top menutop menutop menu

सीएससी केंद्रों से डिजिटल हुए ग्रामीण, शहर की भागदौड़ हुई कम

संवाद सहयोगी, बालसमंद : सरकार द्वारा प्रदेशभर में खोले गए सीएससी सेंटर के माध्यम से सरकार ने डिजिटल इंडिया की तरफ कदम बढ़ाया है। सरकार ने आनलाइन टेक्नोलॉजी के माध्यम से भी विकास कार्यों को आगे बढ़ाने का काम किया है। प्रदेशभर में खोले गए सीएससी और सरल केंद्र के माध्यम से आमजन छह सौ से अधिक सेवाएं घर बैठे ले सकता है।

हर कार्य सीएससी सेंटर पर होने के कारण आमजन को सरकारी कार्यालयों में चक्कर नहीं लगाने पड़ते। जमीनी स्तर पर सेवाएं मिलने के कारण एक तरफ प्रक्रिया आसान हुई है तो कार्य भी तय समय सीमा में हो रहा है। केन्द्रों द्वारा डिजिटल प्रमाण पत्र, बीमा, डिजिटल बैंकिग, पासपोर्ट, टेलीमेडिसिन, पेंशन, डिजिटल साक्षरता आदि सेवाएं उपलब्ध कराई जा रही हैं, जिसका ग्रामीणजनों को सीधा लाभ मिल रहा है।

---------------

युवाओं को मिला रोजगार

प्रदेशभर में हजारों सीएससी सेंटर सरकार द्वारा खोले गए हैं। इन सीएससी सेंटरों पर पढ़े लिखे जानकर युवा कार्य करते हैं। सीएससी सेंटर के माध्यम से युवा आत्मनिर्भर हुआ है और अपना रोजगार चला रहा है।सीएससी केन्द्र संचालक आमजन को एक ही छत के नीचे सरकारी और गैर सरकारी सुविधाएं उपलब्ध करा रहे हैं। ग्रामीण सीएससी सेंटर से सुविधाएं प्राप्त कर रहे हैं।

-----------------

ग्रामीण इन सेवाओं का ले सकते हैं लाभ

कॉमन सर्विस सेंटर जिला प्रबंधक राकेश नेहरा ने बताया कि केन्द्रों आमजन जाति, आय, रिहायशी प्रमाण पत्र, राशन कार्ड, बुढ़ापा, विधवा सहित सभी प्रकार की पेंशन, प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना, ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान, टेली-लॉ, एलईडी बल्ब निर्माण, सरकारी परीक्षा आदि योजनाओं का सीधा सा लाभ ले सकते हैं।

--------------

सीएससी केंद्रों ने डिजिटल भारत मिशन में अपनी पहचान बनाई है। केंद्रों से हर प्रकार की ऑनलाइन सेवाएं ली जा सकती हैं। हिसार जिले ने राज्य और केंद्र सरकार की काफी सेवाओं में उत्कृष्ट प्रदर्शन सीएससी संचालकों की बदौलत किया है।

- एमपी कुलश्रेष्ठ, जिला सूचना एवं विज्ञान अधिकारी, हिसार

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.