सुनारिया जेल से चली थी दो एंबुलेंस, किसमें था गुरमीत राम रहीम, नहीं थी किसी को भी भनक

गुरमीत राम रहीम की सुरक्षा के लिए रोहतक पीजीआई में 24 घंटे करीब 60 जवान तैनात रहेंगे

सुनारिया से पीजीआइएमएस में लाने के लिए पुलिस ने अव्वल दर्जे की सुरक्षा तैयारियां की थी। पुलिस काफिले में दो एंबुलेंस चलाई गई थी ताकि यह भनक न लग सके कि रामरहीम किसमें सवार है। जेल के आसपास सभी कर्मचारियों के मोबाइल भी रखवा दिए थे

Manoj KumarThu, 13 May 2021 09:12 AM (IST)

रोहतक, जेएनएन। दुष्कर्म और हत्या के दोषी राम रहीम को जिला जेल सुनारिया से पीजीआइएमएस में लाने के लिए पुलिस ने अव्वल दर्जे की सुरक्षा तैयारियां की थी। पुलिस काफिले में दो एंबुलेंस चलाई गई थी ताकि यह भनक न लग सके कि रामरहीम किसमें सवार है। जेल के आसपास सभी कर्मचारियों के मोबाइल भी रखवा दिए थे ताकि पहले से कोई सूचना लीक न होने पाए। दो पुलिस उपाधीक्षक सज्जन कुमार और महेश कुमार के अलावा सीआइए, पुलिस लाइन से एक रिजर्व तथा शिवाजी कालोनी थाना की पुलिस की निगरानी में पीजीआइएमएस तक लाया गया।

उधर, पीजीआइ में पहले से कड़ी सुरक्षा की गई थी। जहां से उसकी एंट्री थी, वहां पर आवागमन बंद कर दिया गया था। पीजीआइ में एक पुलिस उपाधीक्षक के नेतृत्व में करीब 60 पुलिसकर्मियों की ड्यूटी 24 घंटे रहेगी। पीजीआइएमएस के वार्ड सात के सामने बने वीआईपी कक्ष में राम रहीम को रखा गया है।

दो सीसीटीवी लगाए व वीडियोग्राफर तैनात

राम रहीम के कक्ष द्वारा की निगरानी के लिए दो सीसीटीवी लगाए गए हैं, जो कि वाईफाई से लैस होंगे। इसके चलते पुलिस के आला अधिकारी वहां की गतिविधि को कार्यालय में बैठकर ही देख सकेंगे। वहीं दो वीडियोग्राफर की भी तैनाती पीजीआइएमएस के एमएस कार्यालय से वार्ड सात की ओर जाने वाली सीढ़ियों के पास रहेगी। जो कि दो शिफ्ट में यहां पर कार्य करेंगे।

12-12 घंटे ड्यूटी करेंगे डीएसपी

राम रहीम की सुरक्षा में तैनात डीएसपी हर 12 घंटे बाद बदल जाएंगे। बृहस्पतिवार की सुबह छह बजे तक डीएसपी श्मशेर दहिया सुरक्षा व्यवस्था का जिम्मा संभालेंगे। अब तक के तय शैड्यूल के अनुसार बृहस्पितवार को दिन में डीएसपी सज्जन सिंह रहेंगे तथा रात के समय डीएसपी मुख्यालय गोरखपाल राणा व्यवस्था संभालेंगे।

चार नाकों सहित पीजीआइएमएस में पुख्ता सुरक्षा व्यवस्था

पीजीआइएमएस में कैदी राम रहीम की सुरक्षा व्यवस्था को लेकर चार नाके लगाए गए हैं। हर नाके पर चार पुलिसकर्मियों की तैनाती रहेगी। ऑपरेशन थियेटर साइड कैंची गेट पर चार, प्रथम तल की सीढ़ियों पर चार, राम रहीम के कक्ष के पिछली तरफ चार, कक्ष की बालकनी में एक, कक्ष के गेट पर चार, दूसरे तल की सीढ़ितों पर दो, रूम डोर के साथ एक, ग्राउंड फ्लोर के लेक्चर थियेटर की साइड चार, ग्राउंड फ्लोर वार्ड एक की सीढ़ियों के सामने छह, वार्ड 12 की गैलरी की तरफ चार पुलिसकर्मी तैनात रहेंगे।

सुरक्षा घेरे में हुई राम रहीम एंट्री

सुनारियां जेल से कैदी राम रहीम को एंबुलेंस से लाया गया। उनकी एंबुलेंस के साथ तीन पुलिस की गाडि़यां व एक बस पीजीआइएमएस पहुंची। एमएस कार्यालय के बाहर पहुंचते ही तैनात पुलिसकर्मियों ने एंबुलेंस को घेर लिया। वहीं करीब दो मिनट के बाद एंबुलेंस से राम रहीम को उतार कर कड़ी सुरक्षा के बीच वार्ड सात के सामने बने उसके कमरे की ओर ले जाया गया। राम रहीम की एंबुलेंस पहुंचने के कुछ देर पहले ही चिकित्सकों व दूसरे लोगों की आवाजाही रोक दी गई थी।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.