Suicide in GJU: पुलिस ने बायो एंड नैनो विभाग की लैब से कंप्यूटर सर्वर किया जब्त

जीजेयू हिसार में पीएचडी की छात्रा की आत्महत्या के मामले में पुलिस ने कंप्यूटर सर्वर जब्त कर लिया है। छात्रा के वीसी को भेजे गए ईमेल और प्रो. नमिता द्वारा प्रो. संदीप को दिए गए ईमेल के जवाब में कंप्यूटर सर्वर की बात सामने आई थी।

Umesh KdhyaniSat, 19 Jun 2021 03:29 PM (IST)
कहा जा रहा था इस कंप्यूटर सर्वर को छात्रा से जबरदस्ती लिया जा रहा था।

हिसार, जेएनएन। गुरु जंभेश्वर विश्वविद्यालय (जीजेयू) में पीएचडी छात्रा के सुसाइड मामले में डीआइजी कम एसपी बलवान सिंह राणा द्वारा गठित एसआइटी ने मामले की जांच करते हुए बायाे एंड नैनो विभाग की लैब से कंप्यूटर सर्वर को जब्त कर लिया है।

गौरतलब है छात्रा के सुसाइड मामले में इस कंप्यूटर सर्वर का विवाद भी सामने आया था। छात्रा के वीसी को भेजे गए ईमेल और प्रो. नमिता द्वारा प्रो. संदीप को दिए गए ईमेल के जवाब में कंप्यूटर सर्वर की बात सामने आई थी। कहा जा रहा था कि इस कंप्यूटर सर्वर को छात्रा से जबरदस्ती लिया जा रहा था। जबकि छात्रा ने कहा था कि इससे उसकी पीएचडी पूरी नहीं हो पाएगी और उसका करियर खराब हो जाएगा। पुलिस ने इस मामले में मृतका के पास से एक सुसाइड नोट भी बरामद किया था।

गौरतलब है कि जीजेयू में 17 मई को बायो एंड नैनो विभाग में एक पीएचडी छात्रा ने जहर निगल कर आत्महत्या कर ली थी। मामले में छात्रा के पिता ने पुलिस को विभाग के चेयरपर्सन के खिलाफ बयान दर्ज करवाए थे। मृतका के पिता ने बताया था कि उसकी बेटी पर विभाग का चेयरपर्सन प्रो. संदीप शारीरिक संबंध बनाने के लिए दबाव बनाता था और उसकी बेटी की गाइड प्रो. नमिता ने इस मामले में उनका साथ दिया। जिसके चलते उसकी बेटी ने जहर निगल आत्महत्या कर ली। पुलिस ने शिकायत पर धारा 306 के तहत केस दर्ज किया था।

अब प्रो. प्रवीन शर्मा को बायो एंड नैनो का कार्यभार सौंपा

जीजेयू में छात्रा के सुसाइड मामले में विवि प्रशासन की तरफ से बायो एंड नैनो विभाग के चेयरपर्सन का कार्यभार एन्वायरमेंटल विभाग के डा. प्रवीन शर्मा को दिया है। इससे पहले इस पद का कार्यभार प्रो. एनके बिश्नोई को दिया गया था। अब उनसे कार्यभार लेकर प्रो. प्रवीन शर्मा को दिया गया है। गौरतलब है कि हाल ही में शिक्षकों के एक गुट ने इस मामले में कुलपति से मुलाकात की थी, जिसके बाद विवि प्रशासन ने इस बारे में फैसला लिया है। प्रो. संदीप को इस मामले में जांच पूरी होने तक चेयरपर्सन पद से हटाया गया है।

राज्य महिला आयोग की चेयरपर्सन ने लिया था संज्ञान

मामले में राज्य महिला आयोग की चेयरपर्सन प्रीति भारद्वाज ने भी संज्ञान लिया था। उन्होंने एसपी और जीजेयू से मामले की स्टेट्स रिपोर्ट मांगी थी। जिसके बाद पुलिस ने रिपोर्ट भेजने के साथ एसआईटी का गठन किया था, जो इस मामले की जांच कर रही है। वहीं इस मामले में कुलपति ने भी पांच सदस्यीय कमेटी का गठन किया था। जो इस मामले की जांच कर रही है। वहीं विवि ने तीन सदस्यों की अलग कमेटी भी बनाई थी, जिन्होंने हाल ही में विवि प्रशासन को पीएचडी छात्रों को एक उचित माहौल देने के सुझावों की रिपोर्ट दी थी।

क्या कहते हैं कुलपति

जीजेयू के कुलपति प्रो. टंकेश्वर कुमार ने कहा कि बायो एंड नैनो विभाग के चेयरपर्सन का कार्यभार इनवायरमेंट विभाग के प्रो. प्रवीन शर्मा को सौंपा गया है। छात्रा के सुसाइड मामले में गठित कमेटी मामले की जांच कर रही है।

हिसार की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.