Theft News: सरकारी अधिकारियों की नाक के नीचे से की जा रही बिजली चोरी, विभाग बना मूकदर्शक

हांसी में बिल्डिंग का निर्माण कार्य चलते करीब एक सप्ताह निकल गया है। यहां पर ठेकेदार द्वारा बी एंड आर विभाग से ही कुंडी लगाकर बिजली चोरी की जा रही है। जहां पर हर समय विभाग के अधिकारी और कर्मचारी मौजूद रहते हैं।

Naveen DalalPublish:Tue, 30 Nov 2021 11:26 AM (IST) Updated:Tue, 30 Nov 2021 11:26 AM (IST)
Theft News: सरकारी अधिकारियों की नाक के नीचे से की जा रही बिजली चोरी, विभाग बना मूकदर्शक
Theft News: सरकारी अधिकारियों की नाक के नीचे से की जा रही बिजली चोरी, विभाग बना मूकदर्शक

हांसी (हिसार), जागरण संवाददाता। बिजली चोरी रोकने के लिए विभाग की ओर से बड़े-बड़े दावे किए जा रहे हैं। विभाग के अनुसार बिजली चोरी के लिए स्पेशल टीमें बनाकर अभियान भी चलाएं जा रहे हैं। परंतु अब भी बिजली विभाग के नाक तले धड़ल्ले से बिजली चोरी की जा रही है। परंतु विभाग के अधिकारियों की तरफ से कोई कदम नहीं उठाए जा रहे हैं। हांसी में पीडब्ल्यूडी रेस्ट हाउस के लिए नई बिल्डिंग बनाई जा रही है। जहां पर इस बिल्डिंग का निर्माण किया जा रहा है, उसके सामने से गुजरने वाली सड़क से हर रोज बिजली विभाग के अधिकारी गुजरते हैं।

सरकारी विभाग में कुंडी लगा ठेकेदार बड़े आराम से कर रहा बिजली चोरी

बिल्डिंग का निर्माण कार्य चलते करीब एक सप्ताह निकल गया है। यहां पर ठेकेदार द्वारा बी एंड आर विभाग से ही कुंडी लगाकर बिजली चोरी की जा रही है। जहां पर हर समय विभाग के अधिकारी और कर्मचारी मौजूद रहते हैं, वहीं पर धड़ल्ले से सरकारी विभाग में कुंडी लगा ठेकेदार बड़े आराम से बिजली चोरी कर रहा है। परंतु इस पर कोई संज्ञान नहीं लिया जा रहा है। हांसी में रेस्ट हाउस की बिल्डिंग बनाने के लिए टेंडर अलॉट किया गया था। टेंडर अलॉट होने के बाद हांसी के विधायक द्वारा बिल्डिंग की आधारशिला रखी गई थी। बिजली विभाग के अनुसार यदि कोई कंस्ट्रक्शन का कार्य करता है तो उसे बिजली के लिए विभाग से टेंपरेरी मीटर के लिए अप्लाई करना होता है। ताकि वह बिजली का उपयोग कर सके। परंतु यहां पर तो ठेकेदार द्वारा ऐसी कोई जरूरत नहीं समझी गई। ठेकेदार बड़े आराम से बी एंड आर विभाग को ही घाटा पहुंचाने में लगा हुआ है। ठेकेदार के आदमी बी एंड आर में लगे कनेक्शन से ही कुंडी लगाकर बिजली प्रयोग कर रहे हैं। यहीं नहीं अभी तक ठेकेदार द्वारा मीटर के लिए कोई आवेदन भी नहीं किया गया है। सारा दिन बीएंडआर विभाग की बिजली प्रयोग कर पानी की पूर्ति की जाती है। साथ ही कंस्ट्रक्शन में प्रयोग होने वाले उपकरण से विभाग को चूना लगाने में लगा हुआ है।

इस बारे ठेकेदार से की जाएगी बात : एसडीओ

बीएंडआर विभाग के एसडीओ रण सिंह से जब इस बारे बात की गई तो उन्होंने बताया कि मामला उनके संज्ञान में नहीं है। यदि ठेकेदार द्वारा विभाग की बिजली प्रयोग की जा रही है तो वे ठेकेदार को जल्द ही मीटर लगवाने के लिए कहेंगे।

मामला संज्ञान में आता है तो की जाएगी कार्रवाई: एसडीओ

बिजली विभाग के एसडीओ रणबीर ने बताया कि यदि कहीं भी कोई नया निर्माण कार्य किया जाता है तो उसके लिए ठेकेदार को टेम्परेरी मीटर लगवाना होता है। उन्होंने बताया कि यदि किसी विभाग में पहले से मीटर लगा हुआ है तो ठेकेदार उस मीटर से बिजली प्रयोग नहीं कर सकता। उन्होंने कहा कि यदि कोई ऐसा करता है तो वह बिजली चोरी की श्रेणी में आता है। यदि इस प्रकार का कोई भी मामला उनके सामने आता हैतो कार्रवाई की जाएगी।