आंदोलन में किसानों को समर्थन देने लड्डू लेकर पहुंचे ओपी चौटाला, बोले- संघर्ष की जीत निश्चित

पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला ने आंदोलन के बीच बुधवार को सभा की और उन्हें लड्डू भेंट किए। चौटाला बोले कि वे यहां राजनीतिक भाषण देने नहीं आएं हैं बल्कि जीत की तरफ बढ़ते इस संघर्ष का हिस्सा बनने और इसी खुशी में मिष्ठान भेंट करने आए हैं।

Manoj KumarWed, 21 Jul 2021 05:05 PM (IST)
ओपी चौटाला और आंदोलनकारियों की सभा बाईपास पर खालसा एड द्वारा लगाए गए तंबू में हुई।

जागरण संवाददाता, बहादुरगढ़ : किसानों काे समर्थन देने पहुंचे इनेलो प्रमुख और पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला ने आंदोलन के बीच बुधवार को सभा की और उन्हें लड्डू भेंट किए। आंदोलन के मंचों से दूर तीसरी जगह इनेलाे की यह सभा हुई। इसमें कार्यकर्ताओं के साथ किसान भी शामिल हुए। चौटाला बोले कि वे यहां राजनीतिक भाषण देने नहीं आएं हैं बल्कि जीत की तरफ बढ़ते इस संघर्ष का हिस्सा बनने और इसी खुशी में मिष्ठान भेंट करने आए हैं। इनेलो की यह सभा बाईपास पर खालसा एड द्वारा लगाए गए तंबू में हुई। पहले सड़क के साथ पार्क में होनी थी, मगर वहां बरसाती पानी भर गया। खालसा एड के इस तंबू के लिए इनेलो ने ही मदद कर रखी है। ऐसे में किसान भी यहां सभा के लिए राजी थे।

पूर्व मुख्यमंत्री चौटाला जब पहुंचे तो किसान गुलदस्तों से उनके स्वागत के लिए आए। चौटाला ने किसानों में जोश भरने को पूर्व प्रधानमंत्री चरण सिंह की एक बात का हवाला देते हुए कहा कि वे सबसे पहले एक किसान हैं, बाकी सब बाद में। इसलिए इनेलो का हर कार्यकर्ता किसानों के साथ खड़ा है। चौटाला ने भाजपा सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि यह किसान विरोधी और पूंजीपतियों की सरकार है। आठ माह से अधिक समय हो गया है, लेकिन सरकार किसानों की आवाज सुनने को तैयार नहीं है। आंदोलन भी दिनोंदिन मजबूत हो रहा है इसलिए सरकार को तीनों कानूनों को रद करना पड़ेगा। यह लड़ाई केवल किसानों और मजदूरों की नहीं है बल्कि पूरे देश की है।

चौटाला ने कहा कि भाजपा सरकार किसानों का भला करने की बजाय जाति और धर्म के नाम पर बांट रही है। अगर उसे किसानों से थोड़ी भी हमदर्दी होती तो ये तीनों कानून बनाए ही नहीं जाते, लेकिन यह सरकार तो केवल पूंजीपतियों को फायदा पहुंचा रही है। सभा को इनेलो प्रदेशाध्यक्ष नफे सिंह राठी, महिला विंग की प्रधान महासचिव सुनैना चौटाला, पूर्व सांसद कैप्टन इंद्र सिंह, पूर्व विधायक बलवंत मायना, पूर्व विधायक नरेश शर्मा, पूर्व विधायक रामकंवार सैनी, आइएसओ के धर्मेंद्र हुड्डा, पंजाब से सोनिया मान, भाकियू जिला प्रधान सरदार गुरदेव सिंह, विनोद कंबोज ने भी संबोधित किया। मंच संचालन रामनिवास सैनी ने किया।

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.