपी संदीप खिरवार की मुख्य मौजूदगी में पुलिस अधीक्षक झज्जर वसीम अकरम, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक झज्जर विक्रांत भूषण, सहायक पुलिस अधीक्षक बादली अमित यशवर्धन, डीएसपी झज्जर राहुल देव, एंटी नारकोटिक सैल झज्जर के प्रभारी निरीक्षक सुनील कुमार, थाना प्रबंधक बादली निरीक्षक जसबीर सिंह व ड्रग कंट्रोल बोर्ड के अधिकारी मौजूद रहे।

उन्होंने अधिकारियों को बादली क्षेत्र विशेषकर दिल्ली के आसपास के एरिया में नशा तस्करी के अवैध धंधे पर कड़ाई से अंकुश लगाने तथा नशा की चपेट में आ चुके युवाओं को नशा छोड़ने के प्रति जागरूक करने के संबंध में जरूरी दिशा निर्देश दिए। बैठक के बाद एडीजीपी ने थाना बादली का औपचारिक निरीक्षण भी किया। नशा तस्करी रोकने के लिए एंटी नारकोटिक सैल की यूनिट बादली में ही स्थापित की जा रही है। एंटी नारकोटिक सैल की टीम व थाना बादली की टीम द्वारा नशा तस्करों की धरपकड़ के लिए क्षेत्र में चप्पे-चप्पे पर निगरानी रखने के लिए गश्त व अन्य हर संभव कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। वही नशे की चपेट में आ चुके लोगों का उपचार व मार्गदर्शन के लिए बादली में ही सिविल प्रशासन की मदद से नशा मुक्ति केंद्र स्थापित करने के प्रयास किए जाएंगे। पुलिस अधीक्षक वसीम अकरम ने कहा कि नशीले पदार्थों की तस्करी में लिप्त दोषियों की धरपकड़ के लिए स्थानीय पुलिस द्वारा सख्ती से अभियान चलाया गया है। अभियान के तहत नशीली दवाओं के उपयोग को रोकने के लिए ड्रग कंट्रोलर की मदद से दवाइयों की दुकानों पर भी छापेमारी कार्रवाई की जाएगी। नशे की चपेट में आ चुके युवाओं की पहचान करके उनके परिजनों से संपर्क करके नशा मुक्ति के लिए जागरूक किया जायेगा।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.