हिसार में गलत सैंपल भरने के मामले में हाइकोर्ट पहुंचे सस्पेंड एफएसओ, बोले-मुझ पर बनाया जा रहा दबाव

हिसार में गलत सैंपल भरने के मामले में सस्पेंड एफएसओ ने हाइकोर्ट का खटखटाया दरवाजा है। एफएसओ डा. अरविंद्रजीत सिंह ने कहा कि मुझ पर सैंपल बदलने का दबाव बनाया जा रहा था। सभी सबूतों के आधार पर दो सैंपल फेल मिलने पर जुर्माना लग चुका है।

Rajesh KumarWed, 24 Nov 2021 05:40 PM (IST)
हिसार के सस्पेंड एफएसओ डा. अरविंद्रजीत सिंह।

जागरण संवाददाता, हिसार। हिसार के नारनौंद क्षेत्र से मिठाई की दुकान से गलत सैंपल भरने के मामले में सस्पेंड एफएसओ (खाद्य सुरक्षा अधिकारी) डा. अरविंद्रजीत सिंह ने न्याय के लिए हाइकोर्ट का दरवाजा खटखटाया है। खाद्य सुरक्षा अधिकारी का कहना है कि मुझ पर सैंपल बदलने का दबाव बनाया जा रहा था, लेकिन सैंपल की रिपोर्ट लैब से ही आई है। इसमें हस्तक्षेप नहीं कर सकता। सभी सबूतों के आधार पर दो सैंपल फेल मिलने पर जुर्माना लग चुका है। अब अनसेफ मिले घी के सैंपल वाले मामले में अदालत में केस चल रहा है, जिसमें भी सजा व जुर्माना लगना बाकी है। इसी को लेकर मुद्दा बनाया हुआ है, क्योंकि यहीं बड़ा मामला है।

राजनीतिक दबाव बनाकर करवाया सस्पेंड

डा. अरविंद्रजीत का कहना है कि जब सैंपल बदलने से मना कर दिया तो उन्होंने राजनीतिक दबाव बनाकर सस्पेंड करवाया है। अगर हर किसी के साथ ऐसा होगा तो सैंपल कौन लेगा। इसलिए न्याय के लिए हाइकोर्ट का दरवाजा खटखटाया है। लैब की रिपोर्ट से लेकर सभी सबूत है। कोई सैंपल गलत भरा नहीं गया। सैंपल ठीक भरा था। 14 अक्तूबर को सस्पेंड किया था। उस समय दीपावली का सीजन था। साल 2020 में दीपावली पर दुकान से पनीर, घी, रसगुल्ला व मावा के अलग-अलग चार सैंपल भरे गए थे। कुछ दिन बाद इनकी रिपोर्ट आई, जिसमें तीन सैंपल फेल मिले थे। पनीर व मावा सब स्टैंडर्ड और घी अनसेफ मिला था। नियमानुसार मामले में कार्रवाही की गई थी। अगले साल 2022 में अनसेफ मिले घी के मामले में सुनवाई होनी है।

दीपावली पर होती मिठाइ की अधिक लागत

दीपावली पर ही हर बार मिठाइयों की अधिक लागत रहती है। कुछ लोग तो 10-10 दिन पहले ही मिठाइ बनाकर तैयार कर लेते है, जोकि गलत है। इन दिनों सैंपल लेना और खाद्य सुरक्षा विभाग का सतर्क रहना जरूरी है, ताकि आ्रमजन को मिलावटी, कमिकल वाली मिठाइ खाने से बचाया जा सके। इस साल भी दीपावली के आसपास 100 से अधिक सैंपल लिए गए थे। इनमें से 20 सैंपल फेल मिले है और कुछ सैंपल की रिपोर्ट आना बाकी है। अब विभाग पहले इनको नोटिस भेजेगा।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.