Swachh Survekshan Survey 2022: शिकायतों के समाधान के साथ स्वच्छता एप स्वच्छ सर्वेक्षण में दिलाएगी टाप रैंकिंग

हरियाणा सरकार की ओर से बनाई गई स्वच्छ हरियाणा एप व दूसरी केंद्र सरकार की ओर से बनाई गई स्वच्छता एप। इन दोनों में से कोई भी एक एप शहर के लोगों की ओर से ज्यादा से ज्यादा संख्या में अपने मोबाइल पर डाउनलोड करना होगा।

Naveen DalalTue, 30 Nov 2021 02:11 PM (IST)
मोबाइल एप को डाउनलोड करके होगा शिकायतों निपटारा।

बहादुरगढ़, जागरण संवाददाता। स्वच्छता सर्वेक्षण 2022 चल रहा है। इस बार जनवरी की बजाय फरवरी 2022 में इस सर्वे का मूल्यांकन होगा। नगर परिषद की ओर से इस सर्वे में भी अव्वल स्थान पाने के लिए पूरी तैयारी की जा रही है। वर्ष 2021 के स्वच्छता सर्वेक्षण में बहादुरगढ़ को 120वां स्थान मिला है। यह पिछले पांच सालों में स्वच्छ श्रेणी की टाप रैंकिंग है। अब नगर परिषद के सामने इस रैंकिंग को बरकरार रखने व इससे बेहतर करके दिखाते हुए शहर को स्वच्छता की श्रेणी में टाप पर पहुंचाने की चुनौती है। इस दिशा में नप प्रशासन ने अपने कदम बढ़ा दिए हैं।

सर्वेक्षण के 7500 अंक, जिनमें सर्टिफिकेशन के 2250 अंकों में से 400 अंक दिलाएगी स्वच्छता एप

सर्विस लेवल प्रोग्रेस पर नप ने पूरा ध्यान दे रखा है। सिटी वाइस पर आमजन को सहयोग करना होगा। सर्टिफिकेशन की श्रेणी में ज्यादा से ज्यादा प्रमाण पत्र जुटाए जा रहे हैं। सर्टिफिकेशन की श्रेणी के अंक दिलाने में स्वच्छता एप भी काफी मददगार साबित होगी। सर्टिफिकेशन के 2250 अंकों में से 400 अंक इसी एप के ही हैं। इनमें दो एप हैं। हरियाणा सरकार की ओर से बनाई गई स्वच्छ हरियाणा एप व दूसरी केंद्र सरकार की ओर से बनाई गई स्वच्छता एप। इन दोनों में से कोई भी एक एप शहर के लोगों की ओर से ज्यादा से ज्यादा संख्या में अपने मोबाइल पर डाउनलोड करना होगा। नगर परिषद से संबंधित शहर में कोई समस्या है तो उसकी शिकायत इस एप के माध्यम से करनी होगी। इस एप पर आने वाली शिकायतों का नगर परिषद की ओर से निर्धारित अवधि में समाधान ज्यादा से ज्यादा अंक दिलाएगा।

एप पर की जा सकती हैं इस तरह की शिकायत

स्वच्छता एप व स्वच्छ हरियाणा एप पर नगर परिषद से संबंधित गली की सफाई, डस्टबिन की सफाई, सार्वजनिक शौचालय की सफाई, स्ट्रीट लाइट, रोड की सफाई, डोर टू डोर कूड़ा उठान, कूड़ा जलने आदि की कोई समस्या है तो उसकी शिकायत की जा सकती है।

हर रोज हो रहा पांच से दस शिकायतों का निपटान, यह है निर्धारित अवधि

स्वच्छ भारत मिशन के जिला संयोजक राजेश मलिक ने बताया कि स्ट्रीट लाइट से संबंधित शिकायत का निपटान 24 घंटे में, सफाई से संबंधित शिकायत सुबह से शाम पांच बजे के बीच आठ घंटे में दूर कर दी जाती हैं। राजेश मलिक ने बताया कि हर रोज पांच से 10 शिकायतों का निपटान निर्धारित में नगर परिषद की ओर से किया जा रहा है। ऐसे में शहर के सभी लोगों से अपील की जाती है कि वे अपने मोबाइल पर ये एप डाउनलोड जरूर करें।

ये हैं स्वच्छता सर्वेक्षण 2022 के अंक

श्रेणी अंक

सर्विस लेवल प्रोग्रेस 3000

सिटीजन वाइस 2250

सर्टिफिकेशन 2250

कुल 7500

स्वच्छता एप इस तरह दिलाएगी 400 नंबर:

श्रेणी अंक

एक्टिव यूजर 75

निर्धारित अवधि में शिकायतों का निपटान 100

खुले में शौच की शिकायतों का निपटान 75

घरों में स्वच्छता एप का रजिस्ट्रेशन 75

एप यूजर फीडबैक 75

मोबाइल पर एप डाउनलोड करके नप से संबंधित समस्याओं की करनी होगी शिकायत

स्वच्छता सर्वेक्षण शुरू हो चुका है। इस सर्वेक्षण में स्वच्छता एप का बहुत महत्व है। यह एप हमारे शहर को स्वच्छता रैंकिंग में नंबर दिलाने और शहर को स्वच्छ बनाने में सहयोग करेगी। शहरवासियों को ज्यादा से ज्यादा संख्या में इस एप को अपने मोबाइल पर डाउनलोड करके नप से संबंधित समस्याओं की शिकायत करनी है। इस बारे में लोगों को जागरूक रहना होगा, तभी शहर को स्वच्छता की रैंकिंग में टाप पर पहुंचा जा सकता है।

-- -- -संजय रोहिल्ला, कार्यकारी अधिकारी, नगर परिषद, बहादुरगढ़

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.