नजफगढ़ से बाइक समेत गायब हुआ युवा, बहादुरगढ़ से परिवार के पास पहुंचा फोन, पैसे दे जाओ...अपना लड़का ले जाओ

युवक के गायब होने के मामले का 24 घंटों बाद वीरवार को बहादुरगढ़ में पटाक्षेप हुआ। जो युवक गायब था उस पर बाइक से चोट मारने का आरोप था। उसे कुछ अज्ञात लोगों ने दबाेच लिया। बाद में घर पर फोन करके हर्जाने के पैसे मांगे।

Manoj KumarThu, 02 Dec 2021 07:08 PM (IST)
नजफगढ़ में एक अपहरण का मामला सामने आया है, कहानी फिर अलग ही निकली

जागरण संवाददाता, बहादुरगढ़ : दिल्ली के नजफगढ़ से बुधवार की शाम बाइक समेत युवक के गायब होने के मामले का 24 घंटों बाद वीरवार को बहादुरगढ़ में पटाक्षेप हुआ। जो युवक गायब था, उस पर बाइक से चोट मारने का आरोप था। उसे कुछ अज्ञात लोगों ने दबाेच लिया। बाद में घर पर फोन करके हर्जाने के पैसे मांगे। स्वजनों को लगा उनके लड़के का अपहरण हो गया। इस सूचना पर बहादुरगढ़ पुलिस ने भी जांच की। युवक को बरामद कर स्वजनों को सौंपा गया। दरअसल, बुधवार की शाम को नजफगढ़ से गुलाब सिंह नाम का युवक बाइक लेकर घर से निकला था, मगर वापस नहीं लौटा।

इधर, वीरवार की सुबह उसके भाई सूरज के पास किसी ने फोन किया कि उसके भाई ने बाइक से उसे चोट मार दी है। इसलिए पैसे लेकर आ जाओ और अपने भाई को ले जाओ। यह सुनते ही सूरज के साथ उसका मौसा रघुनाथ व अन्य स्वजन दौड़ पड़े। उन्होंने पुलिस को भी सूचना नहीं दी। बार-बार उस फोन नंबर पर बात करते रहे। फोन करने वाला कभी तो उनको टोल टैक्स के पास बुलाता कभी कहीं, कभी कहीं। कभी पेटीएम से पैसे भेजने के लिए कहता। शुरूआत में 20 हजार रुपये मांगे। फिर बढ़ा दिए। सूरज के भाई गुलाब को रात भर दबोचे रखा। उससे बात करवाने की बात कही तो उसकी वीडियो काल करवाई।

इस तरह से फोन पर बात करते और लोकेशन लेते हुए गुलाब के स्वजन बहादुरगढ़ के मेन बाजार में मजीद मुहल्ला में पहुंच गए। यहां पर वह युवक मिला जो उन्हें फोन कर रहा था। उसके पास गुलाब की बाइक तो मिली, मगर गुलाब नहीं मिला। यहां भीड़ जुटी तो पुलिस को फोन कर दिया गया। शहर थाना से टीम पहुंची। फोन करने वाले युवक को थाने ले आई। उसके पैर में पट्टी बंधी थी। पुलिस की पूछताछ में वह युवक लापता गुलाब के बारे में कभी तो कहता रहा कि वह सीआइए के पास है। कभी कहीं बताता रहा।

आखिरकार शाम को करीब पांच बजे गुलाब को एक शख्स थाने के पास लेकर आया और छोड़ गया। उसके मिलने के बाद परिवार के जान में जान आई। इधर, शहर थाना प्रभारी विजय कुमार ने बताया कि गुलाब नाम को जो युवक है, वह दिमागी तौर पर कुछ अस्वस्थ है। वह बाइक लेकर निकला तो रास्ते में तेल खत्म हो गया। उसने बहादुरगढ़ के उक्त युवक से तेल डलवाने के लिए कहा।

उसने 300 रुपये का तेल डलवाने के लिए कहा तो उसने डलवा दिया। आरोप है कि बाद में गुलाब ने बाइक से बहादुरगढ़ के युवक को टक्कर मार दी। इनका तेल के पैसे और चोट के इलाज के खर्च को लेकर झगड़ा था। युवक आ गया और उसे स्वजनों को सौंप दिया। इसमें कोई कानूनी कार्रवाई नहीं करवाई गई है। दूसरी ओर इसमें सवाल यह है कि नजफगढ़ के युवक को रात भर कहां पर दबोचा रखा गया। बार-बार फोन करके घर वालों से इतने पैसे क्यों मागे जा रहे थे। पुलिस द्वारा फोन करने वाले युवक को थाने लाए जाने के कई देर बाद युवक को कौन शख्स कहां से लेकर आया।

-- -- -- -- -- -- -- -- -- -- --

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.