प्लाट पर कब्जे के विवाद को लेकर स्कार्पियो सवार लोगों ने चलाई गोलियां, एक घायल पुलिस ने सिसाय बोलान के दो लोगों को नामजद करते हुए किया केस दर्ज

प्लाट पर कथित कब्जे के विवाद को लेकर ढाणीगारण से पंघाल लिक मार्ग पर शुक्रवार रात स्कार्पियो में सवार लोगों ने विपरीत दिशा से आ रही एक कार में पहले टक्कर मारी। इसके बाद कार सवारों पर फायरिग कर दी।

JagranPublish:Sat, 27 Nov 2021 07:40 PM (IST) Updated:Sat, 27 Nov 2021 07:40 PM (IST)
प्लाट पर कब्जे के विवाद को लेकर स्कार्पियो सवार लोगों ने चलाई गोलियां, एक घायल
पुलिस ने सिसाय बोलान के दो लोगों को नामजद करते हुए किया केस दर्ज
प्लाट पर कब्जे के विवाद को लेकर स्कार्पियो सवार लोगों ने चलाई गोलियां, एक घायल पुलिस ने सिसाय बोलान के दो लोगों को नामजद करते हुए किया केस दर्ज

संवाद सहयोगी, बरवाला : प्लाट पर कथित कब्जे के विवाद को लेकर ढाणीगारण से पंघाल लिक मार्ग पर शुक्रवार रात स्कार्पियो में सवार लोगों ने विपरीत दिशा से आ रही एक कार में पहले टक्कर मारी। इसके बाद कार सवारों पर फायरिग कर दी। इस घटना में पंघाल गांव निवासी सुनील के कंधे पर गोली लगी जो आर पार हो गई। जबकि कार चला रहे प्रदीप उर्फ दीपू ने कूद सरसों के खेत में छिपकर अपनी जान बचाई। घायल सुनील को पहले बरवाला के सरकारी अस्पताल में ले जाया गया। इसके बाद उसे उपचार के लिए बरवाला के एक निजी अस्पताल में दाखिल करवाया गया। जहां पर उसकी हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है। बताया जा रहा है कि घटना के दौरान 5-6 राउंड फायर किए गए। पुलिस को जब घटना की सूचना मिली तो पुलिस भी तुरंत मौके पर पहुंची। थाना प्रभारी इंस्पेक्टर सुखजीत सिंह, डीएसपी बरवाला रोहतास सिहाग व सीआइए की टीम भी मौके पर पहुंची। इस बीच फायरिग करने वाले अंधेरे का लाभ उठाकर पैदल ही भाग गए। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर कार व स्कॉर्पियो गाड़ी को अपने कब्जे में लिया। पुलिस ने इस संदर्भ में पंघाल गांव निवासी प्रदीप उर्फ दीपक दीपू के बयान पर सुरेंद्र उर्फ मीनू तथा सुरेंद्र उर्फ झंडा दोनों ही निवासी सिसाय बलान के अलावा उनके चार पांच अन्य साथियों के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज किया है। प्रदीप ने पुलिस को दर्ज कराए केस में बताया कि वह तथा उसका दोस्त सुनील उर्फ काला निवासी पंघाल दोनों अपने बरवाला ठेके से ढाणीगारण होते हुए सुनील की गाड़ी में सवार होकर पंघाल घर जा रहे थे। जब वह ढाणी गांव से बाहर की फिरनी से गांव की तरफ जा रहे थे तो सामने से एक सफेद स्कॉर्पियो गाड़ी ने उनकी गाड़ी में सामने से टक्कर मारी तथा दो आदमी जिनके नाम सुरेंद्र झंडा तथा सुरेंद्र मीनू है वह गोली चलाते हुए स्कॉर्पियो गाड़ी से नीचे उतरे। वह गाड़ी को बैक करने लगा। परंतु उन्होंने उसके बाद दोबारा टक्कर मारी। इस कारण दोनों गाड़ियां सड़क से नीचे उतर गई। प्रदीप के अनुसार इस दौरान वह अपनी गाड़ी की खिड़की से कूदकर सरसों के खेत में छिप गया तथा उसका दोस्त सुनील अपनी साइड की खिड़की खोल कर भाग गया। इसके बावजूद भी वह लोग उन पर फायर करते रहे। स्कॉर्पियो में इस दौरान पांच से छह व्यक्ति तथा उनके साथ बाइक पर भी दो व्यक्ति सवार थे। इस दौरान वह उनको ढूंढते भी रहे तथा गाड़ी वहां से स्टार्ट नहीं हुई। थोड़ी देर बाद आकर उन्होंने देखा तो स्कॉर्पियो गाड़ी वहीं खड़ी थी जिसके आगे का नंबर अलग और पीछे का नंबर प्लेट पर अलग नंबर था। जब उसने अपने सुनील से संपर्क किया तो पता चला कि उसकी बाईं बाजू में गोली लगी है। वह सरकारी अस्पताल बरवाला में दाखिल है। प्रदीप ने पुलिस को बताया कि 12 नवंबर को कृष्ण नगर हिसार कॉलोनी में प्लाट को लेकर छोटू बेनीवाल से झगड़ा चल रहा है। मीनू व सुरेंद्र झंडा यह सोचते हैं कि वह छोटू बेनीवाल के साथ है। इसी रंजिश के चलते उन्होंने उसे व उसके दोस्त पर जान से मारने की नियत से गोलियां चलाई। आरोपित लोग लोहे की रॉड भी लिए हुए थे। बरवाला के थाना प्रभारी इंस्पेक्टर सखुजीत सिंह ने बताया कि पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है और इस पूरे मामले की जांच की जा रही है।