हलके की 36 बिरादरी का आशीर्वाद मेरे साथ: पंघाल

संवाद सहयोगी, हांसी : हलके के कांग्रेस प्रत्याशी ओमप्रकाश पंघाल ने कहा कि न तो मैं किसी जाति-पाति में विश्वास रखता हूं और न ही क्षेत्रवाद को बढ़ावा देता हूं। मैं औरों की तरह किसी जाति या क्षेत्र का होने का प्रचार करके अपनी राजनैतिक रोटियां नहीं सेंकना चाहता। हलके की 36 बिरादरी मेरा अपना समाज है और हलके का कोना-कोना मेरा क्षेत्र।

ओपी पंघाल गुरुवार को हलके गांव पुट्ठी मंगलखां, ढाणी गुजरान, ढाणी ठाकरिया, ढाणी राजू, ढाणी पुरिया, मोरपुरा, ढाणी सांकरी, हाजमपुर, ढाणी पीरवाली, ढाणी कुम्हारान, ढाणी पीरान, रिछपुरा, ढाणी कुंदनापुर, ढाणी केंदु व ढाणी शोभा में लोगों को संबोधित कर रहे थे। शहर में आयोजित कार्यक्रम में राजकुमार पंघाल, सुरेश, तेलूराम, मास्टर रामअवतार, जितेंद्र, राजकुमार शर्मा, संजीव कुमार, जगदीश यादव आदि प्राइवेट स्कूल संचालकों ने भी सामूहिक रूप से कांग्रेस उम्मीदवार ओपी पंघाल को समर्थन देने की घोषणा की। ओपी पंघाल ने कहा कि किसान परिवार से संबंध रखता हूं। ठगी, झूठ और फरेब से नफरत करता हूं। आप लोगों की सेवा करने का इरादा है। मेरे लायक कोई सेवा हो तो आधी रात को दरवाजा खटखटा लेना, तैयार मिलूंगा। इस अवसर पर उनके साथ दिलबाग सिंह हुड्डा, सुभाष बेरवाल चेयरमैन, कैलाश मंडावरिया, देसराज सरपंच, राजेंद्र ठाकुर, कृष्ण यादव चेयरमैन, राजेश यादव, पवन पिवाल, बारूराम मलिक उमरा, अशोक चौधरी, रणबीर हुड्डा, मंजीत चौधरी, भरत बामल, मास्टर परविद्र, पृथ्वी चैनत, अशोक सोरखी, सत्यनारायण पूर्व सरपंच, दीपक पंघाल, मांगेराम, राजपाल नुनाच, तनसुख शर्मा, बिल्लू जोगी, कमलेश हाजमपुर, रामनिवास कौशिक, नरेश जांगड़ा, मनोज जांगड़ा, सूरजमल, मनोज मेहंदा, सुनील जैन, शमशेर मलिक, संदीप मलिक, अनिल मलिक, आदि मौजूद थे।

1952 से 2019 तक इन राज्यों के विधानसभा चुनाव की हर जानकारी के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.