हिसार में सीएम मनोहर के कार्यक्रम में हिंसा का मामला, 26 नामजद सहित 350 किसानों पर दर्ज केस खारिज

16 मई का मामला। हिसार में 500 बेड के अस्‍थायी कोविड अस्‍पताल का उद्घाटन करने सीएम सीएम मनोहर लाल पहुंचे थे। इसकी जानकारी मिलने पर विरोध कर रहे आंदोलनकारी उग्र हो गए थे। 350 से ज्यादा किसानों पर केस दर्ज किए गए थे।

Umesh KdhyaniFri, 23 Jul 2021 05:54 PM (IST)
पुलिस ने हिसार कोर्ट में क्लोजर रिपोर्ट पेश की। कोर्ट ने इसे स्वीकृत कर लिया है।

जागरण संवाददाता, हिसार। मुख्यमंत्री के कार्यक्रम के दौरान किसानों और पुलिस के बीच हुई हिंसक झड़प के मामले में 26 नामजद सहित 350 किसानों पर दर्ज हुए केसों को सीजेएम शीफा की कोर्ट ने खारिज कर दिया है। पुलिस की तरफ से हिसार कोर्ट में क्लोजर रिपोर्ट पेश की गई थी जिसे कोर्ट ने मंजूर कर लिया है। इसके बाद किसानों पर दर्ज केसों को खारिज कर दिया है।

केस खारिज होने के बाद डीसी ऑफिस से किसानाें के पास केस खारिज होने के संबंध में जानकारी गई। इसके बाद 15 सदस्यीय किसान कमेटी ने डीसी से मुलाकात भी की। भाकियू के महासचिव दिलबाग सिंह हुड्डा ने बताया कि 16 मई को जो किसानों केस दर्ज हुए थे वह खारिज हो गए हैं। डीसी ने कहा है कि वह स्टेट्स रिपोर्ट ले सकते हैं। हालांकि रिपोर्ट अभी हमने ली है। मगर हमने अपने स्तर पर पता किया है कि कोर्ट ने केस खारिज कर दिए हैं। इसके लिए वह प्रशासन का आभार व्यक्त करते हैं। 

16 मई को हुई थी हिंसक झड़प

ज्ञात हो कि 16 मई को चौधरी देवीलाल संजीवनी कोविड अस्पताल के उद्घाटन के दौरान पुलिस और किसानों में हिंसक झड़प हो गई थी। इस मामले में किसानों की ओर से पत्थरबाजी हुई। इस पर पुलिस ने लाठीचार्ज किया था। इस झड़प में कई किसान और 20 पुलिस कर्मी घायल हो गए थे, जिसमें महिला पुलिस भी थी। पुलिस ने मामले में कार्रवाई करते हुए 26 किसानों को वीडियो फुटेज के आधार पर नामजद किया था और 350 अज्ञात पर केस दर्ज किया था।

केस रद करवाने को किसानों ने किया था प्रदर्शन

पुलिस ने धारा 307 सहित कई संगीन धाराओं में केस दर्ज किया था। जब किसानों को केस दर्ज होने की जानकारी मिली तो हिसार में राकेश टिकैत के नेतृत्व में किसानों ने बड़ा प्रदर्शन किया था। किसानों की भीड़ देख प्रशासन ने बातचीत का न्योता दिया, जिसमें किसानों ने केस खारिज करने की मांग रखी थी जिसे प्रशासन ने मान लिया था और एक माह में केस रद करने की बात कही थी। इस मामले में पुलिस की ओर से कोर्ट में अाज शुक्रवार को कलोजर रिपोर्ट पेश की गई। कोर्ट ने पुलिस की क्लोजर रिपोर्ट को स्वीकृत कर लिया। 

पुलिस ने जुटाए थे सुबूत

हिंसा के बाद अर्बन एस्टेट थाना पुलिस ने केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी थी। इस मामले में पुलिस ने कई वीडियो फुटेज जुटाए थे। जिसके आधार पर 26 उपद्रवियों को नामजद किया गया था और 350 अज्ञात पर केस दर्ज किया गया था। इस मामले में पुलिस ने आप नेता मनोज राठी, सोमबीर, सुरेंद्र, दिलबाग हुड्डा, कुलदीप सहरावत, संदीप सिवाच, बलवान सिंह, संदीप जांगड़ा, श्रीकृष्ण, सोमवीर, नसीब, राजू भगत, श्रद्धानंद, कैलाश मलिक, दशरथ, अजीत, रोहताश मलिक, रमन नैन, प्रदीप, राजेश कुमार, सुमन हुड्डा, अनू सुरा, सतबीर पुनिया, सुखबीर सिंह को नामदज किया था। पुलिस ने धारा 109, 147, 148, 149, 186, 188, 283, 307, 332, 353, 427 पीडीपीपी एक्ट के तहत केस दर्ज किया था। 

हिसार की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.