Winter Season: सर्दियों में हादसों में कमी लाने के लिए पुलिस की अनुठी पहल, किए जाएगें ये उपाय

सर्दी के मौसम में धुंध एवं कोहरे के कारण सड़क दुर्घटनाएं अकसर बढ जाती है ऐसे मे सड़कों को सुरक्षित बनाने के लिये यातायात नियमों का सख्ती से पालना सुनिश्चित करवाएं। उन्होंने बताया की ओवर स्पीड के कारण लगभग 70 प्रतिशत दुर्घटनाएं घटित होती है।

Naveen DalalThu, 02 Dec 2021 02:27 PM (IST)
हादसों में कमी लाने के लिए वाहनों पर लगाएं जाएगें रिफ्लेक्टर।

हिसार, जागरण संवाददाता। हिसार मंडल के आइजी राकेश कुमार आर्य ने हिसार मंडल में सड़कों को सुरक्षित बनाने की दिशा में मंडल के पुलिस अधीक्षकों द्वारा किए जा रहे प्रयासों की समीक्षा की। इस वर्ष के दौरान अब तक हिसार मंडल के सिरसा में सड़क दुर्घटनाओं में पिछले वर्ष की अपेक्षा 12 प्रतिशत की कमी दर्ज की गई। वहीं मंडल के अन्य जिलों में लगभग 10 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। समीक्षा के बाद उन्होंने पांचो जिलों के पुलिस अधीक्षकों को इस दिशा में विशेष ध्यान देने को कहा व ड्रंकन ड्राइविंग व ओवर स्पीड के खिलाफ व्यापक मुहिम चलाने के निर्देश दिये है।

ड्रंकन ड्राइविंग पर अंकुश लगाने के लिए चलाया जाएगा अभियान 

उन्होंने कहा कि सर्दी के मौसम में धुंध एवं कोहरे के कारण सड़क दुर्घटनाएं अकसर बढ जाती है, ऐसे मे सड़कों को सुरक्षित बनाने के लिये यातायात नियमों का सख्ती से पालना सुनिश्चित करवाएं। उन्होंने बताया की ओवर स्पीड के कारण लगभग 70 प्रतिशत दुर्घटनाएं घटित होती है व लगभग 65 प्रतिशत मौतें होती है। उन्होंने पुलिस अधीक्षकों को ओवर स्पीड और ड्रंकन ड्राइविंग पर अंकुश लगाने के लिए और इस दिशा में काम करने वाली टीमों को प्रभावी बनाने के लिए उन्हें गति मापक एवं श्वास विश्लेषक यंत्र उपलब्ध करवाने को कहा है। उन्होंने जिले की सीमाओं में राजमार्गो और स्थानीय सड़कों को अवरोंधो से मुक्त करवाने के लिए संबंधित विभागों से सहयोग लेकर अवरोधों से मुक्त कराए, सड़कों के किनारे अवरोध धुंध और कोहरे में दिखाई नही पड़ते और दुर्घटनाओं का कारण बनते है।

सड़कों के किनारे पार्किंग करने वालों पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी

साथ ही सड़कों के किनारे ट्रैक्टर ट्राली, ट्राले अथवा अन्य वाहन पार्क न करवाने के आदेश दिए। होटल, ढाबों के आस-पास व मुख्य मार्गो पर सड़कों के किनारे लापरवाही से की गई पार्किंग धुंध और कोहरे में दुर्घटना के मुख्य कारक है, सड़कों के किनारे पार्किंग करने वालों पर कानूनी कार्रवाई की जाए। ड्राइवरों को वाहनों पर रिफ्लेक्टर लगवाने बारे प्रेरित करने को कहा, बताया कि वाहन पर अगर रिफ्लेक्टर लगा है तो कोहरे में दिखाई दे जाता है। जिसकी वजह से हादसे की संभावना कम रहती है। सर्दी के मौसम मे मुख्य मार्गो पर गश्त बढाने के भी निर्देश दिए है। ड्रिंक करके ड्राइव करने पर 2 वर्ष तक की कारावास एवं जुर्माना की सजा हो सकती है। ड्राइविंग लाइसेंस रद्द किया जा सकता है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.