ढांसा बॉर्डर पर मनाई संत रविदास व शहीद चंद्र शेखर की जयंती

ढांसा बॉर्डर पर मनाई संत रविदास व शहीद चंद्र शेखर की जयंती

धरने की अध्यक्षता गुलिया खाप तीसा के प्रधान विनोद गुलिया ने की

JagranSun, 28 Feb 2021 08:10 AM (IST)

धरने की अध्यक्षता गुलिया खाप तीसा के प्रधान विनोद गुलिया ने की फोटो : 27 जेएचआर 29

संवाद सूत्र,बादली :

ढांसा बॉर्डर पर किसान आंदोलन के समर्थन में गुलिया खाप तीसा का धरना पिछले 81 दिनों से जारी है। धरने की अध्यक्षता गुलिया खाप तीसा के प्रधान विनोद गुलिया ने की। विनोद गुलिया ने सबसे पहले शहीद चंद्र शेखर आजाद व संत रविदास को श्रद्धांजलि दी। उन्होंने कहा कि संत रविदास ने कहा था कि हमें ऐसा राज चाहिए जहां सभी नागरिकों को समान अधिकार मिले, सभी को भर पेट खाना मिले। भक्ति काल के संतों ने देश में फैले अंधविश्वास के खिलाफ मुहिम चलाई थी। आज दोबरा इस अभियान को चलाने की जरूरत है। शहीद चंद्र शेखर के सपनों को पूरा करना प्रत्येक नागरिक का फर्ज है। यही इन शहीदों को सच्ची श्रद्धांजलि होगी।

धरने पर पहुंचे डा. अजय बलहारा, सरदार जगजीत सिंह राष्ट्रीय अध्यक्ष भारतीय किसान यूनियन, महम चोबीसी के पूर्व विधायक बाली पहलवान ने कहा कि आज दोबारा से संत रविदास व चंद्र शेखर के विचारों को जानने व उनको समझने की जरूरत है। धरने पर गांव बादली से ट्रैक्टरों का जत्था भी धरनास्थल पर पहुंचा। इस दौरान हिम्मल पहलवान, मोहिद्र गुलिया चेयरमैन स्पो‌र्ट्स क्लब, बेदपाल ठेकेदार, रामेश्वर, सतपाल ने कहा कि बादली तन-मन-धन से किसान आंदोलन के साथ है। धरने पर सरोज दुजाना व किरण बहराणा के नेतृत्व में मिड-डे-मील वर्कर, आशा वर्कर, ग्रामीण सफाई कर्मचारी भी पहुंचे। सरोज दुजाना ने कहा कि आज किसान मजदूर एकता दिवस मनाया जा रहा है। समाजसेवी मनोज कटारिया, डा. हेमचंद्र ने भी संत रवि दास व शहीद चंद्र शेखर को श्रद्धांजलि दी। धरने पर भारतीय किसान यूनियन दिल्ली के अध्यक्ष वीरेंद्र डागर, जय प्रकाश बेनीवाल अध्यक्ष अखिल भारतीय किसान सभा, मा. नफे सिंह प्रधान सतगमा सुरहा, धनखड़ खाप के प्रधान युद्धबीर धनखड़, अनार सिंह नंबरदार गांव डावला, कपूर सिंह गांव कुकडोला, डा. रामकुमार सचिव गुलिया खाप आदि उपस्थित रहे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.